रोज दंडासन योग करने से सेहत को मिलते हैं ये 6 फायदे, जानें करने का तरीका

दंडासन योग का नियमित अभ्यास करने से शरीर को कई फायदे हो सकते हैं। आइए जानते हैं इसके फायदे और करने का तरीका

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jan 19, 2022Updated at: Jan 19, 2022
रोज दंडासन योग करने से सेहत को मिलते हैं ये 6 फायदे, जानें करने का तरीका

योग स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। नियमित रूप से योग करने से आप शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रह सकते हैं। इससे कई तरह की बीमारियां दूर हो सकती हैं। योग कई तरह के होते हैं। उन्हीं में से एक है दंडासन योग। नियमित रूप से दंडासन योग करने से शरीर की कई समस्याएं जैसे- पाचन, मस्तिष्क, कंधों से जुड़ी परेशानी को कंट्रोल कर सकते हैं। आज हम इस लेख में दंडासन योग के फायदे और इसे करने का तरीकों के बारे में बताएंगे। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से- 

1. रीढ़ की हड्डी को बनाए लचीला 

रीढ़ की हड्डी में किसी तरह की परेशानी होने पर दंडासन योग आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। रीढ़ की हड्डी में किसी तरह की परेशानी होने पर चलना, उठना और बैठना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में दंडासन योग आपके लिए लाभकारी है। नियमित रूप से इस योग का अभ्यास करने से रीढ़ की हड्डी मजबूत और लचीली बनती हैं।

इसे भी पढ़ें - मरीच्यासन योग से दूर होता है माइग्रेन के दर्द और तनाव, जानें करने का तरीका और अन्य फायदे

2. साइटिका दर्द से आराम

दंडासन योग करने से साइटिका दर्द से भी राहत मिल सकता है। यह योग शरीर के निचले हिस्से जैसे- पैर, जांघ और एड़ियों में होने वाले दर्द से आराम दिलाने में लाभकारी हो सकता है। इस योग की मदद से कू्ल्हों और जांघों की मांसपेशियां स्ट्रैच होती है, जिससे उन्हें मजबूती मिल सकती है। ऐसे में दंडासन साइटिका के दर्द को दूर करने में प्रभावी हो सकता है। 

3. पीठ की मांसपेशियां हो सकती हैं मजबूत

दंडासन योग करने से आपके पीठ की मांसपेशियां मजबूत हो सकती हैं। दरअसल, लंबे समय तक कुर्सी पर झुककर बैठनेसे पीठ की मांसपेशियों में काफी ज्यादा दर्द होने लगता है, जिसकी वजह से कई तरह की परेशानी हो सकती है। इन परेशानियों से राहत पाने के लिए आपको नियमित रूप से दंडासन करने की जरूरत होती है। इससे आपके कमर की मांसपेशियां मजबूत हो सकती हैँ। 

4. मस्तिष्क रखे शांत

योग करने से मस्तिष्क शांत होता है। दंडासन की मदद से भी आप अपने मस्तिष्क को शांत रख सकते हैं। इस योग का अभ्यास नियमित रूप से करने से शरीर में स्ट्रेस हार्मोन कम होता है, जिससे आपका दिमाग शांत होता है और आपको ध्यान केंद्रित करने में मदद मिलती है। 

5. कंधों में लाए खिंचाव

डेस्क वर्क करने वालों को अक्सर कंधे में दर्द की परेशानी बनी रहती है। ऐसे में दंडासन मुद्रा आपके लिए लाभकारी हो सकता है। इस योग के नियमित अभ्यास से कंधे में खिंचाव उत्पन्न होता है, जिससे कंधे के दर्द को कम किया जा सकता है। 

इसे भी पढ़ें - सुप्त पादांगुष्ठासन योग से बैलेंस रहते हैं शरीर के हॉर्मोन्स और स्वस्थ रहता है प्रजनन अंग, जानें करने का तरीका

6. पाचन शक्ति को करे मजबूत

पाचन शक्ति को मजबूत बनाए रखने में भी दंडासन योग लाभकारी हो सकता है। जिससे आपको पेट में जुड़ी परेशानी जैसे- कब्ज, पेट में मरोड़, दर्द से राहत मिल सकता है। अगर आप पाचन संबंधी समस्याओं से जूझ रहे हैं, तो नियमित रूप से दंडासन योग करें। यह आपके लिए काफी लाभकारी है।  

कैसे करें दंडासन ?

  • दंडासन योग का अभ्यास करने के लिए सबसे पहले योग मैठ पर बैठ जाएं। 
  • अब अपने दोनों पैरों को आगे की ओर फैलाएं और फिर उन्हें आपस में चिपकाएं। 
  • इसके बाद अपने दोनों पैरों की उंगलियों को अपने शरीर की ओर खींचें। 
  • इस दौरान अपने जांघों और एड़ियों को फर्श पर दबाकर रखेँ। 
  • इसके बाद दोनों हाथों को सीधा और हथेलियों को फर्श पर रखें।  
  • इस दौरान गर्दन और रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें।
  • अपनी छाती को उठाए रखें और कॉलरबोन को फैलाएं। 
  • इस दौरान कंधों को थोड़ा सा खींचें और सामने की ओर देखते हुए गहरी सांस लें।
  • इस मुद्रा में करीब 20 सेकंड से एक मिनट तक रहें। 

 

दंडासन योग मुद्रा नियमित रूप से करने से आपका शरीर स्वस्थ रह सकता है। इससे आपको काफी लाभ हो सकता है। लेकिन ध्यान रखें कि अगर आपको किसी विशेष तरह की परेशानी है, तो डॉक्टर की सलाह पर ही इस योग को करें।

Disclaimer