स्किन के लिए विटामिन्स ही नहीं रेटिनॉयड तत्व भी है जरूरी, जानें फायदे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 03, 2018
Quick Bites

  • रेटिनॉयड तत्व नई स्किन सेल्स बनाने का काम करता है।
  • आमतौर पर सभी खट्टे फलों में विटमिन सी पाया जाता है। 
  • ओमेगा-3 फैटी एसिड भी स्किन के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है।

अपनी त्वचा को रिंकल्स, एक्ने और टैनिंग से बचाने के लिए आप जितनी भी तरह के क्रीम या लोशन का इस्तेमाल करती हैं, उन सब में विटमिन ए मौज़ूद होता है। इसमें कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो स्किन के लिए सुरक्षा कवच का काम करते हैं। इसमें मौज़ूद रेटिनॉयड नामक तत्व नई स्किन सेल्स बनाने और रंगत निखारने का काम करता है। हरी पत्तेदार सब्जि़यों के अलावा पीले, नारंगी और लाल रंग के फलों में एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं। अगर सभी तरह की सब्जि़यों के साथ पपीता, आम, सेब, अनार, गाजर और चुकंदर जैसे फलों का सेवन किया जाए तो शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटमिन ए मिल जाता है।      

कोलेजन बनाए विटमिन सी

एंटीऑक्सीडेंट तत्वों से भरपूर विटमिन सी न केवल व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है बल्कि स्किन की बाहरी लेयर एपीडर्मिस और भीतरी लेयर डर्मिस के लिए भी बहुत फायदेमंद साबित होता है। इसमें भी कैंसररोधी तत्व पाए जाते हैं। विटमिन सी कोलेजन नामक तत्व का भी निर्माण करता है, जो त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने में मददगार होता है। इसी वजह से जयादातर एंटी एजिंग ब्यूटी प्रोडक्ट्स में इसका इस्तेमाल होता है। आमतौर पर सभी खट्टे फलों में विटमिन सी पाया जाता है। स्किन को सूर्य की हानिकारक किरणों यूवीए से बचाने के लिए संतरा, स्ट्रॉबेरी, नींबू, मौसमी, अंगूर और अनन्नास जैसे खट्टे फलों का सेवन करना फायदेमंद साबित होता है। यह चोट, खरोंच या कटने पर त्वचा की हीलिंग में मददगार होता है। रोज़मर्रा की डाइट से ही शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटमिन सी मिल जाता है। इसलिए डॉक्टर की सलाह लिए बिना इसका सप्लीमेंट न लें।

इसे भी पढ़ें : सुंदर त्‍वचा के लिए ये 4 विटामिन है जरूरी, जानें प्रयोग का तरीका

विटमिन डी की डोज़

आमतौर पर लोग इसे हड्डियों की सेहत से जोड़कर देखते हैं पर इसके साथ ही विटमिन डी स्किन के लिए बहुत ज़रूरी है। यह त्वचा की कोशिकाओं के विकास और उनकी मरम्मत का काम करता है। स्किन की ड्राईनेस दूर करने के साथ झुर्रियों और एक्ने से बचाव में भी मददगार होता है।

प्रमुख स्रोत : यह सूर्य की रोशनी के अलावा मिल्क प्रोडक्ट्स, फिश और ड्राई फ्रूट्स में भी पाया जाता है। अत: स्वस्थ त्वचा और मज़बूत हड्डियों के लिए दूध, दही, पनीर, अखरोट, बादाम और फिश को अपनी डाइट में प्रमुखता से शामिल करें। 

त्वचा का रखवाला विटमिन ई

इसे त्वचा के लिए सबसे अधिक फायदेमंद माना जाता है। इसमें कुछ ऐसे तैलीय तत्व पाए जाते हैं, जो स्किन को रूखेपन से बचाकर उसे स्वाभाविक चमक प्रदान करते हैं। वसा मे घुलनशील विटमिन ई में कुछ ऐसे एंटी ऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं, जो स्किन को हर तरह के इन्फेक्शन से बचाते हैं। इसमें मौज़ूद एंटी एजिंग तत्व रिंकल्स से बचाव में मददगार होते हैं। इसीलिए हर स्किन केयर प्रोडक्ट में इसे ज़रूर शामिल किया जाता है। 

प्रमुख स्रोत : बादाम, अखरोट, मूंगफली, सनफ्लॉवर सीड्स, मकई, सोयाबीन, पालक और ब्रोक्ली में भरपूर मात्रा में विटमिन ई पाया जाता है। अगर इन चीज़ों को डाइट में शामिल किया जाए तो पर्याप्त पोषण मिल जाता है। इसके अधिक सेवन से खून पतला हो जाता है, जो सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकता है। इसलिए डॉक्टर की सलाह के बिना इसका सप्लीमेंट नहीं लेना चाहिए।

इसे भी पढ़ें : फायदा ही नहीं नुकसान भी पहुंचाता है क्षारीय पानी, जानें पूरा सच

इन्हें भी अपनाएं

ओमेगा-3 फैटी एसिड भी स्किन के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है। इसलिए अगर आप नॉन-वेजटेरियन हैं तो अपनी डाइट में फिश, बादाम, पालक और हरी मेथी को प्रमुखता से शामिल करें।

सेलेनियम भी त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है। तरबूज, सीताफल और खरबूजे के बीज में यह तत्व भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

असली खूबसूरती के लिए स्किन का हेल्दी होना बहुत ज़रूरी है। यहन्‍ तभी संभव है, जब आप स्वस्थ खानपान अपनाएंगी। हर तरह की सब्जि़यों और फलों के अलावा बीजों और अनाजों में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो स्किन को हेल्दी बनाने में मददगार होते हैं। 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Article on Diet and Nutritions in Hindi

Loading...
Is it Helpful Article?YES448 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK