कटने-छिलने या चोट लगने पर किचन में मौजूद इन 5 चीजों का करें इस्तेमाल, तेजी से भरेगा घाव और नहीं होगा इंफेक्शन

छोटी-मोटी चोट, कटने, छिलने या घाव होने पर आपके किचन में ही मौजूद ये 5 चीजें आपके काम आ सकती हैं। इनके प्रयोग से खून रुकता है और घाव जल्दी भरता है।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Aug 21, 2020Updated at: Jun 21, 2022
कटने-छिलने या चोट लगने पर किचन में मौजूद इन 5 चीजों का करें इस्तेमाल, तेजी से भरेगा घाव और नहीं होगा इंफेक्शन

काम करते हुए, खेलते हुए या किचन में खाना बनाते हुए कई बार जाने-अंजाने हमारी स्किन कट जाती है, छिल जाती है और कोई छोटी-मोटी चोट लग जाती है। इस तरह के छोटे-मोटे कट और घाव के लिए आपको दवा-पट्टी आदि की जरूरत नहीं है, बल्कि आपके किचन में ही मौजूद कई चीजें ऐसे समय में आपके काम आ सकती हैं। शरीर के किसी भी हिस्से के कटने-छिलने पर सबसे ज्यादा खतरा इंफेक्शन का होता है। मगर हम आपको ऐसे आसान और प्रभावी घरेलू नुस्खे बता रहे हैं, जो इंफेक्श के खतरे को भी कम करती हैं क्योंकि इनमें एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। आइए आपको बताते हैं छिलने, कटने, चोट लगने और छोटा-मोटा घाव होने पर काम आने वाले बेहद आसान घरेलू उपाय।

remdies for cuts

शहद

हाथ-पैर में छिलने या छोटा-मोटा कट लगने पर आपको शहद का प्रयोग करना चाहिए। इसके अलावा शहद का प्रयोग आप मुंह के अंदर छालों या जलने पर भी कर सकते हैं। शहद में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं, जिसके कारण ये इंफेक्शन के खतरे को कम कर देता है। शहद में एंटी-सेप्टिक और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण भी होते हैं, जिसके कारण ये घाव या कटी हुई स्किन को जल्दी से भर देता है और बैक्टीरिया को समाप्त कर देता है। इसलिए आप शहद लगाएं।

इसे भी पढ़ें: किचन में गलती से जलने, कटने, छिलने जैसी 5 समस्याओं के लिए घरेलू उपाय, मिलेगा तुरंत आराम

एलोवेरा

घर में अगर एलोवेरा का पौधा है या एलोवेरा जेल मौजूद है, तो छिलने, कटने, घाव लगने पर ये भी आपके बड़े काम आ सकता है। शहद की ही तरह एलोवेरा जेल का प्रयोग भी आप सीधे कटे या घाव पर लगाकर कर सकते हैं। एलोवेरा में भी वही सारे गुण होते हैं, जो ऊपर शहद में बताए गए हैं। इसके अलावा एलोवेरा में साइटोकेमिकल्स होते हैं, जो दर्द को भी कम करते हैं और घाव को तेजी से भरने में मदद करते हैं।

नारियल तेल

छिलने-कटने की जगह पर थोड़ा सा नारियल तेल लगाने से भी आपको बहुत जल्दी आराम मिल सकता है। नारियल तेल भी एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुणों से भरपूर होता है। इसलिए आप घाव पर सीधे इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। नारियल तेल लगाने से घाव पर एक पर्त बन जाती है, जिससे बाहरी बैक्टीरिया और जीवाणु शरीर में प्रवेश नहीं कर पाते हैं और ये त्वचा को हाइड्रेट भी रखता है, जिससे घाव जल्दी भरता है।

प्याज का रस

छोटा-मोटा कट लगने या घाव होने पर आप प्याज का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। प्याज के रस में एलिसिन होता है, जो कि एंटी-माइक्रोबियल कंपाउंड है। ये इंफेक्शन के खतरे को कम करता है और घाव को भरने में मदद करता है। प्याज में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण भी होते हैं, जिससे घाव तेजी से भरता है। आपको करना बस ये है कि प्याज को पीसकर इसका पेस्ट बनाएं और तुरंत घाव पर लगा लें। इससे छोड़ी छरछराहट जरूर होगी मगर तुरंत आपका घाव डिसइंफेक्ट हो जाएगा क्योंकि प्याज का रस बैक्टीरिया को मार देता है। इसके अलावा खाने में भी प्याज और लहसुन का प्रयोग करने से घाव जल्दी भरता है।

इसे भी पढ़ें: चोट या सर्जरी के घाव को जल्दी भरने में मदद करेंगे ये 5 प्राकृतिक तरीके

हल्दी पाउडर

चाकू या कांच जैसी चीज से कटने पर जब घाव तीखा हो, गहरा न हो, तो आप हल्दी पाउडर का भी प्रयोग कर सकते हैंय़। हल्दी में भी एंटीबायोटिक और एंटी-सेप्टिक गुण होते हैं। हल्दी त्वचा के लिए फायदेमंद मानी जाती है और इसमें भी एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं। इसलिए हल्दी का पाउडर छिड़कने से खून बहना तुरंत बंद हो जाता है और घाव भरने भी लगता है।

इन बातों का ध्यान दें- अगर घाव गहरा है, तो आपको किसी क्लीनिक में जाकर पट्टी करवानी चाहिए या घर पर ही फर्स्ट एड किट से पट्टी करनी चाहिए। ऊपर बताई गई चीजों को लगाने के बाद कटे हुए स्थान को साफ कपड़े से ढकना भी जरूरी है, ताकि धूल-मिट्टी और बैक्टीरिया से चोट को बचाया जा सके। इंफेक्शन से बचाव के लिए जरूरी है कि जब भी आप घाव को छुएं या साफ करें, तो अपने हाथों को अच्छे से धोकर पोछ लें।

 

Disclaimer