बारिश में पीने का पानी भी बना सकता है आपको बीमार, जानें सीजनल रोगों और इंफेक्शन से बचाव के लिए कैसे पिएं पानी?

बरसात के मौसम में पीने वाले पानी से कई तरह की बीमारियां फैल सकती है, जिनसे बचाव के लिए आपको पानी पीने के इन नियमों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jul 15, 2020
बारिश में पीने का पानी भी बना सकता है आपको बीमार, जानें सीजनल रोगों और इंफेक्शन से बचाव के लिए कैसे पिएं पानी?

पानी पीना स्वास्थ्य के लिए जरूरी है। रोजाना पर्याप्त पानी पीने की आदत आपको कई तरह की बीमारियों और रोगों से बचा सकती है। लेकिन यही पानी अगर दूषित या गंदा हो, तो आपको बीमार भी बना सकता है। गंदे पानी के कारण कई तरह की बीमारियां और इंफेक्श हो सकते हैं। इस समय पहले ही दुनिया एक ऐसी महामारी से जूझ रही है, जिसका कोई इलाज नहीं है और न ही वैक्सीन बन पाई है। कोरोना वायरस या कोविड-19 के लक्षण सीजनल बीमारियों से मिलते-जुलते हैं, इसलिए इस बारिश में छोटी से छोटी लापरवाही भी आपके लिए परेशानी का सबब बन सकती है। आइए हम आपको बताते हैं कि बारिश के मौसम में रोगों और इंफेक्शन से बचने के लिए आपको किस तरह पानी पीना चाहिए।

drinking water benefits

बारिश के मौसम में पीने के पानी की समस्या

बारिश के मौसम की सबसे बड़ी परेशानी ये है कि इस मौसम में बैक्टीरिया, फंगस और यीस्ट तेजी से पनपते हैं। अगर यही बैक्टीरिया या यीस्ट आपके खाने-पीने की चीजों के साथ आपके पेट में चले जाएं, तो इंफेक्शन का कारण बनते हैं और आपको बीमार बना देते हैं। इस तरह के इंफेक्शन के सबसे आम लक्षण- बुखार, खांसी, दस्त, पेट में दर्द, गले का इंफेक्शन, गले में दर्द, पेट की अन्य समस्याएं आदि हैं। लगभग यही लक्षण कोविड-19 के भी हैं। इसलिए इस मौसम में पीने के पानी को लेकर आपको अतिरिक्त सावधानी बरतने की जरूरत है।

इसे भी पढ़ें: ये 5 संकेत बताते हैं कि आपके मस्तिष्क (Brain) को तुरंत है पानी की जरूरत, संकेत पहचानें और पिएं 1 ग्लास पानी

पीने के साफ पानी की व्यवस्था है जरूरी

भारत एक बड़ा देश है, जिसके अलग-अलग हिस्सों की अलग-अलग समस्याएं हैं। भारत के करोड़ों लोगों को आज भी पीने का साफ पानी नहीं मिलता है, जिसके कारण लोग नदी, तालाब, कुंए या हैंडपंप से आने वाला गंदा पानी पीने को मजबूर होते हैं। इस तरह के पानी को पीकर लोग बीमार पड़ते हैं। कई बार शहरों में टैंक से आने वाला पानी भी उतना साफ और सुरक्षित नहीं होता है कि हर व्यक्ति उसे पी सके। खासकर कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों को ऐसा गंदा पानी गंभीर रूप से बीमार बना सकता है। इसलिए बारिश के मौसम में पीने के साफ पानी की व्यवस्था करना बेहद जरूरी है।

सीधे स्रोत से आने वाले पानी को उबालकर ही पिएं

अगर आप पीने के लिए हैंडपंप, समरसिबल, कुंआ, नदी या किसी भी सीधे स्रोत से पानी लेते हैं, तो आपको इंफेक्शन का खतरा ज्यादा हो सकता है। इसलिए ऐसी स्थितियों में पीने और खाना बनाने के उद्देश्य से पहले एक बड़े बर्तन में पानी को भरकर 3 घंटे के लिए रख दें। इसके बाद जब पानी में घुले अपशिष्ट पदार्थ बर्तन की तली में बैठ जाएं, तो ऊपर का पानी धीरे-धीरे अलग निकाल लें और इसे उबालकर पिएं। अगर पानी गंदा दिखाई दे रहा है, तो इसे न पिएं।

इसे भी पढ़ें: क्या आप कम पानी पीते हैं? पेशाब का रंग आपको बता सकता है कि आपके शरीर में है पानी की कमी

स्वस्थ रहने के लिए पानी पीने के इन नियमों का रखें ध्यान

  • दिन में कम से कम 2 से 2.5 लीटर पानी हर वयस्क को पीना चाहिए। बारिश के मौसम में आपको प्यास कम लगती है, लेकिन शरीर की पानी की जरूरत कम नहीं होती है।
  • सुबह उठकर एक ग्लास ताजा या गर्म पानी रोजाना पीना चाहिए। इससे मेटाबॉलिज्म तेज होता है और आप स्वस्थ रहते हैं।
  • एक बार में बहुत ज्यादा पानी पीने से बचना चाहिए। इसके बजाय दिन में कई बार थोड़ा-थोड़ा करके पानी पीते रहें।
  • खाना खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए। खाने से 30 मिनट पहले या खाने के कम से कम 45 मिनट बाद ही पानी पिएं।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer