Expert

हार्मोन्स को संतुलित करने में मदद करती है हल्दी, जानें फायदे और सेवन का तरीका

Turmeric For Hormonal Imbalance: हल्दी हार्मोन्स को संतुलित करने में बहुत लाभकारी साबित हो सकती है, जानें कैसे करें इसे डाइट में शामिल।

 

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarUpdated at: Jan 17, 2023 20:05 IST
हार्मोन्स को संतुलित करने में मदद करती है हल्दी, जानें फायदे और सेवन का तरीका

Turmeric For Hormonal Imbalance: महिलाओं को हार्मोन असंतुलन के लिए कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जिनमें पीसीओएस, पीसीओडी, समय पर पीरियड्स न आना, पीरियड्स के दौरान गंभीर ऐंठन, थायराइड, इन्फर्टिलिटी, गर्भधारण में दिक्कत होना बहुत आम है। इसके अलावा शरीर में हार्मोन्स का संतुलन शरीर के कई अन्य कार्यों में भी बहुत अहम भूमिका निभाता है। हार्मोन्स में गड़बड़ी का अनुभव होने और उपरोक्त समस्याएं होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करने की सलाह दी जाती है, जिससे कि स्थिति को समय रहते कंट्रोल में लाया जा सके। शरीर में हार्मोनल संतुलन को बनाए रखने के लिए डॉक्टर आमतौर पर कुछ जरूरी दवाओं के साथ ही, कछ हेल्थ सप्लीमेंट्स और जीवनशैली की कुछ खराब आदतों में बदलाव का सुझाव दे सकते हैं। इसके अलावा कुछ ऐसे फूड्स भी हैं, जिन्हें अगर हार्मोनल असंतुलन से पीड़ित महिलाएं उपचार के साथ अपनी डाइट में शामिल करती हैं, तो इससे हार्मोन्स के संतुलन में सुधार करने में बहुत मदद मिल सकती है। साथ कई अन्य लाभ भी मिल सकते हैं। ऐसा ही एक बेहतरीन फूड या मसाला है हल्दी।

डायटीशियन मनप्रीत कालरा (Hormone And Gut Health Dietitian) ने अपनी एक इंस्टाग्राम पोस्ट में हार्मोन्स को संतुलित रखने के लिए हल्दी को बहुत कारगर बताया है। साथ ही यह भी बताया है कि यह हार्मोन्स के संतुलन में किस तरह मददगार है। आइए जानते हैं आप इसे अपनी डाइट में कैसे शामिल कर सकते हैं...

Turmeric For Hormonal Imbalance

हार्मोन्स को संतुलित करने में हल्दी के फायदे- Turmeric Benefits For Hormonal Imbalance In Hindi

1. इंसुलिन सेंसिटिविटी में सुधार करता है: अध्ययन में यह दिखाया गया है कि हल्दी ब्लड शुगर लेवल और इंसुलिन के स्तर में सुधार करने में मदद करती है। इसके सेवन से इंसुलिन संवेदनशीलता में भी सुधार होता है।

2. एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होती है: हल्दी में मौजूद करक्यूमिन नामक एक्टिव कंपाउंड एक स्ट्रांग एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण के रूप में काम करता है।

3. डिटॉक्सिफिकेशन में मदद करती है: हल्दी लिवर से टॉक्सिन को नष्ट करने में मदद करती है, जिससे हार्मोन्स के संतुलन में भी मदद मिलती है।

4. हार्मोनल संतुलन को नियंत्रित करती है: हल्दी एक फाइटो-एस्ट्रोजन (एस्ट्रोजन का एक पौधा स्रोत) है जो शरीर में हार्मोन के स्तर को संतुलित करने में मदद करती है।

इसे भी पढें: महिलाओं में डिमेंशिया की शुरुआत में दिखते हैं 6 संकेत, न करें नजरअंदाज

हार्मोनल असंतुलन के लिए हल्दी का सेवन कैसे करें- How To Take Turmeric For Hormone Imbalance

शरीर में हार्मोन्स के संतुलन को बनाए रखने के लिए आप हल्दी का सेवन कई तरह से कर सकते हैं। आप चुटकी भर हल्दी को अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं। इसके अलावा गुनगुने पानी में हल्दी मिलाकर इसका सुबह खाली पेट सेवन कर सकते हैं। आप हल्दी के अचार का सेवन कर सकते हैं। या फिर रात में सोते समय हल्दी वाले दूध का सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा आप अपने डॉक्टर या डायटीशियन से हल्दी के सेवन को लेकर परामर्श कर सकते हैं।

इसे भी पढें: महिलाओं में लिकोरिया की बीमारी क्यों और कैसे होती है? डॉक्टर से जानें कारण और इलाज

इस तरह हल्दी को डाइट में शामिल करने से आपको हार्मोन्स को संतुलित रखने में काफी मदद मिलेगी। लेकिन आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि यह कोई चिकित्सीय विकल्प नहीं है, बल्कि यह आपको डॉक्टर द्वारा सुझाए उपचार के साथ जल्दी हार्मोन्स के संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है।

All Image Source: Freepik

 
Disclaimer