जीभ के छालों को ठीक करने के 7 आसान घरेलू उपाय, जल्द मिलेगा दर्द से छुटकारा

अगर आपकी जीभ पर भी समय समय पर छाले होते रहते हैं तो आज की होम रेमेडीज और बचाव की टिप्स आपके काफी काम की हो सकती हैं।

Monika Agarwal
Written by: Monika AgarwalUpdated at: Oct 31, 2022 10:40 IST
जीभ के छालों को ठीक करने के 7 आसान घरेलू उपाय, जल्द मिलेगा दर्द से छुटकारा

जीभ पर छाले होना मुंह की बीमारियों में से एक है और यह काफी सामान्य स्थिति है। जो किसी भी उम्र के लोगों में हो सकती है। जीभ के छाले आमतौर पर 10 से 12 दिन में ठीक हो जाते हैं। इनका दर्द बहुत ही अलग होता है। जीभ के छालों का कोई हानिकारक प्रभाव नहीं होता। लेकिन ये आपके स्वाद को प्रभावित कर सकते हैं। इनके कारण जीभ पर काफी दर्द होता है और कुछ भी खाया या पिया नहीं जाता। छालों के दर्द से छुटकारा पाने और इनके दर्द को कम करने के लिए कुछ घरेलू इलाज ट्राई कर सकते हैं। आइए जानते हैं कुछ प्राकृतिक और होम रेमेडीज के बारे में।

जीभ के छाले  से प्राकृतिक रूप से कैसे छुटकारा पाएं? 

नमक

नमक को सोडियम क्लोराइड के नाम से भी जाना जाता है। नमक छाले  से होने वाले दर्द को कम करने में मदद करता है। नमक में मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण इन्फेक्शन से लडने में मदद करते हैं।

  • एक चम्मच नमक को एक कप पानी में अच्छी तरह से मिला लें। 
  • उसके बाद मिश्रण से कुल्ला कर लें। 
  • ऐसा दिन में कई बार करने से मुंह के छालों को ठीक किया जा सकता है।

tongue-blister-home-remedies

इसे भी पढें: जीभ पर छाले क्यों पड़ते हैं? जानें इन छालों का कारण, लक्षण

दही

दही एक प्राकृतिक रुप से पाया जाने वाला प्रो बायोटिक पदार्थ है। दही में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो दर्द और सूजन को कम कर सकते हैं और छाले  से जुड़े किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन का इलाज कर सकते हैं। हर रोज कम से कम एक बार दही का सेवन करने से छाले ठीक किए जा सकते हैं।

लौंग का तेल

लौंग के तेल में यूजेनॉल नामक यौगिक पाया जाता है। युजेनॉल में एंटी बैक्टीरियल गुण इन्फेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं। एक कप गर्म पानी में लॉन्ग के तेल की कुछ बूंदों को मिलाकर मुंह से कुल्ला करने पर फफोलो को ठीक किया जा सकता है। ऐसा दिन में तीन से चार बार करना चाहिए।

टी ट्री ऑयल

  • टी ट्री ऑयल में टेरपिनन-4-ओएल नामक एक यौगिक पाया जाता है। इसमें एंटी बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण भी होते है जो जीभ के छाले  और उनके लक्षणों को ठीक करने में मदद कर सकते हैं। 
  • एक कप गर्म पानी में टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदों को मिला लें। 
  • हर रोज तीन से चार बार इस घोल को माउथ वॉश के रुप में उपयोग करें। 

tea-tree-oil-for-tongue-blisters

बेकिंग सोडा

  • बेकिंग सोडा में एंटीबैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। इसका एल्कलाइन गुण मुंह की पी एच वैल्यू को बैलेंस करने में मदद करता है। जिससे जीभ पर छाले से छुटकारा मिल सकता है।
  • एक कप पानी में बेकिंग सोडा को मिलाएं। 
  • इस घोल से मुंह का कुल्ला करें। 
  • ऐसा हर रोज तीन से चार बार करना चाहिए।  
  • दूसरे रूप में बेकिंग सोडा और पानी को मिलाकर क्रीम भी बना सकते हैं और इसे छालों पर लगा सकते हैं।

बर्फ

बर्फ में एनेस्थेटिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। यह सूजन और दर्दनाक जीभ के छाले  से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है।एक आइस क्यूब को जीभ के छाले पर सीधा रख दें,जब तक कि जीभ सुन्न ना हो जाए। ऐसा दिन में कई बार कर सकते हैं। दूसरे रूप में आइस क्यूब को पिघला कर ठंडे पानी के कुल्ले भी कर सकते हैं।

इसे भी पढें: मुंह में छाले होने पर फायदेमंद है ईसबगोल की भूसी का सेवन, इन 7 तरीकों से करें सेवन

हाइड्रोजन पेरोक्साइड

  • हाइड्रोजन पेरोक्साइड छालों को ठीक करने का एक अच्छा विकल्प है। इसमें एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो मुंह के छालों से छुटकारा पाने में मदद कर सकते हैं। 
  • हाइड्रोजन पेरोक्साइड और गर्म पानी को बराबर मात्रा में मिला लें। 
  • एक सॉफ्ट रुई से इस घोल को अपने फफोलों पर सीधा लगाएं।
  • 2 से 3 मिनट तक लगा रहने दें और फिर थोड़े गर्म पानी से अपना मुंह से कुल्ला कर लें।
  • इन सब टिप्स से मुंह के छालों का इलाज किया जा सकता है।
Disclaimer