सोशल मीडिया के ज्‍यादा इस्‍तेमाल से कमजोर हो रही है याद्दाश्‍त

सोशल मीडिया का ज्‍यादा इस्‍तेमाल आपको भुलक्‍कड़ बना सकता है, जिससे आपको दैनिक जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

एजेंसी
लेटेस्टWritten by: एजेंसीPublished at: Sep 23, 2013
सोशल मीडिया के ज्‍यादा इस्‍तेमाल से कमजोर हो रही है याद्दाश्‍त

using facebook on smart phoneफेसबुक और ट्विटर का प्रयोग भले ही आपको दोस्‍तों के संपर्क में रहने के लिए अच्‍छा लगता हो। लेकिन इनका ज्‍यादा इस्‍तेमाल आपकी याद्दाश्‍त पर विपरीत असर डालता है। हाल ही में हुए एक शोध के मुताबिक सोशल मीडिया की लत आपको भुलक्‍कड़ बना सकती है।



अध्‍ययन के मुताबिक सोशल मीडिया का अधिक इस्‍तेमाल याद्दाश्‍त पर विपरीत असर डालता है। ऐसे लोगों के दिमाग में महत्‍वपूर्ण जानकारी सुरक्षित नहीं रह पाती। इससे उन्‍हें अपने दैनिक जीवन में परेशानी होती है। स्‍टॉकहोम के केटीएच रॉयल इंस्‍टीट्यूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी के शोधकर्ताओं के मुताबिक दिमाग खाली समय में जानकारियों को सुरक्षित करने का काम करता है।



उन्‍होंने बताया कि सोशल मीडिया के इस युग में लोग हर समय ऑनलाइन रहते हैं या अन्‍य किसी काम में लगे रहते हैं, इससे उनका दिमाग हर समय व्‍यस्‍त रहता है और उसे आराम भी नहीं मिल पाता। ऐसे में उनके दिमाग को जानकारियों को सुरक्षित रखने की प्रक्रिया पूरी करने के लिए समय नहीं मिल पाता। जिसका सीधा असर उनकी याद्दाश्‍त पर पड़ता है।



ऐसे में शोधकर्ताओं की सलाह है कि सोशल मीडिया के आदी लोगों को बीच-बीच में ऑफलाइन होते रहना चाहिए। शोधकर्ता इरिक फ्रांसेन के मुताबिक सोशल मीडिया के अधिक इस्‍तेमाल से मस्तिष्‍क पर जानकारियों का बोझ बढ़ जाता है। जिससे दिमाग कम जानकारियों को ही लंबे समय तक याद रख पाता है।



फ्रांसेन के मुता‍बिक मनुष्‍य के दिमाग में स्‍मृतियों के दो कोष होते हैं, पहला अल्‍पकालिक और दूसरा दीर्घकालिक। कोई भी सूचना पहले अल्‍पकालिक स्‍मृति में आती है, उसके बाद यह दीर्घकालिक स्‍मृति में जाती है।

 

 

 

 

Read More Health News In Hindi

Disclaimer