Coronavirus: आपके फोन पर 9 दिन तक रह सकते हैं कोरोना वायरस, बचाव के लिए ऐसे करें मोबाइल की सफाई

एक व्यक्ति एक दिन औसतन 2,617 बार अपना मोबाइल फोन छूता है। ऐसे में मोबाइल फोन से भी कोरोना वायरस फैलने का खतरा हो सकता है।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Mar 11, 2020Updated at: Mar 13, 2020
Coronavirus: आपके फोन पर 9 दिन तक रह सकते हैं कोरोना वायरस, बचाव के लिए ऐसे करें मोबाइल की सफाई

कोरोना वायरस से बचने के लिए अगर आप हैंड सैनिटाइजर, फेस मास्क और हैंड वॉशिंग का खूब ध्यान रख रहे हैं, तो रुकें! ये सभी बातें वाकई इस वायरस से बचाव के लिए बहुत जरूरी हैं। मगर इस चीज जिसपर आपका ध्यान शायद अब तक नहीं गया, वो है आपका मोबाइल। 2019 में हुआ एक सर्वे बताता है कि आमतौर पर एक व्यक्ति एक दिन में औसतन 2,617 बार अपने फोन को टच करता है।

जर्नल ऑफ हॉस्पिटल इंफेक्शन पर छपे एक ताजे शोध के अनुसार कोरोना वायरस और इस जैसे दूसरे जर्म्स ग्लास (कांच), मेटल (धातु) और प्लास्टिक आदि पर लगभग 9 दिनों तक रह सकते हैं। मोबाइल फोन आज के समय में वायरस और बैक्टीरिया के फैलने का सबसे बड़ा स्रोत है। इसका कारण यह है कि लगभग सभी लोग, जिनके पास मोबाइल है, वो इसे किसी न किसी बहाने में दिन में कई बार चेक करते रहते हैं। पब्लिक प्लेस पर मोबाइल फोन इस्तेमाल करते हुए या किसी संक्रमित वस्तु को छूने के बाद मोबाइल चलाने से आपके मोबाइल की बॉडी पर खतरनाक वायरस आ सकते हैं। इसके बाद यही वायरस आपके हाथों से होते हुए आपके मुंह, नाक या आंख तक और फिर शरीर के भीतर प्रवेश कर सकते हैं। इसलिए कोरोना वायरस से बचने के लिए तमाम बातों के साथ-साथ यह भी जरूरी है कि आप अपने मोबाइल फोन की सही तरह से सफाई करें।

इसे भी पढ़ें: भारत में 60+ पहुंचा कोरोना वायरस का आंकड़ा, जानें कैब, मेट्रो, बस के सफर में कौन सी सावधानियां हैं जरूरी

ऐसे करें मोबाइल फोन की सफाई

एप्पल और सैमसंग की ऑफिशियल गाइड लाइन्स के अनुसार आपको निम्न तरीकों से फोन को साफ करना चाहिए।

  • अपने मोबाइल फोन से सभी केबल्स (ईयर फोन, चार्जर, पावर बैंक) आदि को निकाल लें।
  • अगर मोबाइल पर कवर लगा हुआ है, तो उसे भी निकाल लें।
  • अब एक साफ, मुलायम माइक्रो-फाइबर कपड़ा लें और थोड़े से गर्म पानी में साबुन घोल लें।
  • इस साबुन वाले पानी में कपड़े को भिगोकर इससे हल्के हाथों से मोबाइल की स्क्रीन और बॉडी को साफ करें।
  • ध्यान रखें इस दौरान पानी की कोई बूंद चार्जिंग प्वाइंट, माइक्रोफोन स्लॉट, स्पीकर या ईयरप्लग स्लॉट में न जाए।

सैनिटाइजर या रबिंग एल्कोहल का इस्तेमाल न करें

एप्पल की ऑफिशियल गाइडलाइन्स के अनुसार मोबाइल फोन की स्क्रीन पर रबिंग एल्कोहल, सैनिटाइजर, डिसइंफेक्टैंट वाइप आदि का इस्तेमाल न करें, क्योंकि ये आपके मोबाइल की स्क्रीन को डैमेज कर सकता है और मोबाइल की स्क्रीन को तेल और ग्रीस से बचाने वाली ऊपरी पर्त को नुकसान पहुंचा सकता है।

इसे भी पढ़ें: रोजाना इस्तेमाल की इन 10 चीजों में छिपे होते हैं टॉयलेट सीट से 10 गुना ज्यादा बैक्टीरिया

इन चीजों की सफाई भी है जरूरी

सिर्फ मोबाइल फोन ही नहीं, अगर आप ईयरफोन्स या हेडफोन्स का इस्तेमाल बहुत ज्यादा करते हैं या पब्लिक प्लेस और ऑफिस में करते हैं, तो आपको इन्हें भी सही तरीके से साफ जरूर करना चाहिए। यहां यह भी ध्यान रखने की बात है कि तमाम तरह की साफ-सफाई के बावजूद अगर आपको अपना फोन टॉयलेट में ले जाने की आदत है, तो इसका कोई फायदा नहीं।

Watch Video: COVID-19: कोरोनावायरस से बचने के 5 आसान उपाय

दिन में 2 बार जरूर साफ करें मोबाइल

टेलीग्राफ द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार जब तक कोरोना वायरस का खतरा मंडरा रहा है और इस वायरस पर पूरी तरह काबू नहीं पा लिया जाता है, तब तक आपको अपने फोन को दिन में कम से कम 2 बार जरूर साफ करना चाहिए। हां, अगर आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल बहुत ज्यादा करते हैं, लोगों से मिलते-जुलते हैं और पब्लिक प्लेसेज पर लंबा समय गुजारते हैं, तो आपको अपने फोन को जरूरत के अनुसार दिन में कई बार साफ करते रहना चाहिए।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer