Doctor Verified

प्रेगनेंसी के दौरान पेशाब में जलन (Dysuria) की समस्या क्यों होती है? जानें कारण और बचाव के उपाय

प्रेगनेंसी के दौरान पेशाब करते समय जलन, दर्द की समस्या को डिस्यूरिया कहते हैं, जानें इसके लक्षण, कारण और बचाव।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jun 08, 2022Updated at: Jun 08, 2022
प्रेगनेंसी के दौरान पेशाब में जलन (Dysuria) की समस्या क्यों होती है? जानें कारण और बचाव के उपाय

प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में होने वाले हार्मोनल और शारीरिक बदलाव कई समस्याएं भी पैदा करते हैं। प्रेगनेंसी में महिलाओं को खानपान और लाइफस्टाइल से जुड़ी जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए। गर्भवती महिला को शरीर में होने वाले बदलाव की वजह से यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (UTI) की समस्या का खतरा रहता होता है। प्रेगनेंसी में पेशाब से जुड़ी समस्याएं ज्यादातर महिलाओं को होती हैं। गर्भवस्था के दौरान जीवाणु संक्रमण या बैक्टीरियल इन्फेक्शन होने पर पेशाब करने से जुड़ी समस्याएं होती हैं और इसकी वजह से मां और गर्भ में पल रहे बच्चे दोनों पर बुरा असर पड़ सकता है। आमतौर पर प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में होने वाले शारीरिक और हार्मोनल परिवर्तन के कारण पेशाब में जलन (Dysuria in Pregnancy) और यूटीआई की समस्या होती है। प्रेगनेंसी या गर्भावस्था के दौरान अगर आप जरूरी बातों का ध्यान रखते हैं तो पेशाब में जलन और यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन से बच सकती हैं। आइए जानते हैं प्रेगनेंसी के दौरान पेशाब में जलन और यूटीआई के कारण, लक्षण और बचाव।

प्रेगनेंसी के दौरान पेशाब में जलन की समस्या (Dysuria in Pregnancy Causes in Hindi)

प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं। इस दौरान महिलाओं का खानपान भी अलग हो जाता है। ज्यादातर महिलाओं का प्रेगनेंसी से जुड़ा यह सवाल है कि प्रेगनेंसी में पेशाब में जलन क्यों होती है? दरअसल इसके पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। प्रेगनेंसी में भ्रूण के लिए गर्भाशय के आकार में बदलाव होता है। स्टार हॉस्पिटल की स्त्री और प्रसूति रोग विशेषज्ञ डॉ विजय लक्ष्मी के मुताबिक जब गर्भाशय बढ़ता है तो इसका असर या दबाव पेशाब की नलिकाओं पर पड़ता है। यह नलिकाएं किडनी से मूत्राशय तक होती हैं। गर्भाशय के बढ़ने पर दबाव पड़ने की वजह से यह पेशाब करते समय दिक्कत और जलन हो सकती है। इसके अलावा प्रेगनेंसी में महिलाओं के पेशाब में अम्लता कम हो जाती है जिसकी वजह से यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन का खतरा रहता है। यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन के कारण भी महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान पेशाब करते समय जलन की समस्या हो सकती है। 

  • गर्भाशय बढ़ने की वजह से मूत्रवाहिनी पर दबाव।
  • यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन के कारण।
  • पेशाब की नाली में बैक्टीरियल इन्फेक्शन।
  • मूत्राशय में सूजन।

Dysuria in Pregnancy Causes

प्रेगनेंसी के दौरान डिस्यूरिया के लक्षण (Dysuria in Pregnancy Symptoms)

प्रेगनेंसी के दौरान पेशाब में जलन, गंभीर दर्द और परेशानी को डिस्यूरिया कहा जाता है। प्रेगनेंसी के दौरान यह समस्या शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव और शारीरिक बदलावों की वजह से हो सकती है। प्रेगनेंसी में डिस्यूरिया होने पर शरीर में ये लक्षण दिखाई देते हैं।

  • पेशाब करते समय दर्द।
  • पेशाब करते समय जलन और परेशानी।
  • वेजाइना में दर्द होना।
  • पेट के निचले हिस्से में दर्द।
  • पेशाब से दुर्गंध आना।
  • बुखार, ठंड लगना और मतली की समस्या।

प्रेगनेंसी में डिस्यूरिया से बचाव के टिप्स (Dysuria in Pregnancy Prevention Tips in Hindi)

डिस्यूरिया एक ऐसा यूरीन डिसऑर्डर है जिसमें पेशाब करते समय गंभीर दर्द और परेशानी होती है। प्रेगनेंसी में यह समस्या कई कारणों से हो सकती है। प्रेगनेंसी में पेशाब करते समय जलन, दर्द होने पर आपको इसे नजरअंदाज बिलकुल भी नहीं करना चाहिए। इस समस्या में सबसे पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। इसके अलावा प्रेगनेंसी में डिस्यूरिया से बचाव के लिए आप इन बातों का ध्यान जरूर रखें।

  • पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं और शरीर में पानी की कमी न होने दें।
  • योनि या वजाइना को साफ करते समय साबुन या कॉस्मेटिक प्रोडक्टस का इस्तेमाल न करें।
  • साफ-सफाई का ध्यान रखें।

ऊपर बताई गयी बातों का ध्यान रखकर आप प्रेगनेंसी के दौरान पेशाब करते समय जलन या दर्द (डिस्यूरिया) की समस्या से बच सकते हैं। इसके अलावा इसके लक्षण दिखने पर आपको डॉक्टर से जरूर संपर्क करना चाहिए।

(All Image Source - Freepik.com)

 

Disclaimer