डेटिंग वेबसाइट के अधिक प्रयोग से हो सकता है एड्स!

अगर आप डेटिंग साइट के माध्‍यम से पार्टनर की तलाश कर रहे हैं, तो सावधान हो जायें। इससे आपको इससे आपको एड्स जैसे खतरनाक रोग हो सकते हैं। यकीन नहीं होता, तो आइए इस हेल्‍थ न्‍यूज को पढ़ते हैं।

Pooja Sinha
लेटेस्टWritten by: Pooja SinhaPublished at: May 03, 2016
डेटिंग वेबसाइट के अधिक प्रयोग से हो सकता है एड्स!

डेटिंग साइट हो जायें सावधान, आप भी बन सकते हैं एड्स के रोगी। जीं हां हाल ही में हुए एक सर्वे में इस बात का खुलासा हुआ है कि डेटिंग साइट के जरिए एड्स जैसे खतरनाक रोग हो सकते हैं। अगर आप डेटिंग साइट के माध्‍यम से पार्टनर की तलाश कर रहे हैं, तो सावधान हो जायें। इससे आपको इससे आपको एड्स जैसे खतरनाक रोग हो सकते हैं। यकीन नहीं होता, तो आइए इस हेल्‍थ न्‍यूज को पढ़ते हैं।

 

AIDS in Hindi

 

क्‍या कहता है शोध

शोध से पता चला कि सेक्स के लिए 60 प्रतिशत गे और बाइसेक्सुअल पुरुष डेटिंग साइट से चुनने वाले पार्टनर के चलते एचआईवी एड्स से पीडि़त मिले। गौरतलब है कि युवाओं में डेटिंग एप्‍स की वजह से एड्स फैल रहा है। डेटिंग साइट के जरिए फिजिकल रिलेशन बनाने वाले गे और बाइसेक्सुअल एचआईवी की चपेट में आ जाते हैं। सर्वे में चौंकाने वाली बात सामने आई कि 43 लोगों में 22 ने बताया कि उन्होंने डेटिंग साइट के जरिए पार्टनर से मुलाकात की थी और संक्रमित हो गए।

लाइफस्‍टाइल में शामिल है डेटिंग साइट का चलन  

डेटिंग एप्स अध्ययनकर्ता एमि के अनुसार स्‍मार्टफोन पर डेटिंग एप्‍स का इस्‍तेमाल करके नए दोस्‍त बनाना और रिलेशन बनाते हैं। डेटिंग एप्‍स पर मिलने वाले कई लोग एड्स की बीमारी से ग्रस्‍त होते हैं। इनका प्रयोग करने में महिलाएं भी पीछे नहीं हैं। डेटिंग साइट का चलन अब लाइफस्टाइल में शामिल हो चुका है। फिजिकल रिलेशन बनाना भी आम होता जा रहा है। यह सर्वे लोगों को जागरूक करने के लिए किया गया।

डेटिंग साइट पर प्यार की तलाश

प्यार पाने के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल करने वाले हर तीसरे व्यक्ति ने डेटिंग साइट पर अपनी मौजूदगी दर्ज करायी है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा 24000 पुरुष और महिलाओं पर किये एक अंतरराष्ट्रीय अध्ययन के अनुसार, 1997 में केवल छह प्रतिशत लोगों ने डेटिंग वेबसाइट का सहारा लिया लेकिन 2009 आते आते यह संख्या बढ़कर 30 प्रतिशत हो गई।

डेटिंग एप्‍स के माध्‍यम से सेक्स

संयुक्त राष्ट्र ने हाल ही में एड्स संबंधित अध्‍ययन किया है। अध्‍ययन में यह बात सामने आई कि युवाओं में एड्स डेटिंग एप्‍स की वजह से फैल रहा है। डेटिंग एप्‍स के कारण आजकल युवा नए लोगों से शारीरिक संबंध बनाते हैं और एड्स जैसे रोगों के चपेट में आ जाते हैं। नौ से दस साल के बच्‍चे डेटिंग एप्‍स के जरिए से नए लोगों से दोस्‍ती करते हैं। अध्‍ययन की मानें तो दोस्‍ती धीरे-धीरे प्‍यार में तब्‍दील हो जाती है और फिर दोनों के बीच यौन संबंध बन जाते हैं। अध्‍ययन से जुड़े विंग-सेई के अनुसार, वर्तमान समय में लगभग हर दूसरे युवा के पास स्‍मार्टफोन है। वे इसमें डेटिंग एप्‍स का इस्‍तेमाल करके नए दोस्‍त बनाते हैं। उन्‍होंने बताया कि क्‍योंकि डेटिंग एप्‍स पर मिलने वाले कई लोग एड्स की बीमारी से ग्रस्‍त होते हैं, इसलिए यह वायरस उनके साथ सेक्‍स करने वाले युवाओं में भी आ जाता है।


Image Source : Getty

Read More Health News in Hindi

Disclaimer