क्या आपका बच्चा भी Bus से जाता है स्कूल? जानें बच्चों के लिए बस सुरक्षा के कुछ महत्वपूर्ण नियम

अगर आपके बच्चे बस से स्कूल जा रहे हैं, तो उन्हें इससे जुड़े कुछ सुरक्षा नियमों को जरूर समझाएं। ताकि आप और आपका बच्चा सुरक्षित हो सके।

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Apr 10, 2022Updated at: Apr 10, 2022
क्या आपका बच्चा भी Bus से जाता है स्कूल? जानें बच्चों के लिए बस सुरक्षा के कुछ महत्वपूर्ण नियम

कोरोना के घटते मामलों के बीच कई बच्चों के स्कूल गए हैं। ऐसे में कई अभिभावकों के बच्चे स्कूल जाने लगे होंगे। इनमें से कई माता-पिता अपने बच्चों को बस के माध्यम से स्कूल भेजते होंगे। लेकिन क्या आप अपने बच्चों को पहली बार स्कूल भेज रही हैं? अगर हां, तो बच्चों को स्कूल भेजने के कुछ सुरक्षा नियम जरूर जान लें। जी हां, स्कूल बस में किसी भी बच्चों को भेजने से पहले इससे जुड़े कुछ सुरक्षा नियम जानने बहुत ही जरूरी हैं, ताकि आप निश्चिंत होकर अपने बच्चों को स्कूल भेज सकें। वहीं, इन नियमों से बच्चों को भी अवगत कराएं। इससे आपके बच्चे सतर्क होकर स्कूल जा सकेगें। आज हम इस लेख में स्कूल बस से जानें के नियम के बारे में जानेंगे। 

बच्चों को बस में चढ़ाने के नियम

  • बैग में सभी जरूरी सामान पहले से रखें। ताकि बस में चढ़ाने के आखिरी समय में हड़बड़ी न हो। 
  • बच्चों को फुटपाथ पर चलना सिखाएं। अगर आपका बच्चा ज्यादा छोटा है, तो उसे बस स्टॉप तक खुद लेकर जाएं और आएं। 
  • बच्चों को सड़क सुरक्षा के नियम सिखाएं। साथ ही इसका पालन न करने वाले के साइड-इफेक्ट्स भी जरूर बताएं।
  • स्कूल बस आने के समय से करीब 10 मिनट पहले तैयार रहें। ताकि आखिरी वक्त बस को पकड़ने के लिए भागना न पड़े। 
  • बस पर बच्चों को चढ़ाते वक्त सतर्क रहें। खासतौर पर किसी भी गाड़ी आने वाले रास्तों से करीब 3 मीटर की दूरी पर रहें। 
  • बच्चों को बस स्टॉपेज पर अजनबियों से दूरी बनाकर रखने के लिए कहें।

बस के अंदर व्यवहार करने के नियम

  • बच्चों को सिखाएं कि बस चलने से पहले सीट पर बैठ जाएं। साथ ही हमेशा मुंह को आगे की ओर करके बैठने के लिए कहें। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं, तो अचानक से बस चलने की वजह से चोट लगने का खतरा रहता है। 
  • बस में बच्चों को शोर करने के लिए मना करें। अगर वे ऐसा करते हैं, तो बस ड्राइवर का ध्यान भंग हो सकता है, जिसकी वजह से एक्सीडेंट होने का खतरा रहता है। 
  • अगर बच्चा बस ड्राइवर से किसी तरह की बात करना चाहते हैं, तो उन्हें सिखाएं कि बस रूकने के बाद ही ड्राइवर से बात करें। इससे ड्राइवर का ध्यान नहीं भटकेगा। 
  • कई बच्चे बस में खाने पीने लगते हैं। ऐसे में बस में गंदगी हो सकती है। इस स्थिति से बचने के लिए उन्हें बस में न खाने-पीने की सलाह दें। 
  • इसके साथ ही बच्चों को समझाएं कि किसी भी सामान को बाहर न फेकें। इससे बाहर गंदगी हो सकती है। 

बच्चों को बस से उतरने के नियम

  • बच्चों को सिखाएं कि बस से तभी उतरने की कोशिश करें, जब तक बस पूरी तरह से रूक न जाए। इसके साथ ही उन्हें बस का हैंडल पकड़कर उतरने और बस से बाहर निकलने की सलाह दें। 
  • बच्चों को सिखाएं कि बस में हमेशा ज्यादा हड़बड़ी नहीं मचानी चाहिए। हमेशा आगे के बच्चों को पहले उतरने दें। बच्चों को समझाएं कि उनहें बस में विनम्र होना चाहिए। 
  • बच्चों को समझाएं कि बस से उतरने के दौरान स्कूल बैग, बेल्ट या फिर कपड़ों से बस की रेलिंग न पकड़ें। इससे गिरने का खतरा रहता है। 

बच्चों को बस पर उतारने और चढ़ाने के नियमों को अच्छे से समझाएं। ताकि आपका बच्चा और आप सुरक्षित हो सकें। वहीं, हमेशा बच्चों को बस में सतर्कता के साथ बैठने के लिए कहें। 

Disclaimer