पाचन क्रिया, मासिक धर्म और तनाव की समस्याओं में फायदेमंद है पद्मासन, जानें तरीका

बढ़ती उम्र के साथ शरीर की चुस्ती-फुर्ती को बनाए रखना जरूरी है। ऐसे कई योगासन हैं, जिनसे आपके शरीर और मस्तिष्क दोनों को लाभ मिलता है साथ ही ये आसन कई शारीरिक समस्याएं भी ठीक करते हैं।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Nov 24, 2018
पाचन क्रिया, मासिक धर्म और तनाव की समस्याओं में फायदेमंद है पद्मासन, जानें तरीका

बढ़ती उम्र के साथ शरीर की चुस्ती-फुर्ती को बनाए रखना जरूरी है। ऐसे कई योगासन हैं, जिनसे आपके शरीर और मस्तिष्क दोनों को लाभ मिलता है साथ ही ये आसन कई शारीरिक समस्याएं भी ठीक करते हैं। पद्मासन भी एक ऐसा ही योगासन है। संस्कृत शब्द पद्म का अर्थ होता है कमल। इसीलिए पद्मासन को कमलासन भी कहते हैं। ध्यान मुद्रा के लिए यह आसन सबसे अच्छी मुद्रा है।

एकाग्रता के लिए पद्मासन

ये एक आसान आसन है और इसे कोई भी किसी भी उम्र का व्यक्ति कर सकता है। ये आसन दिमाग को शांत करता है और मन को भटकने से रोकता है। एकाग्रता के लिए ये आसन बहुत फायदेमंद है। इस आसन से ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रहता है। पद्मासन गर्दन और रीढ़ की हड्डी को मजबूत  और लचीला बनाता है। इसके अलावा इस आसन से पेट की चर्बी कम होती है और तनाव कम होता है।

इसे भी पढ़ें:- हाई ब्लड प्रेशर और कब्ज को दूर करता है मंडूकासन, जानें इसके फायदे और तरीका

कैसे करें पद्मासन

  • पालथी मारकर बैठ जाएं।
  • अब बाएं पैर की एड़ी को दाई जांघ पर इस प्रकार रखें कि एड़ी नाभि के पास आ जाए।
  • इसके बाद दाएं पांव को उठाकर बाई जांघ पर इस प्रकार रखें कि दोनों एड़ियां नाभि के पास आपस में मिल जाएं।
  • अब रीढ़ के तान लें और कंधों को ढीला छोड़ दें।
  • हाथ घुटने पर टिका लें। तर्जनी और अंगूठे को मिलाकर ध्यान मुद्रा में आएं।
  • इस मुद्रा का अभ्‍यास करते समय गहरी सांस लेने का अभ्‍यास करें।

क्या हैं पद्मासन के लाभ

  • पद्मासन के नियमित अभ्यास से पाचन क्रिया ठीक रहती है और पेट की बीमारियां दूर रहती हैं।
  • यह आसन मांसपेशियों के तनाव को कम करता है और इसके नियमित अभ्यास से ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है।
  • गर्भवती महिलाओं के लिए यह आसन फायदेमंद होता है।
  • इस आसन के नियमित अभ्यास से मासिक चक्र में होने वाली समस्याओं से राहत मिलती है।
  • मानसिक तनाव और चिंता को भी ये आसम कम करता है, जिससे मन शांत होता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Yoga In Hindi

Disclaimer