गूगल बता रहा है कोरोना वायरस से बचने के 5 जरूरी तरीके, जानें लक्षण महसूस होने पर कैसे मिलेगी मदद?

कोरोना वायरस से लड़ाई में गूगल भी है आपके साथ। गूगल होमपेज पर देखें 'डू द फाइव' यानी कोरोना वायरस से बचने के लिए 5 सबसे जरूरी टिप्स।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Mar 19, 2020Updated at: Mar 19, 2020
गूगल बता रहा है कोरोना वायरस से बचने के 5 जरूरी तरीके, जानें लक्षण महसूस होने पर कैसे मिलेगी मदद?

दुनियाभर में फैल चुके कोरोना वायरस के कारण कोविड-19 के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। बुधवार 18 मार्च तक इस वायरस की चपेट में आने वालों की संख्या 2 लाख पार कर गई, जबकि इससे होने वाली मौतों की संख्या 8000 से ऊपर पहुंच गई। चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ ये वायरस अब तक दुनिया के 150 से ज्यादा देशों में फैल चुका है। चीन में तो इस वायरस ने तबाही मचाई ही थी, मगर हाल में इसके सबसे ज्यादा मामले इटली, ईरान, स्पेन और अमेरिका में काफी बढ़ गए हैं। इटली में रोजाना इस वायरस की चपेट में आने से 400 से ज्यादा लोगों की मौत हो रही है। ऐसे में इस वायरस से बचाव का एक ही तरीका नजर आता है और वो है सावधानी और सही जानकारी।

गूगल ने अब ये जिम्मेदारी अपने सिर उठा ली है कि वो लोगों में कोरोना वायरस से बचने के लिए जागरूकता फैलाएगा। इसके लिए गूगल ने अपने होमपेज पर एक खास बटन जोड़ा है, जिसे 'डू द फाइव' नाम दिया गया है। इसके साथ ही यह भी लिखा है कि 'हेल्प स्टॉप कोरोना वायरस' यानी कोरोना वायरस को रोकने में मदद करें। गूगल के इस खास बटन पर क्लिक करते ही आपके सामने कोरोना वायरस को रोकने और इससे बचने के लिए 5 जरूरी टिप्स नजर आने लगती हैं। आइए आपको बताते हैं कि गूगल के अनुसार आप किस तरह कोरोना वायरस को रोक सकते हैं।

इसे भी पढ़ें:- कोरोना वायरस शरीर में पहुंचने के बाद क्या करता है? जानें शरीर पर इस वायरस का कैसे पड़ता है प्रभाव

डू द फाइव- 5 काम करें

1. हैंड्स (हाथ)- हाथों को लगातार धोते रहें।
2. एल्बो (कोहनी)- छींकने और खांसने के लिए कोहनियों का प्रयोग करें।
3. फेस (चेहरा)- चेहरे को न छुएं।
4. स्पेस (दूरी)- लोगों से उचित दूरी बनाकर रखें (कम से कम 1 मीटर)
5. फील (महसूस करना)- अगर आप बीमार महसूस करते हैं, तो घर पर रुकें यानी बीमारी हैं, तो आपको बाहर नहीं निकलना चाहिए।

इसके नीचे अतिरिक्त जानकारी के लिए 'More Info' का एक बटन बनाया गया है। जिसपर क्लिक करते ही आप भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट पर पहुंच जाते हैं। डॉक्टर्स और सरकार भी यही हिदायत दे रहे हैं कि कोरोना वायरस से जुड़ी अफवाहों पर ध्यान न दें और विश्वसनीय वेबसाइट्स और पोर्टल्स पर लिखी बातों को ही सच मानें। यही कारण है कि स्वास्थ्य मंत्रालय स्वयं कोरोना वायरस से जुड़ी सभी जरूरी टिप्स, जानकारियां और आंकड़े अपनी वेबसाइट पर लगातार अपडेट कर रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार 19 मार्च की सुबह 9 बजे तक भारत में कोरोना वायरस के कुल मरीजों की संख्या 148 तक पहुंच गई। इनमें से 14 मरीजों को ठीक करके घर भेजा जा चुका है और बाकियों का इलाज चल रहा है। अब तक भारत में इस वायरस के कारण 3 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।

इसे भी पढ़ें:- कोरोना वायरस से बचने के लिए इटली की इस महिला ने दिया दुनियाभर के लोगों को पैगाम, लिखीं कई भावुक बातें

कोरोना वायरस के लक्षण महसूस होने पर क्या करें?

मरीजों की संख्या को रोकने के लिए और कोरोना वायरस से संक्रमितों को पकड़ने के लिए सरकार लगातार लोगों का कोरोना वायरस टेस्ट कर रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अब तक एयरपोर्ट पर लगभग 14 लाख लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। कोरोना वायरस संक्रमण के बारे में जानकारी के लिए और संक्रमितों की मदद के लिए भारत सरकार ने खास नंबर्स भी जारी किए हैं।

ये नंबर्स इस प्रकार हैं- +91-11-23978046  और टोल फ्री नंबर- 1075

अगर किसी व्यक्ति को कोरोना वायरस के लक्षण महसूस होते हैं, तो उसे घर पर ही रहने की सलाह दी जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अगर किसी व्यक्ति को कोरोना वायरस के लक्षण महसूस होते हैं, तो उसे सबसे पहले घर अपने घर पर ही रुकना चाहिए और घर के अन्य सदस्यों से दूरी बना लेनी चाहिए। इसके बाद उसे सरकार द्वारा जारी नंबरों पर कॉल करके अपनी समस्याएं बतानी चाहिए। अगर उस व्यक्ति में कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाते हैं, तो कॉल सेंटर में बैठे अधिकारी मरीज की पूरी सहायता करेंगे और उचित तरीके से उसके आइसोलेशन और इलाज की व्यवस्था की जाएगी।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer