नुकसानदायक ही नहीं बल्कि जानलेवा भी हो सकता है पेट का कैंसर, इन कारणों से हो सकते हैं शिकार

पेट के कैंसर के बारे में लोग को ज्यादा जानकारी ना होने के कारण यह समस्या बढ़ जाती है। अक्सर लोग इसे मामूली पेट दर्द समझ कर नजरअंदाज कर देते हैं।

Vishal Singh
कैंसरWritten by: Vishal SinghPublished at: Apr 19, 2013
नुकसानदायक ही नहीं बल्कि जानलेवा भी हो सकता है पेट का कैंसर, इन कारणों से हो सकते हैं शिकार

पेट के कैंसर (Stomach Cancer) को गैस्ट्रिक कैंसर भी कहा जाता है, इस प्रकार के कैंसर का निदान करना मुश्किल होता है। गेस्ट्रिक कैंसर का निदान इसलिए मुश्किल भरा होता है क्योंकि इसकी पहचान आमतौर पर नहीं हो पाती। जिसकी वजह से इसके इलाज में भी काफी मुश्किल होती है। जब तक पीड़ित इसकी पहचान कर पाता है तब तक ये काफी गंभीर रूप ले लेता है। 

पेट का कैंसर तब शुरू होता है जब आपके पेट की अंदरूनी परत में कैंसर कोशिकाएं बन जाती हैं। ये कोशिकाएं एक गांठ में विकसित हो सकती हैं। जिसे गैस्ट्रिक कैंसर भी कहा जाता है, यह बीमारी आमतौर पर कई सालों में धीरे-धीरे बढ़ती है और सामने आने तक काफी गंभीर बन जाती है। लेकिन वहीं, अगर आपको इसके लक्षण और जानकारी होगी तो आप इसे तुरंत पहचान कर इसका इलाज करवा सकते हैं। 

cancer

पेट के कैंसर के कारण (What Causes Stomach Cancer in hindi) 

  • धूम्रपान
  • अधिक वजन या मोटापा।
  • स्मोक्ड, अचार या नमकीन खाद्य पदार्थों में उच्च आहार
  • अल्सर के लिए पेट की सर्जरी
  • टाइप-ए रक्त
  • एपस्टीन-बार वायरस का संक्रमण
  • कोयला, धातु, लकड़ी या रबर उद्योगों में काम करना

इसे भी पढ़ें: ज्यादा थकावट और बाल झड़ना है कीमोथेरेपी के साइ़ड इफेक्ट्स, इस तरह करें इससे अपना बचाव

पेट के कैंसर के लक्षण ( Symptoms of Stomach Cancer) 

  • खट्टी डकार।
  • खाना खाने के बाद फूला हुआ महसूस करना।
  • पेट में जलन।
  • जी मिचलाना।
  • भूख में कमी होना।

जैसे-जैसे पेट में ट्यूमर बढ़ता है, आपको और भी ज्यादा गंभीर लक्षण नजर आ सकते हैं। जैसे: 

  • पेट में दर्द रहना।
  • मल में रक्त आना।
  • उल्टी होना।
  • लगातार वजन कम होना।
  • निगलने में परेशानी।
  • पीली आँखें या त्वचा
  • पेट में सूजन।
  • कब्ज या दस्त।
  • कमजोरी या थकान महसूस होना।
  • पेट में जलन।

बचाव (Prevention) 

स्वस्थ आहार लें

अपने आपको लंबे समय तक स्वस्थ रखने और बीमारियों के खतरे से अपने आपोक दूर रखने के लिए जरूरी है कि आप एक स्वस्थ आहार लें। रोजाना आपको अधिक से अधिक ताजे फल और सब्जियां लेने चाहिए। वो उच्च फाइबर और कुछ विटामिनों में होते हैं जो आपके कैंसर(Cancer)  के जोखिम को कम कर सकते हैं। गर्म नमकीन, लंच मीट, या स्मोक्ड चीजों जैसे बहुत नमकीन, मसालेदार, ठीक, या स्मोक्ड खाद्य पदार्थों से बचें। अपने वजन को नियंत्रित रखने के लिए नियमित रूप से व्यायाम जरूर करें। 

धूम्रपान न करें

धूम्रपान के कारण आपके पेट के कैंसर(Stomach Cancer) के खतरे के अलावा दूसरे कैंसरों के खतरे भी बढ़ जाते हैं। वहीं, जब आप धूम्रपान को करना छोड़ देते हैं या फिर कम कर देते हैं तो ऐसे में आपको कैंसर का खतरा कम हो जाता है। धूम्रपान सिर्फ पेट के कैंसर का कारण नहीं बनता बल्कि ये आपको दूसरे कैंसरों की ओर भी धकेल सकता है। आपको बता दें कि अगर मरीज को कैंसर के शुरुआती दौर में ही पता चल जाए तो कैंसर वाले भाग को निकाल दिया जाता है और मरीज पूरी तरह ठीक हो जाता है। पेट के कैंसर को सर्जरी या एडवांस नॉन सर्जिकल प्रक्रिया से ठीक किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: इन तरीकों से करें फेफड़ों के कैंसर की पहचान, जानें कैसे आपको करना चाहिए बचाव

पेट के कैंसर के जोखिम को लेकर डॉक्टर से संपर्क करें

अगर आपको पेट के कैंसर(Stomach Cancer) के लक्षण या फिर मिलते-जुलते लक्षण नजर आ रहे हैं तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए साथ ही आपको इससे संबंधित जांचें करवानी चाहिए। अगर आप इसके लक्षणों की मदद से इसे जल्दी पकड़ लेते हैं तो आप इस बीमारी से जल्दी लड़कर स्वस्थ हो सकते हैं। 

Read more articles on Cancer in Hindi

Disclaimer