Monsoon Skin Allergy: मानसून में स्किन को कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। इस मौसम में खुजली, रैश, दाद जैसी प्रॉब्लम होना बहुत ही आम बात है।

"/>

मानसून में स्किन पर हो सकती हैं ये एलर्जी, जानें बचाव का तरीका

Monsoon Skin Allergy: मानसून में स्किन को कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। इस मौसम में खुजली, रैश, दाद जैसी प्रॉब्लम होना बहुत ही आम बात है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Jul 05, 2022Updated at: Jul 05, 2022
मानसून में स्किन पर हो सकती हैं ये एलर्जी, जानें बचाव का तरीका

बारिश का मौसम मन को तो भाता है, लेकिन स्किन के लिए यह कई परेशानियों का सबब बन जाता है। मानसून में वातावरण में बहुत ज्यादा उमस हो जाती है, जो स्किन के लिए अच्छी नहीं मानी जाती है। हवा में उमस के कारण स्किन इन्फेक्शन्स और कई अन्य तरह की  प्रॉब्लम्स हो सकती  हैं। स्किन पर होने वाली इन  समस्याओं को वक्त रहते ठीक न किया जाए, तो  ये बड़ी परेशानियों का सबब बन सकती  हैं। कई बार ये स्किन को परमानेंट डैमेज कर देती  हैं, जिसका इलाज किसी भी डॉक्टर के पास नहीं है। इसलिए आज हम आपको मानसून में होने वाली स्किन प्रॉब्लम और इससे छुटकारा  पाने के तरीके बता रहे हैं।

मानसून में हो सकती  हैं ये स्किन एलर्जी (Monsoon Skin Allergy)

  • बैक्टीरियल इन्फेक्शन
  • एक्जिमा
  • फंगल इन्फेक्शन
  • हीट रैश
  • स्कैल्प इन्फेक्शन

इसे भी पढ़ेंः डायबिटीज में बढ़ते शुगर को कंट्रोल करने में असरदार हैं कदंब के पत्ते, जानें इस्तेमाल का तरीका

Monsoon_Care

मानसून में कैसे करें स्किन एलर्जी से बचाव (Monsoon Skin Allergies And Rashes Treatment)

  • मानसून के मौसम में कभी बारिश, तो कभी उमस की वजह से लोगों को पसीना आता है, जिसकी वजह से रैशेज और खुजली जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इन समस्याओं को जल्दी ठीक करने के लिए आप कुछ आसान से उपाय अपना सकते हैं।
  • अगर आपको  घमौरियां हो गई  हैं, तो इसको जल्दी से ठीक करने के लिए सूती कपड़े पहनें और ज्यादा गर्मी में बाहर निकलने से बचें। घमौरियों के कारण आपको ज्यादा खुजली हो रही है, तो कैलामाइन लोशन का इस्तेमाल करें।
  • बारिश के मौसम में भीगने, पसीना इकट्ठा होने और लंबे समय तक जूते पहनने की वजह से अक्सर लोगों के पैरों में फंगल इन्फेक्शन हो जाते हैं। इस स्थिति में ऐसे जूते पहनने से  बचें, जो पूरी तरह से बंद हों। जूतों की बजाय फ्लिप-फ्लॉप्स या फ्लोटर्स पहनें। फंगल इन्फेक्शन होने पर नारियल का तेल लगाएं।
  • मानसून में पसीना न सूखने के कारण दाद, खाज, खुजली जैसी समस्याएं हो सकती  हैं। दाद होने पर ऑइंटमेंट का इस्तेमाल करें।
  • अपने कपड़ों को धोते समय डिटर्जेंट के साथ एंटीसेप्टिक सॉल्यूशन को डालें। दाद होने पर ध्यान दें कि इसे बार-बार न छुएं। विशेषज्ञों का कहना है कि दाद छूने से फैल सकता है।

Monsoon_Care

स्किन प्रॉब्लम न हो इसलिए अपना सकते हैं ये टिप्स

  • मानसून में नहाने के पानी में एंटीसेप्टिक सॉल्यूशन का इस्तेमाल करें।
  • अगर संभव हो तो सादे पानी  के बजाय नीम की पत्तियों को पानी में उबाल कर इसे नहाने में इस्तेमाल करें।
  • कपड़ों को एक बार से ज्यादा न पहनें।
  • बारिश में भीगने के बाद साफ पानी से नहाएं।
  • ढीले हवादार कपड़े पहनें।
  • परिवार या दोस्तों के साथ तौलिया शेयर करने से बचें।
 (All Image Credit- Freepik.com)

Disclaimer