मानसून में गले की खराश और नाक बहने की समस्या से छुटकारा दिलाएगा ये होममेड ड्रिंक

Monsoon health care: बदलते मौसम में लोगों को कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इन्हीं में से जुकाम, खांसी, गले की खराश।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Jun 27, 2022Updated at: Jun 28, 2022
मानसून में गले की खराश और नाक बहने की समस्या से छुटकारा दिलाएगा ये होममेड ड्रिंक

इन दिनों देश के ज्यादातर हिस्सों में मौसम बदल रहा है। कभी बारिश, कभी धूप होने की वजह से सर्दी, जुकाम, खांसी, गले में खराश जैसी कई समस्याएं इन दिनों में बढ़ जाती हैं। बदलते मौसम में बीमारियों का खतरा सबसे ज्यादा घर के बुजुर्गों और बच्चों को होता है। कोरोना के दौर में सर्दी, खांसी, गले की खराश, नाक बहने जैसे लक्षणों को यूं ही लेना भविष्य में आपकी चिंता को बढ़ा सकता है। मानसून के मौसम में अगर आपको गले की खराश और नाक बहने जैसे लक्षण दिखाई देते हैं तो इसके लिए आप आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉक्टर दीक्षा भावसार द्वारा सुझाया गया घरेलू नुस्खा ट्राई कर सकते हैं। ये घरेलू नुस्खा न सिर्फ आपको नाक बहने और गले की खराश से राहत दिलाएगा बल्कि लंबे समय तक शरीर को बीमारियों से लड़ने की क्षमता प्रदान करने में मदद करेगा।

गले की खराश और नाक बहने के लिए घरेलू नुस्खा

आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉक्टर दीक्षा भावसार का कहना है कि इस नुस्खे को अपनाने के लिए आपको कोई भी सामग्री बाहर से लाने की जरूरत नहीं है। आप अपने किचन में मौजूद कुछ चीजों से ही इसे तैयार कर सकते हैं।

मिश्रण के लिए सामग्री

  • पुदीना के पत्ते
  • अजवाइन
  • मेथी के दाने
  • हल्दी की गांठ या पाउडर

मिश्रण कैसे करें तैयार

  • इसे तैयार करने के लिए 2 गिलास पानी लें।
  • इस पानी में 1 चम्मच अजवाइन को मिलाएं
  • अब इसमें मुट्ठी भर पुदीना डालें और गर्म करें।
  • हल्का गर्म होने के बाद इसमें आधा छोटा चम्मच मेथी
  • आधी हल्दी की गांठ या आधा चम्मच हल्दी पाउडर मिलाएं।
  • इस मिश्रण को मध्यम आंच पर 7-10 मिनट तक उबालें।

Monsoon_Care

कैसे करें इस्तेमाल?

डॉक्टर दीक्षा भावसार का कहना है कि आयुर्वेद के अनुसार यह एक सुपर वर्सेटाइल तरीका है। इसे तीन तरीकों से इस्तेमाल किया जा सकता है।

1. स्टीमिंग (भाप लेना)

डॉक्टर के अनुसार जो लोग इस मिश्रण का इस्तेमाल स्टीमिंग के लिए कर रहे हैं, उन्हें इसे तैयार करने के तुरंत बाद ही इसका प्रयोग करना होगा। एक बार ठंडा होने के बाद इसका असर खत्म हो जाएगा। आप दिन में 2 से 3 बार इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः आलिया भट्ट ने मां बनने की खबर देकर सभी को चौंकाया, शेयर की रणबीर कपूर के साथ ये प्यारी तस्वीर

2. काढ़े के तौर पर

काढ़े के तौर पर इस मिश्रण का इस्तेमाल कर रहे लोगों को स्वाद में थोड़ा कड़वापन आ सकता है, ऐसे में आप शहद मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं। इस मिश्रण का सेवन सुबह खाली पेट या खाना खाने के 1 से 2 घंटे बाद करना चाहिए।

3. गरारे करने के लिए

गरारे करने के लिए इस मिश्रण का हल्का गुनगुना जरूरी है। गले की खराश और बंद नाक जैसी प्रॉब्लम को दूर करने के लिए आप दिन में 3 बार इससे गरारे कर सकते हैं।

मानसून के मौसम में सर्दी, खांसी और जुकाम जैसी प्रॉब्लम से अगर आपको घरेलू नुस्खों से राहत नहीं मिलती है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें। ध्यान रहे कि हर इंसान की बॉडी अलग होती है ऐसे में हर नुस्खा हर इंसान को राहत दिलाने में मददगार नहीं हो सकता है। 

(All Image Credit- Freepik.com)

Disclaimer