पर्सनालिटी डिसऑर्डर के लक्षण क्या हैं? जानें कैसे ये मनोरोग रोगी के साथ रहने वालों के लिए भी है खतरनाक

पर्सनालिटी डिसऑर्डर एक मानसिक विकार है, जो व्‍यक्ति के व्‍यवहार औेर मेंटल हेल्‍थ से जुड़ा है। जानिए पर्सनालिटी डिसऑर्डर क्‍या है और इसके लक्षण। 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Jul 09, 2020Updated at: Jul 09, 2020
पर्सनालिटी डिसऑर्डर के लक्षण क्या हैं? जानें कैसे ये मनोरोग रोगी के साथ रहने वालों के लिए भी है खतरनाक

क्‍या आप जानते हैं कि पर्सनालिटी डिसऑर्डर क्‍या है? शायद कम ही लोगों ने इस मानसिक समस्‍या के बारे में सुना होगा। जी हां, पर्सनालिटी डिसऑर्डर एक तर‍ह की मानसिक समस्‍या है, जिसका व्‍यक्ति के व्‍यवहार और मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य पर असर पड़ता है। हालांकि, यदि इस समस्‍या को समय रहते नियंत्रित कर दिया जाए तो अच्‍छा है। क्‍योंकि आमतौर पर पर्सनालिटी डिसऑर्डर वाले लोगों को अनुभूति भावुकता और आवेग नियंत्रण में कठिनाई होती है। जिसका यदि समय रहते उपचार न किया जाए, तो यह चिंता, तनाव और डिप्रेशन को जन्‍म दे सकता है। 

पर्सनालिटी डिसऑर्डर का सबसे आम लक्षण यह है कि इस मानसिक विकार से ग्रस्‍त व्‍यक्ति को लोगों के साथ एक स्‍वस्‍थ रिश्‍ता बनाए रखना मुश्किल होता है। ऐसा इसलिए होता है क्‍योंकि वह बहुत ही जिद्दी, निराश या तर्कशील हो जाते हैं। आइए यहां हम आपको पर्सनालिटी डिसऑर्डर के कुछ सामान्‍य लक्षण बताते हैं, जिससे आप रोगी की आसानी से पहचान कर उसकी मदद कर सकते हैं। 

पर्सनालिटी डिसऑर्डर के लक्षण 

Personality Disorder

#1 बार-बार मूड बदलना या मूड स्विंग्‍स 

मूड स्विंग्‍स या बार-बार मूड बदलना पर्सनालिटी डिसऑर्डर के सबसे आम लक्षणों में से एक है। पर्सनालिटी डिसऑर्डर में अचानक भावनाओं में परिवर्तन का तूफान सा टूट पड़ता है, जिसकी वजह से व्‍यक्ति के पल-पल भर में मूड स्विंग हो सकता है। ऐसे में वह हर छोटी बात को बहुत बड़ा महसूस करेगा और चिंडचिड़ा व्‍यवहार कर सकता है। 

#2 दूसरों के प्रति शक और गलत धारणा 

पर्सनालिटी डिसऑर्डर वाले लोग गलतफहमियों का शिकार हो सकते हैं। गलतफहमी के कारण, इन व्यक्तियों को अपने रिश्तों और समाज के अन्य व्यक्तियों के बारे में गलत धारणाएं मन मे होती हैं। 

इसे भी पढ़ें:  डिप्रेशन और तनाव का शरीर पर इन 5 तरीकों से पड़ सकता है बुरा असर, लक्षण दिखते ही हो जाएं सावधान

#3 खराब रिश्‍ते या रिश्‍तोंमें खटास

पर्सनालिटी डिसऑर्डर वाले लोगों के रिश्‍ते बनते और बिगड़ते रहते हैं। ऐसे लोगों के रिश्‍तों में अस्थ्‍िारता होती है। पर्सनालिटी डिसऑर्डर वाले लोगों को लंबे समय तक कोई भी रिश्‍ता बनाए रखना कठिन होता है। 

Personality Disorder Signs

#4 सीमाओं को पार करना 

ये लोग सीमाओं को नहीं समझते और ये किसी भी हद तक जा सकते हैं। यह जानबूजकर सीमाओं के पार जाना पसंद करते हैं। इसके अलावा, पर्सनालिटी डिसऑर्डर वाले लोग अपने अतीत की घटनाओं का उपयोग अपने व्‍यवहार और विशेषरूप से गलत लोगों को सही ठहराने के लिए कर सकते हैं। 

#5 गुस्‍सैल और दूसरों का मजा खराब करने वाले 

पर्सनालिटी डिसऑर्डर वाले लोगों को अचानक बहुत तेज गुस्‍सा आ सकता है। यह हमेशा दूसरों का मजा खराब करने का इरादा रखते हैं। जैसे यह किसी सप्राइज का खुलासा कर देंग या फिर एक फिल्‍म का संस्‍पेंस खत्‍म कर देंगे आदि। वह ऐसा दूसरों का ध्यान खींचने के लिए करते हैं और दिखाते हैं कि वे कितने स्मार्ट और बुद्धिमान हैं।

इसे भी पढ़ें: क्या तनाव लेने से कमजोर हो जाती है आपकी इम्यूनिटी? जानें एक्सपर्ट की राय और स्ट्रेस कम करने के तरीके

Personality Disorder Treatment

पर्सनालिटी डिसऑर्डर के कुछ अन्‍य सामान्य लक्षण 

  • एक जैसी और अच्छी सोच ना रख पाना।
  • खुद को दूसरों से अलग-थलग रखना। 
  • रिजेक्‍शन या नकारे जाने से डरना। 
  • तेजी से मूड बदलना। 
  • चिंता, तनाव और डिप्रेशन महसूस करना।  
  • खुद को संभालने के लिए एल्‍कोहाल का अधिक सेवन करना। 
  • लड़ने के लिए हमेशा तैयार रहना।
  • डर और असुरक्षा से घिरे रहना। 

कैसे करें इलाज?

पर्सनालिटी डिसऑर्डर, ग्रस्‍त व्‍यक्ति और रोगी दोनों के लिए खतनाक हो सकता है। इसलिए आप कुछ संकेतों के दिखते ही मनोरोग विशेषज्ञ की सलाह लें। हालांकि इसका इलाज थोड़ा लंबा चल सकता है। इसमें रोगी को कुछ थेरेपी, काउंसलिंग और दवा भी दी जाती है। यह रोगी की स्थिति पर निर्भर करता है। 

Read More Article On Mind And Body In Hindi 

Disclaimer