क्या कई घंटे पहले कटी हुई या काटकर फ्रिज में रखी हुई कच्ची प्याज खाना हो सकता है खतरनाक? जानें सच्चाई

क्या देर से काटकर रखी गई प्याज में वाकई जहरीले तत्व पैदा हो जाते हैं? क्या काटकर खुली हवा या फ्रिज में रखी गई प्याज खाना खतरनाक है, जानें यहां।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Aug 17, 2020Updated at: Aug 17, 2020
क्या कई घंटे पहले कटी हुई या काटकर फ्रिज में रखी हुई कच्ची प्याज खाना हो सकता है खतरनाक? जानें सच्चाई

भारतीय खाने में प्याज का बड़ा महत्व है। दाल-सब्जी को छौंकने, ग्रैवी बनाने और सलाद के रूप में खाने में प्याज का बड़े स्तर पर इस्तेमाल किया जाता है। बहुत सारे लोगों को खाने के साथ कच्ची प्याज खाना अच्छा लगता है और ये आपकी सेहत के लिए फायदेमंद भी है। लेकिन कुछ लोग मानते हैं कि देर से कटी हुई प्याज का सेवन करना खतरनाक होता है, भले ही वो खुली हवा में रखी गई हो या फ्रिज में, क्योंकि उनमें हानिकारक टॉन्सिन्स और बैक्टीरिया पैदा हो जाते हैं। रेस्टोरेंट्स, खोमचे, रेहड़ी और दूसरी फूड शॉप्स में आमतौर पर प्याज का इस्तेमाल खूब होता है। इनमें से ज्यादातर जगहों पर फूड बनाने से कई घंटे पहले ही प्याज आदि काटकर रख लिया जाता है, ताकि कस्टमर को जल्दी सर्व किया जा सके। लेकिन पहले से काटकर रखी गई ये प्याज आपके लिए खतरनाक हो सकती है या फायदेमंद, अथवा इसके कोई नुकसान हैं, हम आपको बता रहे हैं।

eating raw cut onion precautions

ताजी कटी कच्ची प्याज है सेहत के लिए फायदेमंद (Benefits of Eating Raw Onion in Meal)

अगर आप किसी भी खाने के साथ ताजी कटी हुई कच्ची प्याज का सेवन करते हैं, तो ये आपके शरीर और सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। प्याज में ढेर सारे केमिकल कंपाउंड्स होते हैं, जो पेट और हार्ट के लिए फायदेमंद होते हैं। ताजी कटी प्याज में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण भी होते हैं। इसलिए कच्ची प्याज के सेवन से कैंसर, हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज जैसी कई बीमारियों को कंट्रोल करने में मदद मिलती है। प्याज में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स आपकी त्वचा और बालों के लिए फायदेमंद होते हैं। इसलिए आपको कच्ची प्याज का सेवन जरूर करना चाहिए और रोज करना चाहिए।

benefits of eating raw onion in meal

क्या खतरनाक है पहले से काटकर रखी गई प्याज?

जैसा कि पहले ही बताया जा चुका है कि प्याज में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं लेकिन इंटरनेट पर कुछ लोगों का दावा है कि "कटी हुई प्याज बैक्टीरिया के लिए एक तरह के चुंबक का काम करती है। अगर आप प्याज को काटकर कुछ घंटों के लिए छोड़ देते हैं, तो इस पर अन्य खाने की अपेक्षा बैक्टीरिया बहुत तेजी से चिपकने लगते हैं।" ये बात सही तो है लेकिन पूरी तरह सही नहीं है।

National Onion Association के अनुसार प्याज के रस में एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं, जिसके कारण ये बैक्टीरिया को अपनी तरफ आकर्षित नहीं करता, बल्कि उसे खत्म करता है। ये बात अलग है कि कटी हुई प्याज हो या कोई दूसरा फूड आइटम, अगर उसे देर तक खुली हवा में रखते हैं, तो उस पर हवा में मौजूद हानिकारक तत्व चिपककर उसे खराब कर सकते हैं। ऐसे में यह तो जरूर है कि देर से कटी हुई प्याज का सेवन करना ठीक नहीं है, अगर वो खुली हवा और प्रदूषण की मौजूदगी में देर से रखी गई हो, लेकिन यह दावा भी सही नहीं है कि प्याज बैक्टीरिया को अपनी तरफ आकर्षित करता है और काटकर रखने पर इसमें जहरीले तत्व पैदा हो जाते हैं। ध्यान रखें कि बाजार में छोटे फूड वेंडर्स अधिकतर उन्हीं गंदे हाथों से प्याज काटते देखे जा सकते हैं, जिससे वे पैसे लेते हैं, फूड सर्व करते हैं, जूठी प्लेट्स उठाते हैं आदि। ऐसे में बाजार में मिलने वाले किसी फूड में अगर कच्चे प्याज का इस्तेमाल है, तो वो आपके लिए विशेष तौर पर नुकसानदायक हो सकता है।

ज़िप बैग या फ्रिज में कटी प्याज रखना सेफ है?

अगर आप प्याज को फ्रिज में काटकर खुला रखते हैं, तो भी इसका इस्तेमाल सेफ नहीं है। खुली हवा की अपेक्षा एयर टाइट जिप बैग में प्याज रखना ज्यादा सेफ है, लेकिन इसका इस्तेमाल भी जल्द से जल्द कर लेना चाहिए। प्याज में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। यही कारण है कि जुकाम, बुखार या इंफेक्शन में कच्ची प्याज खाने से आराम मिलता है।

raw onion benefits and side effects

प्याज के इस्तेमाल में कौन सी सावधानियां हैं जरूरी

  • देर से कटी हुई या खुली हवा में बिना ढके रखी हुई प्याजा का सेवन न करें।
  • रेस्टोरेंट्स और फूड शॉप्स पर अगर देर से कटी हुई कच्ची प्याज (फ्राइड नहीं) का इस्तेमाल किया जा रहा है, तो आप डिमांड करें कि आपके खाने में ताजी प्याज काटकर इस्तेमाल की जाए।
  • आप जितने अधिक छोटे टुकड़े प्याज के करेंगे, प्याज के केमिकल्स उतनी अधिक मात्रा में रिलीज हो जाते हैं। प्याज के इसी रस में एंटीऑक्सीडेंट्स और दूसरे तत्व होते हैं,  इसलिए अगर बहुत जरूरी है, तो प्याज की ऊपरी पर्त को छीलकर रख लें, लेकिन काटें खाने के ही समय।
  • देर से कटी हुई प्याज को खाने से कोई बहुत गंभीर समस्याएं नहीं होती हैं, हां यह जरूर संभव है कि अगर बैक्टीरिया प्याज में चिपक जाएं, तो आप फूड पॉयजनिंग या पेट के किसी तरह के इंफेक्श के शिकार हो सकते हैं।
  • इसलिए बेहतर यही है कि आप प्याज तभी काटें, जब आपको इसे खाना हो। कच्ची प्याज का सेवन आपके लिए फायदेमंद है और आपको इसे जरूर खाना चाहिए।

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

 

Disclaimer