How to Apply Hand Sanitizer: 99.9 फीसदी कीटाणुओं को मारने का सही तरीका है ये, फ्लू और संक्रमण से होगा बचाव

फ्लू और संक्रमण से बचने का सबसे आसान तरीका है हाथ धोना लेकिन ज्यादातर लोग हाथ धोने का सही तरीका नहीं जानते हैं। जानें कैसे।

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Mar 02, 2020
How to Apply Hand Sanitizer: 99.9 फीसदी कीटाणुओं को मारने का सही तरीका है ये, फ्लू और संक्रमण से होगा बचाव

चीन समेत दुनिया भर में कोरोनावायरस (COVID-19) की दहशत के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन और दुनियाभर के तमाम स्वास्थ्य संगठन बार-बार हाथ धोने की सलाह दे रहे हैं। लोग भले ही हाथ धोने को एक छोटी सी सलाह मानकर चल रहे हों लेकिन ये वाकई में कई तरह के रोगों से बचने का सबसे आसान तरीका है। जी हां, मौजूदा वक्त में हम एक ऐसी जिंदगी जी रहे हैं, जहां हर किसी को बस भागने की जल्दी है। फिर चाहे वह लंबी यात्रा के दौरान सार्वजनिक शौचालयों का प्रयोग हो या फिर बसों, ट्रेनों और सार्वजनिक स्थानों पर प्रयोग होने वाली आम वस्तुओं के संपर्क में आना। हमारे हाथ रोजाना अरबों कीटाणुओं के सीधे संपर्क में आते हैं।

Hand Sanitizer

ये भी संभव नहीं है कि हर बार साबुन और पानी से हाथ धोएं जाएं क्योंकि हमारे पास कई बार ऐसी स्थितियां होती है, जिसमें इन दोनों चीजों का उपलब्ध हो पाना संभव हो। इसलिए अब ज्यादातर लोगों ने एल्कोहल वाले हैंड सैनिटाइजर अपने लाथ लेकर चलना शुरू कर दिया है। इन हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग करने के लिए पानी की जरूरत नहीं होती है और ये सामान्य साबुन और पानी का सबसे अच्छा विकल्प बन चुके हैं। लेकिन हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग करने वाले ज्यादातर लोग हैंड सैनिटाइजर का सही प्रयोग नहीं जानते हैं और न ही उन्हें पता होता है कि ज्यादा फायदा पाने के लिए हैंड सैनिटाइजर को प्रयोग करने का सही तरीका क्या है। अगर आप भी इस दुविधा में फंसे हैं तो हम इस लेख के जरिए आपकी इस दुविधा को दूर करने जा रहे हैं। नीचे लेख में पढ़ें ज्यादा फायदा पाने के लिए हैंड सैनिटाइजर के प्रयोग का सही तरीका।

ज्यादा लाभ पाने के लिए इस तरह प्रयोग करें हैंड सैनिटाइजर 

मौजूदा वक्त में जागरूकता के कारण बहुत से लोग हैंड सैनिटाइजर के प्रयोग से भलीभांति वाकिफ हैं लेकिन सभी लोग इसे कैसे प्रयोग करना है इसका सही तरीका नहीं जानते हैं। वे लोग, जो पहली बार हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग कर रहे हैं उनके लिए ये बात जानना बहुत ही जरूरी है कि एल्कोहल वाले  हैंड सैनिटाइजर में कम से कम 60 से 95 फीसदी तक एल्कोहल होता है। अगर आप भी उन लोगों की तरह हैं, जो अपने हाथों पर बहुत सारा सैनिटाइजर लेकर दोनों हाथों पर तेजी से मलते हैं और सोचते हैं कि काम खत्म हो गया तो जान लें कि ये इन हैंड सैनिटाइजर के प्रयोग का बिल्कुल भी सही तरीका नहीं है।

इसे भी पढ़ेंः शरीर में इन 3 चीजों की कमी से सोते वक्त चढ़ जाती है अंगों की नस, जानें कैसे पूरी करें इन पोषक तत्वों की कमी

Hand Sanitizer benefits

अगर आप चाहते हैं कि आपका हैंड सैनिटाइजर अपना काम सही तरीके से करे और 99.9 कीटाणु आपके हाथों से खत्म हो जाएं तो आप अपने हाथों पर इसे फटाफट लगाने की गलती न करें। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन (सीडीसी) के मुताबिक, ज्यादातर लोग हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग करते वक्त कुछ आम गलतियां करते हैं, जो कि इस प्रकार हैंः

  • कभी भी सैनिटाइजर का प्रयोग करते वक्त ज्यादा मात्रा न लें।
  • इसे सूखने से पहले ही इसे पोंछ दें।

इस लेख में हम आपको हैंड सैनिटाइजर को प्रयोग करने का सही तरीका बता रहे हैं ताकि आप ज्यादा से ज्यादा कीटाणुओं और बैक्टीरिया से लड़ सकें। लेकिन इससे पहले आपके लिए ये जानना बहुत ही जरूरी है कि एक व्यक्ति को कितनी मात्रा में हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग करना चाहिए।

इसे भी पढ़ेंः सुबह खाली पेट दही खाने से साफ हो जाती है आंतों में जमा सारी गंदगी, शरीर रहता है हमेशा तंदरुस्त

अगर आपके मन में बार-बार ये ख्याल आता है कि कितना सैनिटाइजर आपके लिए सही है तो इसका जवाब आपके हाथ ही हैं। जी हां, आपके हाथ के साइज पर इसकी मात्रा निर्भर करती है। आपके हाथ जितने बड़े होंगे उतनी मात्रा की जरूरत होगी। लेकिन एक बात की गांठ बांध लें, किसी भी व्यक्ति को अठन्नी यानी के पचास पैसे के सिक्के के बराबर कम से कम मात्रा का प्रयोग करना चाहिए। इसके बाद आप इसे पूरे हाथ पर अच्छी तरह से मल लें। 

हैंड सैनिटाइजर लगाने का सही और बिल्कुल सटीक तरीका 

  • अपने हाथों पर अठन्नी यानी के पचास पैसे के सिक्के के बराबर की सैनिटाइजर की मात्रा लें। 
  • अपने दोनों हाथों पर अच्छी तरह से मलें और सुनिश्चित करें कि आपके दोनों हाथों का पूरा भाग इसमें कवर हो जाए।
  • उंगली से लेकर नाखून तक और उंगली के बीच किसी भी हिस्से पर सैनिटाइजर लगाने या फिर मलना न भूलें। 
  • कम से कम 30 सेकेंड तक अपने हाथों को अच्छी तरह से मलें। 
  • इसके अलावा जब तक आपके हाथ पूरी तरह से नहीं सूख जाते तब तक किसी चीज को न छुएं।

Read More Articles On Miscellaneous In Hindi

Disclaimer