High Protein Diet: लो-कार्ब और हाई-प्रोटीन डाइट चाहते हैं तो जरूर खाएं हरी बीन्स, जानें इसके सेवन के 5 फायदे

अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं तो आपको लो कार्ब और हाई प्रोटीन डाइट लेनी चाहिए। इस तरह की डाइट में कार्बोहाइट्रेट्स कम होते हैं और प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती है। हरी बीन्स (ग्रीन बीन्स) में ये दोनों ही चीजें पाई जाती हैं, इसलिए इसे वजन घटाने के ल

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Aug 24, 2019
High Protein Diet: लो-कार्ब और हाई-प्रोटीन डाइट चाहते हैं तो जरूर खाएं हरी बीन्स, जानें इसके सेवन के 5 फायदे

अगर आप अपनी डाइट से कार्बोहाइड्रेट्स यानी कार्ब्स को कम करना चाहते हैं और प्रोटीन की मात्रा बढ़ाना चाहते हैं, तो आपको हरी बीन्स का सेवन जरूर करना चाहिए। लो-कार्ब डाइट (Low Carb Diet) को सेहत के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। इसका कारण यह है कि जब आप कार्ब्स का सेवन कम करते हैं, तो आपको भूख कम लगती है और आपका वजन कंट्रोल में रहता है। ग्रीन बीन्स शाकाहारी लोगों के लिए प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत (High Protein Diet) हैं। हालांकि मांसाहारी आहारों से आपको प्रोटीन तो मिल जाता है, मगर वैज्ञानिक बताते हैं कि पौधों से प्राप्त होने वाला प्रोटीन ज्यादा फायदेमंद होता है। यही कारण है कि वजन घटाने के लिए बीन्स को बहुत अच्छा आहार माना जाता है।(Diet for Healthy Weight Loss)

हरी बीन्स में कार्बोहाइड्रेट्स कम होते हैं, मगर प्रोटीन की मात्रा अच्छी होती है। इसके साथ ही इसमें घुलनशील फाइबर होता है और ढेर सारे मिनरल्स जैसे- जिंक, आयरन, पोटैशियम आदि पाए जाते हैं। यही कारण है कि ग्रीन बीन्स खाने से हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों और कोलेस्ट्रॉल के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है। 

इसे भी पढ़ें:- सिर्फ 2 दिन में शरीर में जमा गंदगी बाहर (बॉडी डिटॉक्स) करने के लिए अपनाएं ये डाइट, जानें पूरा प्लान

लो-कार्ब डाइट क्यों है जरूरी

आपके शरीर को ज्यादा कार्बोहाइड्रेट्स की जरूरत तब पड़ती है, जब आप बहुत ज्यादा मेहनत वाला काम, जैसे- जिम में घंटों हाई इंटेंसिटी ट्रेनिंग, खेल, दौड़ आदि करते हैं। अगर आप सामान्य मेहनत करते हैं और ऑफिस जॉब करते हैं, तो आपको अपनी डाइट में कार्ब्स की मात्रा कम रखनी चाहिए। इसका कारण यह है कि ज्यादा कार्ब्स के कारण आपका वजन बढ़ता है, शरीर में एक्सट्रा फैट जमा होता है और आप कई तरह के रोगों के शिकार होने लगते हैं। इसलिए अगर आप स्पोर्ट्समैन या जिम में हैवी एक्सरसाइज करने वाले व्यक्ति नहीं हैं, तो अपनी डाइट में कम ही कार्बोहाइड्रेट्स रखें।

हरी बीन्स होती है बहुत पौष्टिक

हरी बीन्स का सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। आधी कप कटी हुई हरी बीन्स में 20 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है, जिसमें से 9 ग्राम फाइबर होता है। इसलिए एक तरह से कार्ब्स की मात्रा 11 ग्राम ही होती है। यही कारण है बीन्स को लो-कार्ब डाइट में शामिल किया जा सकता है। इसमें मौजूद फाइबर के कारण बीन्स को आसानी से पचाया जा सकता है। ये फाइबर और कार्बोहाइड्रेट्स ही हैं, जिनके कारण खाना खाने के बाद आपको अपना पेट भरा हुआ महसूस होता है। इसलिए अगर आप लो-कार्ब डाइट ले रहे हैं, तो खाने में फाइबर की मात्रा अच्छी रखें।

इसे भी पढ़ें:- कच्चे केले की सब्जी खाना सेहत के लिए है फायदेमंद, जानें 4 फायदे और स्वादिष्ट रेसिपी

हरी बीन्स खाने के फायदे

  • हरी बीन्स खाने से आपका वजन नहीं बढ़ता है क्योंकि 1 कप हरी बीन्स में केवल 31 कैलोरीज होती हैं।
  • ग्रीन बीन्स को हार्ट के लिए बहुत अच्छा माना जाता है क्योंकि ये शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को घटाते हैं। हरी बीन्स में घुलनशील फाइबर होता है, जो खराब कोलेस्ट्रॉल (LDL Cholesterol) को कम करता है।
  • हरी बीन्स खाने से आपका पाचन अच्छा रहता है और कब्ज-अपच की समस्या दूर होती है क्योंकि इसमें फाइबर होता है, जो मल को मुलायम बनाता है और आंतों की अच्छी तरह सफाई करता है।
  • हरी बीन्स प्रोटीन का अच्छा स्रोत होते हैं इसलिए इसके सेवन से आपकी हड्डियां मजबूती हैं। इशके अलावा मांसपेशियां और बाल भी मजबूत होते हैं। एक कप ग्रीन बीन्स में 2 ग्राम प्रोटीन होता है।
  • हरी बीन्स विटामिन्स और मिनरल्स का बहुत अच्छा स्रोत है। एक कप हरी बीन्स में 33 माइक्रोग्राम फॉलेट होता है, जो गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

Read more articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer