वजन बढ़ाना चाहते हैं तो खाएं ये 5 देसी और हेल्दी मीठी डिश, शरीर में बढ़ने लगेगा मांस

बात जब वजन को मैनेज करने और हेल्दी रहने की आती है तो अक्सर लोग मीठे से दूर रहने की सलाह देते हैं।

सम्‍पादकीय विभाग
स्वस्थ आहारWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Jun 10, 2022Updated at: Jun 10, 2022
वजन बढ़ाना चाहते हैं तो खाएं ये 5 देसी और हेल्दी मीठी डिश, शरीर में बढ़ने लगेगा मांस

हमारी डेली डाइट में प्रोटीन, विटामिन्स ऐसे न्यूट्रिएंट हैं, जिसे कभी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। खासकर प्रोटीन एक ऐसा न्यूट्रिएंट हैं, जो न सिर्फ शरीर और दिमाग को हेल्दी रखने में मदद करता है, बल्कि बॉडी मसल्स और टिश्यू को बनाने में भी मददगार साबित होता है। जिन लोगों को अपना वजन बढ़ाना होता है, उन्हें भी डेली डाइट में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन लेने कि सलाह दी जाती है। जब बात आती है प्रोटीन की तो अंडे, दूध जैसे ऑप्शन दिमाग आते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं हमारे भारत में खाई जाने वाली मिठाइयों में भी हाई प्रोटीन (High Protein Sweets) पाया जाता है। हाई प्रोटीन से भरपूर इन मिठाइयों में फैट और शुगर भी पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, इसलिए जिन लोगों को अपना वजन बढ़ाना है सिर्फ उन्हें ही ये खाने की सलाह दी जाती है। आइए जानते हैं हाई प्रोटीन से भरपूर भारतीय मिठाइयों के बारे में...

मिल्क केक

नाम से पता चलता है कि मिल्क केक, दूध से मनाया जाता है। दूध, मावा और ड्राई फ्रूट्स से मिलाकर बनने वाला मिल्क केक प्रोटीन का एक अच्छा सोर्स है। इस मिठाई में सभी तरह के अमीनो एसिड होते हैं, जो शरीर को वजन बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। मिल्क केक को बनाने में खोया का इस्तेमाल किया जाता है जो इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग बनाने, हेल्दी बाल और स्किन के लिए फायदेमंद होता है।

बेसन के लड्डू

जब बात मीठा खाने की आती है तो सबसे पहले दिमाग में नाम आता है बेसन के लड्डू का। बेसन के लड्डू में फोलिक एसिड पाया जाता है, जो बॉडी में व्हाइट ब्लड सेल्स का विकास करता है। बेसन में प्रोटीन, फाइबर, फोलेट और विटामिन-बी12 पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर का वजन बढ़ाने में मददगार साबित हो सकते हैं। अगर आप वजन बढ़ाने का प्लान कर रहे हैं तो रोजाना देसी घी में बने 2 से 3 बेसन के लड्डू खा सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः चिकन-मटन नहीं, ये 5 वेजिटेरियन फूड करेंगे मसल्स बनाने में मदद

मिष्टी दोई

पश्चिम बंगाल और ओडिशा के कुछ क्षेत्रों में खाई जाने वाली मिष्टी दोई, दही और गुड़ को मिलाकर बनाई जाती है। गुड़ और दही के कारण यह प्रोटीन का अच्छा सोर्स मानी जाती है। इसके साथ ही दही में प्रोबायोटिक पाया जाता है, जो पेट के लिए भी अच्छा माना जाता है। मिष्टी दोई का सेवन जो लोग वजन कम कर रहे हैं और जो लोग बढ़ाना चाहते हैं दोनों को करने की सलाह दी जाती है। 

मूंग दाल हलवा

मूंग दाल को हाई प्रोटीन का सोर्स माना जाता है। जब इस मूंग दाल का हलवा बनता है तो इसमें पोटेशियम, मैग्नीशियम जैसे सोर्स भी मिल जाते हैं। चीनी, घी और ड्राई फ्रूट्स को मिलाकर बनने वाला मूंग दाल हलवा ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखने में मदद करता है। घी और ड्राई फ्रूट्स का मिक्स होने के कारण यह मसल्स को बढ़ाने में भी मददगार साबित होता है।

इसे भी पढ़ेंः Fat to Fit: आशु ने 4 महीने में 18 किलो कम किया वजन, जानें उनका डाइट प्लान और डेली रूटीन

फलों की फिरनी

वजन और मसल्स बढ़ाने वाले लोगों को अक्सर फल और चावल खाने की सलाह दी जाती है। अगर आपको फल और चावल को एक साथ खाने की चाहत रखते हैं तो फलों की फिरनी ट्राई कर सकते हैं। आप चाहे तो चावल की जगह इसमें पोहे का इस्तेमाल करके इसे हेल्दी बना सकते हैं। फ्रूट प्रोटीन और फाइबर का अच्छा सोर्स मानें जाते हैं जो शरीर को हेल्दी बनाए रखने में मददगार साबित होते हैं।

अगर आप हाई प्रोटीन के साथ मीठे की तलाश कर रहे हैं तो इन इंडियन स्वीट्स को ट्राई कर सकते हैं। इन मिठाइयों को अपनी डेली डाइट में शामिल करने से पहले एक बात का ध्यान अवश्य रखें कि किसी भी चीज का ज्यादा मात्रा में सेवन करना आपकी सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है इसलिए बिना एक्सपर्ट की सलाह लिए मिठाई का ज्यादा सेवन न करें।

(All Image Source - Freepik.com)


Disclaimer