Expert

मौसम बदलने पर बच्चे पड़ते हैं ज्यादा बीमार, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए खिलाएं ये 5 फूड्स

Diet during seasonal changes: मौसम बदलने पर बच्चे बहुत बीमार पड़ते हैं, जो पेरेंट्स के लिए काफी चिंता का विषय है। जानें उन्हें बीमार होने से कैसे बचाए

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Jun 02, 2022Updated at: Jun 02, 2022
मौसम बदलने पर बच्चे पड़ते हैं ज्यादा बीमार, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए खिलाएं ये 5 फूड्स

मौसम के बदलने के दौरान सर्दी-जुकाम और वायरल संक्रमण जैसी समस्याओं का जोखिम बहुत बढ़ जाता है। बच्चों के लिए यह समय और भी अधिक कठिन होता है। उन्हें इस दौरान बहुत अधिक देखभाल की जरूरत होती है, क्योंकि बड़ों की तुलना में बच्चों इम्यूनिटी बहुत कमजोर होती है। जिसके कारण वे मौसम बदलने के दौरान बहुत जल्दी बीमार पड़ जाते हैं। एक पेरेंट्स होने के नाते हम यह नहीं चाहते हैं कि हमारे बच्चों को किसी भी तरह की कोई परेशानी हो। अब सवाल यह है कि ऐसे में आपके पास क्या विकल्प है? चाइल्ड न्यूट्रीशनिष्ट रमिता कौर की मानें तो मौसम बदले के दौरान बच्चों को अधिक पोषण की जरूरत होती है। ऐसे में उनकी डाइट में कुछ फूड्स (Diet During Seasonal Changes For Children In Hindi) को शामिल करने उनकी इम्यूनिटी को बूस्ट करने और उन्हें बीमार होने से बचाने में मदद मिलती है।

आइए पहले जानते हैं मौसम बदलने के दौरान बच्चे ज्यादा बीमार क्यों पड़ते हैं

जब मौसम बदलता है तो हमारे शरीर को मौसम के अनुसार ढलने में समय लगता है। जिससे इम्युनिटी भी कमजोर होती है। बच्चों के लिए मौसम के साथ बदलना ज्यादा मुश्किल होता है। बच्चों की इम्यूनिटी पहले ही कमजोर होती है जिसके कारण वे मौसम बदलने के दौरान जल्दी बीमार पड़ जाते हैं। इम्यूनिटी के अलावा बच्चों का खानपान भी इसमें अहम भूमिका निभाता है। उन्हें ज्यादा से ज्यादा पोषक तत्व प्रदान करने की जरूरत है। मौसम बदलने के दौरान डिहाइड्रेशन की समस्या भी बहुत अधिक होती है। जिससे इम्यूनिटी भी प्रभावित होती है।

Foods For Children

बच्चों को बीमार पड़ने से बचाने के लिए उन्हें क्या खिलाएं (Diet During Seasonal Changes For Children In Hindi)

1. हेल्दी फैट्स जैसे नट्स और बीज खिलाएं। साथ ही खाना पकाने के लिए वर्जिन कोकोनट ऑल का प्रयोग करें। इससे आपके बच्चे को एनर्जी मिलेगी।

2. बच्चों की हड्डियों को मजबूत रखने के लिए अच्छी मात्रा में कैल्शियम और प्रोटीन रिच फूड्स खिलाएं जैसे: दालें, फलियां, दूध, पनीर आदि।

से भी पढें: पीरियड सही समय पर नहीं आता तो ऐसे करें अनार का सेवन, पीरियड्स को रेगुलर करने में होता है फायदेमंद

3. बच्चा अगर खांसी-जुकाम या वायरल संक्रमण ग्रमित है तो इससे छुटकारा पाने के लिए उन्हें शहद, अदरक, काली मिर्च का काढ़ा पिलाएं। इससे उनकी इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में मदद मिलेगी।

4. ऐसे फूड्स अधिक खिलाएं जिनमें पानी की मात्रा अधिक होती है जैसे खीरा, तरबूज, खरबूजा आदि। यह उन्हें डिहाइड्रेशन से बचाएगा।

5. उनके आहार में विटामिन सी और जिंक से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे खट्टे फल और सब्जियां, नट्स और बीज शामिल करें।

6. सोने से पहले उन्हें हल्दी वाला दूध जरूर पिलाएं।

इन बातों का भी रखें खास ख्याल

  • बच्चा अगर छोटा है जैसे 6 महीने से कम तो उसे स्तनपान जरूर कराना बहुत जरूरी है।
  • बच्चों को गर्म पानी पिलाएं
  • साफ-सफाई का ध्यान रखें।
  • कीड़े-मकोड़ों से बचाएं।
  • फास्ट फूड से परहेज जरूरी।
  • बच्चों को खेलने के लिए प्रोत्साहित करें, इससे उनकी फिजिकल एक्टिविटी होगी।

यह भी ध्यान रखें

बदलते मौसम में आप इन तरीकों को अपनाकर बच्चों की सेहत का ध्यान रख सकते हैं। अगर बच्चा बीमार पड़ता है, तो ऐसे में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें क्योंकि बच्चों के मामले में लापरवाही करना ठीक नहीं। क्योंकि कई बार आपका बच्चा कई अन्य  कारणों के चलते भी बीमार पड़ सकता है। बच्चों के आहार में बदलाव करने या उसे किसी भी तरह की दवाएं देने से पहले डॉक्टर पर परामर्श करना जरूरी है। क्योंकि वह आपके बच्चे की जांच करने के बाद आपको यह बेहतर तरीके से बता सकते हैं कि आपके बच्चे के लिए किया सही है।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer