रोज सुबह पिएं 'भिंडी का पानी', दूर होंगे मोटापा, डायबिटीज और हाई कोलेस्ट्रॉल जैसे रोग

आइये आपको बताते हैं भिंडी से बनने वाले एक ऐसी ड्रिंक के बारे में, जिसके सेवन से डायबिटीज, कोलेस्ट्रॉल और मोटापा जैसी कई समस्याएं आसानी से खत्म हो जाएं

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: May 15, 2018Updated at: Apr 12, 2021
रोज सुबह पिएं 'भिंडी का पानी', दूर होंगे मोटापा, डायबिटीज और हाई कोलेस्ट्रॉल जैसे रोग

आपने भिंडी की सब्जी जरूर खाई होगी, मगर क्या आपने भिंडी के पानी के बारे में सुना है? भिंडी का पानी शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। रोजाना सुबह उठने के बाद एक ग्लास भिंडी का पानी पीने से आप सैकड़ों रोगों से मुक्त रहते हैं। आयुर्वेद में भिंडी के पानी को कोलेस्ट्रॉल और हृदय रोगों से बचाव और डायबिटीज के लिए एक प्रमुख नुस्खा माना जाता है। दुनिया के कई देशों में वजन घटाने के लिए लोग भिंडी के पानी का सेवन करते हैं। अंग्रेजी में इसे 'ओकरा वाटर' के नाम से जाना जाता है।

भिंडी का पानी आप आसानी से घर पर बना सकते हैं। दुनिया के कई देशों में  भिंडी में प्रोटीन, वसा, रेशा, कार्बोहाइट्रेड, कैल्शियम, फास्‍फोरस, आयरन, मैग्‍नीशियम, पोटैशियम, सोडियम और तांबा पाया जाता है। डायबिटीज रोगियों के लिए चिकित्सक भिंडी को बहुत फायदेमंद मानते हैं। भिंडी का पानी ग्लूकोज को ब्लड में घुलने की प्रक्रिया को धीमा करता है, जिससे आपके ब्लड में शुगर लेवल घटता है। आइए आपको बताते हैं कैसे बनाएं भिंडी का पानी और इससे आपको क्या फायदे मिलेंगे।

कैसे बनाएंगे 'भिंडी का पानी'

  • सबसे पहले 4-5 मीडियम साइज की भिंडी लें और उन्हें अच्छी तरह धुल लें।
  • इन भिंडियों को लंबाई में (ऊपर से नीचे की तरफ) बीच से काटकर दो भागों में बांट लें।
  • अब इन कटी हुई भिंडियों को एक जार में रख दें।
  • जार में 1 से 1.5 लीटर पानी डालें।
  • अब जार किसी झीने कपड़े या चलनी से ढक दें ताकि इसमें हवा जाती रहे।
  • इस पानी में भिंडियों को 8 से 24 घंटे तक रखा रहने दें।
  • तय समय के बाद भिंडियों को पानी में ही निचोड़कर बाहर निकाल लें ताकि उसका सारा अर्क निकल जाए।
  • अब भिंडी को फेंक दें और पानी को पी लें।

इसे भी पढ़ें:- बंद धमनियों को साफ करने के लिए आजमाएं ये आसान जर्मन नुस्खा

कैसे पिएं 'भिंडी का पानी'

भिंडी से बनने वाला ये 'ओकरा वाटर' कई गंभीर रोगों में फायदेमंद है। ये डायबिटीज को कंट्रोल करता है, शरीर का कोलेस्ट्रॉल कम करता है और किडनी रोगों से बचाव करता है। अगर आप नियमित इसका सेवन करते हैं, तो इससे वजन घटाने में भी मदद मिलती है और शरीर स्वस्थ रहता है। इस 'ओकरा वाटर' को सुबह खाली पेट पिएं और पीने के 30 मिनट बाद ही नाश्ता करें। सुबह पीने के लिए इसे शाम से ही भिगा दें ताकि कम से कम 8-10 घंटे भिंडी पानी में रहे और उसका अर्क ठीक से निकल सके।

क्यों फायदेमंद है भिंडी का पानी

भिंडी पौष्टिक तत्वों का भंडार है इसलिए इसके पानी से शरीर को कई तरह के स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं। अगर आप एक ग्लास 'ओकरा वाटर' पीते हैं, तो इससे शरीर को इतने तत्व मिलते हैं।

  • 80 माइक्रोग्राम फॉलेट
  • 60 मिलीग्राम मैग्नीशियम
  • 30 कैलोरीज
  • 21 ग्राम विटामिन सी
  • 6 ग्राम कार्बोहाइड्रेट
  • 3 ग्राम डाइट्री फाइबर
  • 2 ग्राम प्रोटीन
  • और सिर्फ 1 ग्राम फैट

थकान और सुस्ती भी रहेगी दूर

अगर आप इस 'ओकरा वाटर' का नियमित सेवन करते हैं, तो आपको कोई भी मल्टीविटामिन कैप्सूल या एनर्जी ड्रिंक लेने की जरूरत नहीं है क्योंकि इस वाटर में पहले ही इतने सारे तत्व मौजूद हैं, जो आपके शरीर को दिनभर ऊर्जा देते हैं और इससे थकान, सुस्ती और आलस खत्म होती है।

इसे भी पढ़ें:- फाइबरयुक्त इन 5 आहारों से कब्ज में मिलती है राहत, मल त्याग में नहीं होता दर्द

मिलेंगे ढेर सारे एंटीऑक्सिडेंट्स

भिंडी में ढेर सारे एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं जो डायबिटीज के अलावा दिल की बीमारियों से भी हमारी रक्षा करते हैं। भिंडी में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट्स फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसानों से हमें बचाता है और शरीर के अंदरूनी हिस्सों को स्वस्थ रखता है। इसके एंटीऑक्सिडेंट्स के कारण कैंसर सेल्स की विकास की गति भी धीमी होती है इसलिए ये कैंसर के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है।

डायबिटीज में इंसुलिन के लिए भिंडी

भिंडी में कई ऐसे तत्व होते हैं जो इंसुलिन के उत्पादन में सहायक होते हैं। कार्बोहाइड्रेट से ग्लूकोज को अलग करने के लिए हमारे शरीर को एक हार्मोन की जरूरत पड़ती है जिसे इंसुलिन कहते हैं। ये शरीर में अग्नाशय द्वारा छोड़ा जाता है। हमारे शरीर में डायबिटीज इसी इंसुलिन की कमी के कारण होता है। भिंडी अग्नाशय में बीटा सेल्स को बेहतर बनाती है जिससे इंसुलिन का उत्पादन बढ़ता है।

Read More Articles On Home Remedies In Hindi

Disclaimer