चिरौंजी का लेप लगाने से दूर होती हैं ये 6 समस्याएं, आयुर्वेदाचार्य से जानें कैसे करें इस्तेमाल

चिरौंजी का सेवन सेहत के लिए बेहद उपयोगी है। लेकिन चिरौंजी का लेप भी शरीर की कई समस्याओं से छुटकारा दिला सकता है। जानें, इस्तेमाल करने का तरीका

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Oct 01, 2021
चिरौंजी का लेप लगाने से दूर होती हैं ये 6 समस्याएं, आयुर्वेदाचार्य से जानें कैसे करें इस्तेमाल

चिरौंजी को आमतौर पर सूखे मेवे के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन बता दें कि चिरौंजी कई तरीकों से सेहत को फायदा पहुंचा सकती है। चिरौंजी के अंदर भरपूर मात्रा में प्रोटीन, एनर्जी, फास्फोरस, जिंक, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, कॉपर आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं। वही इसके अंदर एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण भी मौजूद होते हैं जो सेहत को कई समस्याओं से बचा सकते हैं। ऐसे में चिरौंजी के सेवन से बालों की समस्या, त्वचा की समस्या, सिर दर्द से राहत, कब्ज की समस्या से छुटकारा, डायरिया से राहत, रोग प्रतिरोधक क्षमका को मजबूती, शरीर की कैसी भी सूजन से छुटकारा, डायबिटीज की समस्या आदि में फायदा मिल सकता है। बता दें कि आज हम बात कर रहे हैं चिरौंजी के लेप की। चिरौंजी का लेप यदि त्वचा पर लगाया जाए तो ये कई समस्याओं से राहत दिला सकता है। आज का हमारा लेख चिरौंजी के लेप के फायदों पर ही है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि चिरौंजी के लेप से सेहत को क्या-क्या फायदा हो सकता है। इसके लिए हमने आयुर्वेद संजीवनी हर्बल क्लिनिक शकरपुर, लक्ष्मी नगर के आयुर्वेदाचार्य डॉ एम मुफिक (Ayurvedacharya Dr. M Mufik) से भी बात की है। पढ़ते हैं आगे...

चिरौंजी के लेप के फायदे

चिरौंजी का लेप सेहत के लिए बेहद उपयोगी है। जानते हैं फायदे-

1 - त्वचा के लिए फायदेमंद

चिरौंजी के बीजों से बना लेप त्वचा को कई समस्याओं से दूर करने में उपयोगी है। ऐसे में आप गुलाब जल के साथ चिरौंजी के बीज से बने पाउडर का मिश्रण तैयार करें और त्वचा पर लगाएं। ऐसा करने से न केवल त्वचा में जलन की समस्या दूर होती है। बल्कि दाग धब्बे भी दूर हो जाते हैं। यदि आप चेहरे पर चमक लाने चाहते हैं तो गुलाब जल और चिरौंजी आपकी इस इच्छा को पूरा कर सकते हैं। बता दें कि त्वचा की कई समस्याओं को दूर करने के लिए चिरौंजी के बीजों से बना लेप कई चीजों से तैयार किया जा सकता है। इन चीजों में हल्दी, बेसन, चंदन का पाउडर, जायफल का पाउडर, कच्चा दूध, संतरे के छिलके आदि शामिल हैं। इन सब चीजों के उपयोग एक साथ नहीं किया जाता। बारी-बारी से आप इन चीजों को चिरौंजी के बीजों के पाउडर के साथ मिलाकर लेप बना सकते हैं और त्वचा पर इस्तेमाल कर सकते हैं। 

2 - घाव को करे ठीक

यदि त्वचा पर किसी भी प्रकार का घाव हो जाए या कोई लंबे समय से घाव भर ना रहा हो तो इसे ठीक करने में चिरौंजी आपके बेहद काम आ सकती है। ऐसे में आप चिरौंजी के बीजों को हल्दी को तेल में पकाएं और प्रभावित स्थान पर लगाएं। ऐसा करने से न केवल घाव जल्दी भरता है बल्कि पुराने से पुराना घाव भी ठीक हो सकता है।

इसे भी पढ़ें- चिरौंजी फेसमास्क से पाएं गर्मी में भी मुलायम-दमकती त्वचा, सनबर्न में मिलेगी राहत

3 - जोड़ों का दर्द हो दूर

जोड़ों के दर्द को दूर करने में चिरौंजी आपके बेहद काम आ सकती है। ऐसे में आप चिरौंजी के बीजों के साथ-साथ मुलेठी और तिल को समान मात्रा में पीसें और उसके बाद बने पाउडर को बकरी के दूध में मिलाएं। अब बने लेप को जोड़ों पर लगाएं। ऐसा करने से न केवल दर्द की समस्या दूर होती है बल्कि गठिया के कारण होने वाले सूजन से भी छुटकारा मिल जाता है।

4 - मुंहासे को करे दूर

मुहांसों की समस्या को दूर करने में चिरौंजी आपके बेहद काम आ सकती है। ऐसे में आप चिरौंजी के बीज को गुलाब जल के साथ मिलाएं और प्रभावित स्थान पर लगाएं। ऐसा करने से न केवल मुहांसों की समस्या दूर होगी। बल्कि मुहांसों के कारण चेहरे पर होने वाले दाग धब्बों से भी छुटकारा मिल सकता है।

5 - शरीर की बदबू को दूर करने में उपयोगी

शरीर की बदबू को दूर करने में चिरौंजी का पाउडर आपके बेहद काम आ सकता है। ऐसे में आप चिरौंजी के पाउडर को चंदन मिलाएं और उशमें गुलाब जल मिलाकर एक लेप तैयार करें। अब इस लेप को पूरे शरीर पर लगाएं।  ऐसा करने से न केवल शरीर की त्वचा पर मौजूद बैक्टीरिया दूर होंगे। बल्कि शरीर से खुशबू भी आएगी। 

6 - खुजली की समस्या को करे दूर

खुजली की समस्या को दूर करने में भी चिरौंजी आपके बेहद काम आ सकती हैं। ऐसे में आप चिरौंजी के बीजों से बने पाउडर में पिसा हुआ सुहागा और गुलाब जल मिलाएं और प्रभावित स्थान पर लगाएं ऐसा करने से ना केलव खुजली की समस्या दूर हो सकती है बल्कि खुजली के कारण त्वचा पर लगी खरौंच भी दूर हो सकती है।

 इसे भी पढ़ें- चिरौंजी है पेट की इन 4 समस्याओं का रामबाण इलाज, जानें इसके प्रयोग का तरीका

चिरौंजी का लेप लगाते वक्त बरतने वाली सावधानी

इस लेप को लगाते वक्त व्यक्ति को कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है।

1 - यदि कोई व्यक्ति स्किन प्रॉब्लम से ग्रस्त है या उसे त्वचा से संबंधित कोई संक्रमण हुआ है तो चिरौंजी का लेप लगाने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूर ले लें।

2 - बच्चों के शिशु की त्वचा पर चिरौंजी का इस्तेमाल करने से पहले एक्सपर्ट की राय जरूर लें।

3 - यदि चिरौंजी से एलर्जी महसूस हो तो इसका इस्तेमाल अपनी त्वचा पर ना करें। वरना इसके कारण त्वचा से संबंधित अन्य समस्या हो सकती है।

एक्सपर्ट की राय

चिरौंजी के अंदर कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो व्यक्ति की सेहत के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। वैसे ही चिरौंजी का लेप भी कई समस्या को दूर करने में उपयोगी है। लेकिन चिरौंजी के लेप का इस्तेमाल सीमित मात्रा में ही करना सही है। नियमित रूप त्वचा पर इसका उपयोग करने से पहले त्वचा की और समस्याएं भी हो सकती हैं। ऐसे में हफ्ते में एक या दो बार चिरौंजी का लेप लगाना सही है।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि चिरौंजी से बना लेप सेहत को कई समस्याओं से दूर करने में उपयोगी है। लेकिन चिरौंजी का पाउडर कितनी मात्रा में इस्तेमाल करना है इसके बारे में भी व्यक्ति को पता होना जरूरी है। ऐसे में इसका इस्तेमाल करने से पहले एक बार एक्सपर्ट से इसकी जरूरी मात्रा का ज्ञान ले लें। ध्यान दें कि अधिक मात्रा में चिरौंजी का इस्तेमाल करना नुकसान दायक भी हो सकता है।

इस लेख में फोटोज़ Freepik से ली गई हैं। 

Disclaimer