शिल्पा शेट्टी से जानें इसकी रेसिपी।

"/>

शिल्पा शेट्टी ने बताई होली पर ठंडाई बनाने की खास रेसिपी, डायबिटिक लोगों के लिए भी रहेगा फायदेमंद

ठंडाई यह मूल रूप से खसखस, नट्स, खरबूजे के बीज, गुलाब जल और गुलाब की पंखुड़ियों से बना दूध आधारित पेय है। शिल्पा शेट्टी से जानें इसकी रेसिपी।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Mar 18, 2022 12:44 IST
शिल्पा शेट्टी ने बताई होली पर ठंडाई बनाने की खास रेसिपी, डायबिटिक लोगों के लिए भी रहेगा फायदेमंद

रंगों का त्योहार, होली लगभग आ ही चुका है। भारत के कई शहरों में तो इसे लोग हफ्ते भर पहले से ही मना रहे है। ठंडाई होली मनाने का एक अनिवार्य हिस्सा है। बादाम, खसखस और गुलाब की पत्तियों से बनी ठंडाई होली पर आपको तरोताजा बने रहने में मदद करेगी। अधिकतर घरों में होली पर ठंडाई जरूर बनती है। उत्तर प्रदेश समेत कई जगह ये स्पेशल होली ड्रिंक के बिना, तो त्योहार का मजा ही नहीं आता है। इसके हेल्थ के फायदों के बारे में आपको बताएं तो ठंडाई (benefits of thandai) एसिडिटी, पेट में जलन, अपच जैसी समस्याओं में बहुत फायदेमंद है। साथ ही जिन लोगों को डायबिटीज या वजन बढ़ जाने का डर है, वो अक्सर होली में कुछ खाने-पीने से बचने की कोशिश करते हैं। पर अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी कुंद्रा का मानना है कि होली के त्योहार के बीच, ठंडाई और मीठे से बचे रहना लगभग लोगों के लिए असंभव सा ही है। पूरे दिन ऊर्जा स्तर बनाए रखना मुश्किल हो सकता है। ऐसे में वो खसखस और बादाम से बने ठंडाई को एक अच्छा विकल्प बता रही हैं। आइए जानते हैं इस ठंडाई की रेसिपी (holi thandai recipe) के बारे में। 

insideholi2020

कैसे फायदेमंद है खसखस से बनी ठंडाई?

शिल्पा कुंद्रा (Shilpa Shetty Recipe) के अनुसार, खसखस वाला ये ठंडाई (holi thandai recipe in hindi) एक एनर्जी बूस्टर हो सकता है, जो तात्कालिक राहत और एनर्जी दे सकता है। शिल्पा बताती हैं कि खसखस (benefits of khas khas) इस ठंडाई का प्रमुख घटक है। वह वीडियो में कहती है। खसखस का उपयोग (how to use khus khus) हर्बल दवाओं में भी किया जाता है और इसमें कुछ अद्भुत एंटीबायोटिक गुण होते हैं। इसके साथ ये आपके थके हुए मांसपेशियों को आराम करके शांत कर सकता है। वहीं आप इसे गर्मी में भी एक पेय पदार्थ की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। दूसरी ओर, बादाम एक प्रोटीन से भरपूर नट है, जो कई तरह के स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है। यह फाइबर, विटामिन ई, मैग्नीशियम, कैल्शियम और पोटेशियम से समृद्ध है। कुल मिलाकर ये ठंडाई स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है।

इसे भी पढ़ें : इस होली को बनाना चाहते हैं इको-फ्रेंडली तो अपनाएं ये 4 तरीके, शराब को भी कहें 'न'

खसखस से ठंडाई बनाने की साम्रगी

  • -खस खस (1 बड़ा चम्मच)
  • - खरबूजे के बीज (1 चम्मच)
  • -सूरजमुखी के बीज (1 चम्मच)
  • - सौंफ (2 चम्मच), 
  • -काली मिर्च (2-3 दाने)
  • -जायफल पाउडर (1 चम्मच)  -इलाइची या इलायची पाउडर (1/4 चम्मच)
  • - पिस्ता पाउडर (2-3 बड़ा चम्मच)। 
  • -मेपल सिरप या शहद
insidekhakhasthandai

बनाने का तरीका

  • - सबसे पहले इन सबको पीस लें।
  • -अब, एक पैन में बादाम का दूध (800 मिली) डालें और पीसा हुआ मिश्रण डालें।
  • - साथ ही केसर डालकर अच्छी तरह हिलाएं।
  • - सुनिश्चित करें कि गांठ नहीं बनें।
  • - दूध को तब तक पकाएं जब तक वो गाढ़ी न हो जाए।
  • - गैस बंद करें और इसे ठंडा होने दें।
  • -एक बार फ्रिज में रखने के बाद ही इसे पूरी तरह से ठंडा करें।
  • - मीठा करने के लिए मेपल सिरप मिलाएं ।
  • - आप शहद के साथ पेय को मीठा भी कर सकते हैं। 
  • -ठंडाई को गिलास में डालें और ठंडा करें। 
  • -ऊपर से कटे हुए ड्राई-फूड्रस डाल के सजा लें। 
inside_khaskhasbenefits

इसे भी पढ़ें : Holi Special: ठंडाई और मिठाईयों के बिना अधूरा है होली का त्‍योहार, जानें यहां खास होली स्‍पेशल रेसेपीज

खसखस का पोषण तत्व 

खसखस के साथ उच्च पोषण मूल्य जुड़ा हुआ है। यह जड़ी बूटी ओमेगा -6 फैटी एसिड का एक समृद्ध स्रोत है, जो चयापचय और विकास के लिए अच्छा माना जाता है। खसखस में प्रोटीन, विटामिन, खनिज और आहार फाइबर भी मौजूद होते हैं, जो इसे व्यंजनों में एक महत्वपूर्ण घटक बनाते हैं। पोषण मूल्य के संदर्भ में,  इसके 100 ग्राम बीज में 18 ग्राम प्रोटीन, 28 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 20 ग्राम आहार फाइबर और 3 ग्राम चीनी होती है। ये जब एक स्वस्थ अनुपात में दैनिक उपभोग किया जाता है और शरीर के संपूर्ण स्वास्थ्य को नियंत्रित करने में मदद करता है।

Watch Video: होली सेफ्टी टिप्स

खसखस के फायदे-Benefits of khas khas

  • -सूजन को जल्दी ठीक करता है।
  • -अच्छी नींद में मदद करता है।
  • - दर्द निवारक है।
  • -इम्यूनिटी को बेहतर बनाने में मदद करता है।
  • -पाचन में सुधार करता है।
इस तरह आप इस होली खसखस की  ठंडाई  बना कर पी सकते हैं। तो, कोरोना वायरस के कहर के बीच घर पर रहें और घर बैठे ही त्योहार का मजा लें।
Disclaimer