कपड़ों की रगड़ से होने वाले रैशेज और खुजली (चफिंग) को दूर करने के 8 घरेलू नुस्खे

पसीने के कारण या कपड़ों के स्किन पर रगड़ने से चकत्ते और रैशेज की समस्या चफिंग होती है। जानें इसे ठीक करने के घरेलू उपाय।

 
Monika Agarwal
त्‍वचा की देखभालWritten by: Monika AgarwalPublished at: Apr 10, 2022Updated at: Apr 10, 2022
कपड़ों की रगड़ से होने वाले रैशेज और खुजली (चफिंग) को दूर करने के 8 घरेलू नुस्खे

अक्सर बारिश या गर्मी के मौसम में जब उमस बढ़ जाती है, तब चफिंग की समस्या होती है। चफिंग एक ऐसी समस्या है, जिसमें कपड़े की रगड़ के कारण स्किन पर खुजली वाले चकत्ते उभर आते हैं। आपने अगर कभी ध्यान दिया हो, तो जब आप बारिश में भीग जाते हैं या ज्यादा पसीना आ जाता है, तो उस जगह चकत्ते और रैशेज हो जाते हैं। अगर आपने काफी देर तक गीले कपड़े पहनकर रखे हैं, तो उसमें घर्षण होने की वजह से स्किन में जलन होने लगती है। इसे नेचुरल तरीके से भी ठीक किया जा सकता है।

चफिंग के लक्षण

चफिंग होने पर कई तरह के लक्षण नजर आते हैं। लेकिन शुरूआत में दाने हो सकते हैं, जिन्हें बिलकुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। इसके बाद आपको खुजली, स्किन में लाल चकत्ते और सूजन होना, जलन और चुभन आदि समस्याएं भी हो सकती हैं।

चफिंग के कारण

चफिंग होने के साधारण कारण तो आपको हमने पहले भी बताया है। लेकिन कुछ कारण ऐसे हैं, जो चफिंग होने के खतरे को और भी ज्यादा बढ़ा देते हैं। जिन्हें जानने के बाद आपको एहतियात बरतने की जरूरत है। वो क्या है ये भी जान लेते हैं।

ज्यादा देर तक एक्सरसाइज़ करना

मोटापा ज्यादा होना

काफी देर तक एक ही पैड का इस्तेमाल करना

टाईट फिटिंग के कपड़े पहनना

summer-itching

Image Credit- Health Magazine

चफिंग को ठीक करने के घरेलू उपाय

अगर आप भी चफिंग जैसी समस्या से जूझ रहे हैं तो आप नेचुरल उपचार का ही चुनाव करें। क्योंकि नेचुरल उपचार आपकी स्किन को नुकसान पहुंचाए बिना अपना कमाल दिखाएगा।

1. एलोवेरा जेल

एलोवेरा जेल स्किन के लिए काफी अच्छा होता है। आप रैशेज वाली जगह पर इसका जेल लगाएं और आधे घंटे के लिए इसे छोड़ दें और फिर पानी से धो लें। चफिंग में एलोवेरा काफी अच्छे से काम करता है।

इसे भी पढे़ं- इन 11 कारणों से हो सकती है शरीर में खुजली, जानें लक्षण और बचाव

2. ऑलिव आयल

चफिंग वाली जगह पर आप ऑलिव आयल लगाएं और हल्के हाथों से मसाज करें।

इसे रात में सोने से पहले लगाएं।

फिर आधे घंटे के बाद धो लें।

इसमें एंटीओक्सिडेंट के गुण होते हैं, जो घाव को तेजी से भरता है।

summer-itching

Image Credit- Freepik

3. टी-ट्री ऑयल

चफिंग के इलाज के लिए टी ट्री ऑयल काफी कामगार साबित हो सकता है।

इसकी कुछ बूंदे नारियल के तेल में मिलाकर इस्तेमाल करें।

इसे तब तक मसाज करें, जब तक स्किन इसे पूरी तरह से सोख ना ले।

जरूरत पड़ने में इसका इस्तेमाल बार-बार करें।

इससे इन्फेक्शन भी बढ़ने से रुकता है।

4. पेट्रोलियम जेली

थोड़ी सी पेट्रोलियम जेली को लेकर रैशेज की जगह पर लगाएं।

ये जेली स्किन पर नमी बनाए रखती है।

स्किन पर एक सुरक्षा कवच बना कर रखती है, जिससे संक्रमण नहीं बढ़ता।

5. ओटमील बाथ

आप जब भी नहाने जाएं, तो उससे पहले नहाने के पानी में दो कप ओट्स मिला लें।

20 से 30 मिनट के बाद स्किन पर ये पानी धीरे-धीरे डालें और थपथपा कर सुखा लें।  

आप ऐसा बार बार दोहरा सकते हैं।

summer-itching

Image Credit- Freepik

6. हल्दी

हल्दी स्किन के लिए काफी फायदेमंद होती है। आप हल्दी के पाउडर में पानी मिलाकर पेस्ट बना लें।

आप इसे रैशेज और चकत्ते वाली जगह पर लगाएं। इसे पूरी तरह सूखने दें और फिर धो लें।

आप इसे दिन में कई बार दोहरा सकते हैं।

हल्दी में एंटी-इफ्लेमेटरी के गुण होते हैं। जिससे रुखी स्किन से छुटकारा मिलता है।

चफिंग समस्या को हालांकि घरेलू इलाज से बढ़ने से रोका जा सकता है। इसे कंट्रोल करने या खत्म करने के लिए आप हमारी बताई हुई टिप्स को आजमा सकते हैं। पर किसी भी उपचार से पहले किसी अच्छे डॉक्टर की सलाह लें।

 Main Image Credit- Nurse Barb

Disclaimer