कब्ज और गैस बन सकते हैं खून की कमी का कारण, जानें क्यों

क्या आपको पता है कि आपके शरीर की ज्यादातर बीमारियों और परेशानियों का कारण कब्ज और गैस होती है। आजकल लोगों में ये समस्याएं इतनी सामान्य हो गई हैं कि पेट में गैस बनने और कब्ज को ज्यादातर लोग अब बीमारी भी नहीं मानते।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Oct 21, 2018
कब्ज और गैस बन सकते हैं खून की कमी का कारण, जानें क्यों

क्या आपको पता है कि आपके शरीर की ज्यादातर बीमारियों और परेशानियों का कारण कब्ज और गैस होती है। आजकल लोगों में ये समस्याएं इतनी सामान्य हो गई हैं कि पेट में गैस बनने और कब्ज को ज्यादातर लोग अब बीमारी भी नहीं मानते। आपको ये जानकर शायद हैरानी होगी कि लंबे समय तक कब्ज या पेट में गैस बनने की समस्या के कारण आपके शरीर में खून की कमी (एनीमिया) भी हो सकती है। आइए आपको बताते हैं कितनी गंभीर समस्याएं हैं पेट में गैस और कब्ज और किस तरह ये आपके शरीर में बनने वाले खून को प्रभावित करते हैं।

कब्ज और गैस के कारण हीमोग्लोबिन की कमी

पेट में गैस, कब्ज और हीमोग्लोबिन की कमी, तीनों का आपस में संबंध है, इसलिए एक के होने पर बाकी दोनों के होने की आशंका बढ़ जाती है। दरअसल खान-पान की गड़बड़ी के कारण पेट में गैस की समस्या शुरू होती है। पेट में बनने वाली गैस अगर कभी-कभार बनती है, तो सामान्य बात है मगर यदि ये लगभग रोज ही बनती है, तो धीरे-धीरे इसके कारण कब्ज की समस्या शुरू हो जाती है।

कब्ज होने पर पेट ठीक से साफ नहीं होता है इसलिए लिवर पर दबाव पड़ता है। लिवर पर जब दबाव पड़ता है, तो शरीर में ऑक्सीजन की खपत बढ़ जाती है। ऑक्सीजन हमें रक्त के सहारे मिलती है, जिसे हमारा हृदय पंप करके भेजता है। लिवर हमारे भोजन से पोषक तत्वों को अलग करता है, जो रक्त के ही सहारे सभी अंगों तक पहुंचाया जाता है। ऐसे में जब लिवर पर दबाव पड़ता है, तो वो ठीक से काम नहीं करता है, जिससे खून में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है और व्यक्ति धीरे-धीरे कमजोर होने लगता है। कई लोगों में इसी कारण हीमोग्लोबिन की कमी (एनीमिया) की समस्या हो जाती है।

इसे भी पढ़ें:- अंगों में बार-बार सूजन हो सकता है एडिमा का संकेत, जानें लक्षण और कारण

हर तीसरे व्यक्ति को है कब्ज

एक शोध के मुताबिक भारत में हर तीसरे व्यक्ति को कब्ज की समस्या है। इसका कारण कम शारीरिक मेहनत, अधिक तेल-मसाले वाला भोजन और जीवनशैली है। कब्ज के कारण लोगों को शौच करने में परेशानी होती है और घंटों टॉयलेट में बैठने के बाद भी पेट साफ नहीं होता है। लोग कब्ज जैसी समस्या का कोई इलाज नहीं करते। आमतौर पर कोई आयुर्वेदिक चूर्ण, घरेलू नुस्खे या अन्य किसी उपाय से इसे टालने की कोशिश करते हैं, जबकि यहीं से समस्या शुरू होती है। कब्ज की समस्या बढ़ने से लिवर पर दबाव पड़ता है जिससे लीवर खराब होने और दिल में बैचेनी कि समस्या हो जाती है।

पेट की गैस है सामान्य रोग

पेट की ज्यादातर बीमारियों का कारण पेट की गैस होती है। भारतीय खान-पान में गरिष्ठ और मसालेदार चीजों का सेवन ज्यादा किया जाता है। इसके अलावा एक ही साथ दूध, दही, सब्जी, मिठाई आदि का सेवन करने और चाय-कॉफी के कारण गैस की समस्या बहुत सामान्य है। आमतौर पर पेट में हर रोज गैस बनने को लोग असामान्य नहीं समझते हैं। एक शोध के मुताबिक युवा-वृद्ध हर किसी को सप्ताह में एक बार पेट में गैस बनने की समस्या जरूर होती है। पेट की गैस एक चेतावनी होती है कि आपके पेट में कुछ गड़बड़ी चल रही है जिसे तुरंत सुलझाने की जरूरत है। आमतौर पर पेट की गैस में लोग सोडा पीकर या कोई दवा खाकर राहत पा लेते हैं। लेकिन पेट में गैस की वजह से माइग्रेन, अल्सरेटिव कोलायटिस और हार्ट बर्न जैसी कई समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए पेट में गैस को गंभीरता से लेकर इसका इलाज करने की जरूरत है।

इसे भी पढ़ें:- जानें क्यों होती है पित्त की पथरी और किन आहारों से करना चाहिए परहेज

पेट को कैसे रखें स्वस्थ

जिन लोगों को कब्ज या गैस की समस्या है, उन्हें अजवाइन को चबाकर खाना चाहिए और उसके बाद एक कप गुनगुना पानी पीना चाहिए। इसके अलावा रेशेदार भोजन यानी फाइबरयुक्त आहार ज्यादा खाएं और खूब पानी पिएं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

Disclaimer