पौष्टिकता से भरी चेरी से दूर करें गठिया और कैंसर!

चेरी में आयरन, पोटैशियम, कर्बोहाईड्रेट, विटामिन ए, बी, सी, बीटा कैरोटिन, कैल्शियम, फोस्फोरस, मैंगनीज जैसे अनेक पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं।

Atul Modi
Written by: Atul ModiUpdated at: Mar 20, 2017 19:12 IST
पौष्टिकता से भरी चेरी से दूर करें गठिया और कैंसर!

चेरी एक खट्टा-मीठा गुठलीदार स्वादिष्ट फल है। इसका रंग लाल, काला या पीला होता है और इसका अकार आधे से सवा इंच के व्यास (डायामीटर) का गोला होता है। इसमें एन्थोसियानिन नाम के पदार्थ होते हैं जो शरीर के अंगों में जलन और दर्द कम करते हैं। माना जाता है के मधुमेह और ह्रदय व अन्य ग्रंथियों के रोगों में छुपी हुई जलन का बहुत बड़ा हाथ है। चूहों के साथ प्रयोगों में देखा गया है कि चेरी के एन्थोसियानिन जलन हटाने में मदद करते हैं। चेरी में आयरन, पोटैशियम, कर्बोहाईड्रेट, विटामिन ए, बी, सी, बीटा कैरोटिन, कैल्शियम, फोस्फोरस, मैंगनीज जैसे अनेक पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं।

इसे भी पढ़ें : बॉडी बिल्डिंग स्टेरॉयड दिल के लिए हैं खतरनाक

arthritis

चेरी खाने के स्‍वस्‍थ्‍य लाभ

इसे भी पढ़ें : लंबी उम्र चाहिए तो अपना काम स्वयं करने की आदत डालें

गठिया  

चेरी में एन्थोसियानिन पाया जाता हैं, यह गठिया रोग के लिए बहुत ही फायदेमंद होता हैं। गठिया रोग से जो लोग ग्रस्त होते हैं उनके शरीर में यूरिक एसिड अधिक मात्रा में बनता हैं जिसके कारण ही रोगी के हाथ पैर सूज जाते हैं और उन्हें बहुत दर्द होता हैं। एन्थोसियानिन चेरी में स्थित वो एंजाइम होते हैं जिनसे शरीर के यूरिक एसिड की मात्रा कम हो जाती हैं और उसे जल्द ही इस रोग से छुटकारा मिल जाता हैं। अगर किसी व्यक्ति को गठिया रोग हो और उसके हाथों पैरों में अधिक दर्द होती हैं तो उसे दिन में करीब 15 से 20 खट्टी चेरी का सेवन करना चाहिए।

हृदय रोगों के लिए

चेरी ह्रदय रोग से पीड़ित के लिए बहुत ही लाभदायक होता हैं, क्योंकि इसमें पोटैशियम, लोहा, जस्ता, मैगनीज जैसे खनिज लवण पाए जाते हैं। इसके साथ ही इसमें क्युसेर्टिन, और बीटा कैरोटिन जैसे तत्व भी पाए जाते हैं। ये तत्व ह्रदय रोग को रोकने में अधिक सक्षम होते हैं।

कैंसर

चेरी में एंटी ऑक्‍सीडेंट्स जैसा तत्व भी पाया जाता हैं। यह तत्व मनुष्य के शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता हैं, जिससे कैंसर जैसे रोग हमारे शरीर से दूर रहते हैं। चेरी में फिनॉनिक एसिड और फ्लेवोनॉयड भी पाए जाते हैं। ये दोनों मनुष्य के शरीर में स्थित कैंसर के ऊतक को बढ़ने से रोकते हैं।

रक्तचाप

चेरी में पोटैशियम की मात्रा अधिक होती हैं, जिससे हमारे शरीर में स्थित सोडियम की मात्रा कम हो जाती हैं और शरीर का रक्तचाप का स्तर सामान्य रहता हैं। यदि चेरी का नियमित रूप से सेवन किया जाए तो इससे रक्तचाप तो नियंत्रित रहता ही हैं इसके साथ ही हमारे शरीर का कोलेस्ट्रोल का स्तर भी ठीक रहता हैं।

हड्डियों के लिए

चेरी का सेवन करने से मनुष्य के शरीर की हड्डियों में मजबूती आती हैं, क्योंकि चेरी में विटामिन सी की भी मात्रा पाई जाती हैं विटामिन सी हमारे शरीर के कोलेजन और ऊतकों के लिए लाभदायक होता हैं। चेरी को खाने से हड्डियों में मजबूत होती हैं इसके साथ ही यह शरीर के अस्थि घनत्व को भी बढ़ाता हैं।

 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Diet and Nutrition

 

Disclaimer