कैसे वाइन के सेवन से कम होता है वजन

वाइन का सेवन आपके मोटापे को कम कर सकता है, बशर्ते नियंत्रित मात्रा में इसका सेवन किया जाए, एक शोध की मानें तो रोजाना एक गिलास रेड वाइन पीने से वजन कम होता है।

Aditi Singh
वज़न प्रबंधनWritten by: Aditi Singh Published at: Mar 20, 2015
कैसे वाइन के सेवन से कम होता है वजन

वाइन का सेवन सेहत के लिए हानिकारक होता है, लेकिन सीमित मात्रा में इसके सेवन से कुछ लाभ भी होते हैं। वाइन मोटापे को कम करता है। सुनने में भले ही ये अजीब लगता हो लेकिन ये सच है। अगर आप एक गिलास वाइन पीते हैं तो इससे आपका वजन नियंत्रण में रहता है। हालांकि इस बात का ध्यान रहे कि ज्यादा शराब आपके वजन को बढ़ा भी सकती है। इसलिए इसके सेवन में सावधानी रखना जरूरी होता है। इसमें पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट रेसवेरेट्रॉल शरीर की मांसपेशियों और दिल के लिए स्वास्थ्यवर्धक होता है।  


Wine

क्या होते हैं फायदें

यह सबसे ज्या‍दा हेल्दी अल्कोहॉलिक ड्रिंक मानी जाती है। रोजाना एक ग्लारस वाइन के सेवन से आपमें हार्ट स्ट्रोडक और अन्यी बीमारियों से लड़ने की ताकत आएगी। यह उन लोगो के लिये एक तरह का प्राकृतिक उपचार है, जो हार्ट की बीमारी से लड़ रहे हैं। रेड वाइन अंगूर और प्राकृतिक एंटीऑक्सीरडेंट, जैसे एचडीएल के मेल से बनी होती है, जो स्ट्रेस को कम करती है।ऐसे लोग जिनको अपना वजन केवल शराब आदि के सेवन से ही कम करना है, उनके लिये वोडका उचित होगा। वोडका में विटामिन और मिनरल पाए जाते हैं। विटामिन बी, फास्फोरस, पोटैशियम और सोडियम आदि होते हैं। वोडका से वजन कम होता है क्योंकि उसमें बहुत ही कम कैलोरी पाई जाती है और यह कार्डियोवेस्कुलर हेल्थ के लिये भी अच्छा होता है।

ब्‍लडी मैरी शराब टमाटर के रस से बनाई जाती है और इसकी एक सीमित मात्रा शरीर के लिये बहुत अच्छी मानी जाती है। ब्लडी मैरी का एक ग्लास भूख को मिटाता है और स्वस्थ रखता है। बीयर में भी कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट और पोषक तत्व पाए जाते हैं, जैसे प्रोटीन, विटामिन बी, फास्फोरस, मैगनीसियम, आयरन, नियासिन और राइबोफ्लेविंन आदि। बीयर पीने से अवसाद और स्ट्रेस कम होता है और साथ में यह दिमाग के लिये भी अच्छार होता है। लेकिन बीयर का ज्यारदा सेवन काफी अनहेल्दी  हो सकता है। ज्याछदा बीयर पीने से लीवर खराब हो सकता है और मोटापा भी बढता है।

wine
क्या कहता है शोध

कनाडा की यूनिवर्सिटी ऑफ अल्बार्टा के जेसन डाइक ने कहा, 'मुझे लगता है कि रेसवेरेट्रॉल मरीजों की उस जमात के लिए फायदेमंद हो सकता है, जो व्यायाम करना तो चाहते हैं, लेकिन शारीरिक कमजोरी या असमर्थता के कारण ऐसा नहीं कर पाते। रेसवेरेट्रॉल ऐसे व्यक्तियों को व्यायाम के फायदे बिना व्यायाम किए दिला सकता है।' लैब में किए गए प्रयोगों में डाइक और उनकी टीम ने पाया कि रेसवेरेट्रॉल की अधिक मात्रा शारीरिक प्रदर्शन, हृदय की कार्य प्रणाली और मांसपेशियों को मजबूत बनाने में काफी हद तक सुधार ला सकती है।

अल्कोहल और वजन ब़ढ़ने के बीच सकारात्मक संबंध उन्हीं लोगों में पाए गए, जिन्होंने ज्यादा मात्रा में शराब का सेवन किया।

ImageCourtesy@GettyImages

Read More Article on Weightloss In Hindi

Disclaimer