Expert

कोशिश के बाद भी नहीं बन रहीं मसल्स? एक्सपर्ट से जानें इसके 3 कारण

Reasons Why Muscles Are Not Building: मांसपेशियां बढ़ाते समय हम ऐसी कई गलतियां करते हैं जिससे मसल नहीं बनती, जानें मसल बिल्डिंग न होने के कारण।

 
Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Jun 20, 2022Updated at: Jun 20, 2022
कोशिश के बाद भी नहीं बन रहीं मसल्स? एक्सपर्ट से जानें इसके 3 कारण

वजन बढ़ाने की तुलना में मांसपेशियां बिल्ड करना काफी मुश्किल होता है। आपने अक्सर लोगों को मांसपेशियां बढ़ाने के लिए घंटो एक्सरसाइज  करते हैं। लेकिन कुछ खास फायदा नहीं मिलता है, जिससे लोग काफी निराश हो जाते हैं। अब सवाल यह उठता है कि आखिर ऐसा क्यों होता है? फिटनेस एक्सपर्ट और न्यूट्रीशनिस्ट अक्षय एस. शेट्टी की मानें तो जरूरी नहीं कि आप जो डाइट में ले रहे हैं या जो एक्सरसाइज में कर रहे हैं उससे आपकी मांसपेशियों में बढ़त दिखेगी, इसके लिए आपको पर्याप्त डाइट और पर्याप्त पोषण लेने की जरूरत होती है। बहुत से लोग मांसपेशियां बढ़ाते समय कई गलतियां करते हैं, जिसके चलते उन्हें परिणाम देखने को नहीं मिलते हैं। साथ ही कई अन्य कारण भी हैं जो आपकी मांसपेशियों के निर्माण (Muscle Building) में बाधा बनते हैं। मसल बिल्डिंग के दौरान आपको कुछ बातों का खास ध्यान रखना होता है। इस लेख में हम ऐसे 3 कारणों के बारे में जानेंगे, जिनके कारण आपकी मांसपेशियों का विकास नहीं हो रहा है (Reasons Why Your Muscles Are Not Growing In Hindi)।\

Muscle Building

मसल्स न बनने के 3 कारण (Reasons Why Muscles Are Not Building In Hindi)

1. पर्याप्त प्रोटीन का सेवन नहीं करना

मसल बिल्ड न होने का एक बड़ा कारण अपनी डाइट से पर्याप्त और क्वालिटी प्रोटीन प्राप्त नहीं करना है। मांसपेशियों के निर्माण के लिए प्रोटीन का सेवन बहुत जरूरी है। मसल बिल्ड करने के लिए आपको रोजाना अपने शरीर के कुल वजन के अनुसार प्रति किलोग्राम 1.5 से 2 ग्राम तक प्रोटीन लेने की आवश्यकता होती है। आपकी मांसपेशियों उसी हिसाब से बढ़ेंगे या मजबूत होंगी जिस तरीके से आप प्रोटीन को अपनी डाइट में शामिल करेंगे। कोशिश करें कि आप अपने अपने दिन के तीन बड़े भोजन में प्रोटीन रिच फूड्स को शामिल कर सकते हैं। दूध और दूध से बने उत्पाद जैसे दही, छाछ, पनीर का सेवन करें। सोयाबीन, दालें, मीट, मछली, चना, राजमा, टोफू आदि में प्रोटीन भरपूर मात्रा में होता है। आप इन फूड्स को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं। आप चाहें तो किसी एक्सपर्ट या अपने फिटनेस ट्रेनर की सलाह के अनुसार प्रोटीन के सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं, क्योंकि बहुत से लोगों के लिए डाइट से पर्याप्त प्रोटीन प्राप्त कर पाना मुश्किल होता है।

2. वर्काउट की इंटेंसिटी बहुत कम है

अक्सर यह देखा जाता है कि लोग सिर्फ जिम जाते हैं, वेट उठाते हैं और घर वापस आ जाते है। लेकिन ऐसा करना बिल्कुल भी सही नहीं है। मसल बिल्ड करने के लिए आपके वर्काउट में इंटेंसिटी होना बहुत जरूरी है। आपके एक्सरसाइज के दौरान फैलियर तक पहुंचना बहुत जरूरी है, सिर्फ वजन उठाना भर ही काफी नहीं है। आप हाई-इंटेंसिटी वाला किसी भी तरह का व्यायाम कर सकते हैं, आपको बस अपना अधिकतम प्रयास तब करना होगा, जब आप चरम पर हों और फिर 5 मिनट का ब्रेक लें। इस तरह की कसरत आपके हार्ट रेट को बढ़ाती है, जिससे आपके शरीर को कैलोरी बर्न करने में तेजी से मदद मिलती है।

इसे भी पढें: इस तरह से करेंगे पुशअप्स तो मिलेंगे सभी फायदे, जानें इसके 5 तरीके

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Aksshaye S Shetty (@aksshayesshetty)

3. प्रोग्रेसिव ओवरलोड

मसल बिल्ड करने के लिए आपको वर्काउट के दौरान प्रोग्रेसिव ओवरलोड करने की जरूरत है। बहुत से लोग एक्सरसाइज तो करते हैं लेकिन न वे अतिरिक्त वजन उठाते हैं और न ही रेप्स बढ़ाते हैं। लेकिन अगर आप वर्काउट के दौरान प्रोग्रेसिव ओवरलोड नहीं करते हैं तो इससे आपको कोई परिणाम देखने को नहीं मिलते हैं। कोशिश करें कि प्रत्येक सप्ताह वेट अधिक उठाएं और रेप्स भी बढ़ाएं। इससे  आपको बेहतर परिणाम और तेजी से मांपशियों के निर्माण में मदद मिलेगी।

इसे भी पढें: होम वर्कआउट के लिए बेस्ट हैं ये 5 फिटनेस गैजेट्स, बॉडी को हेल्दी बनाने में मिलेगी मदद

अगर आप भी मसल बिल्डिंग के दौरान इस तरह की गलतियां कर रहे हैं तो आपको सावधानी बरतने की जरूरत है। साथ ही अपने खान-पान से लेकर एक्सरसाइज के पैटर्न में बदलाव करने की जरूरत है।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer