वेजिटेरियन डाइट के होते हैं ये 6 फायदे, कैंसर-हार्ट अटैक जैसी कई बीमारियां रहती हैं दूर

मानव शरीर के कार्य करने के लिए ऐसा कोई पौष्टिक तत्व नहीं है, जो वनस्पतियों से प्राप्त नहीं किया जा सकता हो। शाकाहारी भोजन में रोगों से लड़ने की क्षमता होती है। आइए जानें शाकाहार भोजन के फायदों के बारे में।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Oct 01, 2018
वेजिटेरियन डाइट के होते हैं ये 6 फायदे, कैंसर-हार्ट अटैक जैसी कई बीमारियां रहती हैं दूर

मांसाहारियों को जो तत्व मांसाहार से मिलते है, वैसे ही शा‍काहारी भोजन में भी शाक वे सभी तत्व मौजूद होते हैं। शाकाहारी आहार भी उतने ही पोषक होते हैं, जितने की मांसाहार में। मांसहारी लोगों के लिए प्रोटीन मछली, मांस और अंडे से प्राप्त होता है, जबकि शाकाहारियों को वनस्पति से प्राप्त हो जाता है। मानव शरीर के कार्य करने के लिए ऐसा कोई पौष्टिक तत्व नहीं है, जो वनस्पतियों से प्राप्त नहीं किया जा सकता हो। शाकाहारी भोजन में रोगों से लड़ने की क्षमता होती है। मांस में मिलने वाले तत्वों के कारण मांसाहार का पाचन जल्द नहीं किया जा सकता, जबकि शाकाहार भोजन का पाचन जल्दी किया जा सकता हैं। आइए जानें शाकाहार भोजन के फायदों के बारे में।

पोषक तत्‍वों से भरपूर

सब्जियों में बहुत से आवश्यक तत्व जैसे विटामिन, एंटी ऑक्सीडेंट, अमीनो एसिड इत्यादि पाया जाते है जिससे कई घातक बीमारियों से बचा जा सकता हैं। इसके अलावा शा‍काहारी भोजन में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और वसायुक्त पदार्थ भी पाये जाते हैं जो स्वास्‍थ्‍य के लिए लाभदायक होते है। शाकाहारी भोजन में शरीर की जरूरत के हिसाब से कैलोरीज और विटामिन पाये जाते है। और शा‍काहार भोजन में फाइबर भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।

इसे भी पढ़ें:- जानें केले में होते हैं कितने पोषक तत्व और क्या हैं रोज केला खाने के फायदे

हृदय रोगों की संभावना कम

शुद्घ शा‍काहार भोजन करने वाले व्यक्तियों को हृदय से संबंधित रोग होने की संभावना कम ही रहती है। क्‍योंकि मांसाहार की तुलना में शाकाहारी भोजन में संतृप्त वसा और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है, जिससे यह हृदय रोगों की आशंका कम करता है।

ऊर्जावान बनाये

शा‍काहार भोजन के अतिरिक्ति प्रभाव नहीं है। यह जल्दी खाना पचाने में मदद करता है, साथ ही यह मस्तिष्क को सचेत रखते हुए उसे बुद्धिमान बनाता है। शाकाहार भोजन करने वाले व्यक्ति कम अवसादग्रस्त रहते हैं और तरोताजा महसूस करते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर से बचाव

शाकाहारियों में हाई ब्लड प्रेशर की संभावना मांसाहारियों की तुलना में बहुत कम होती है और यह वजन व नमक पर निर्भर नहीं करता। ऐसा इसलिए होता है क्‍योंकि ऐसे लोग कॉम्लेक्स क्राबोहाइड्रेट ज्यादा मात्रा में ग्रहण करते हैं और इनमें शारीरिक स्थूलता भी कम होती है।

इसे भी पढ़ें:- क्या आप खाते हैं लाल रंग की ये 5 सब्जियां और फल? मिलते हैं सभी जरूरी पोषक तत्व

कैंसर से बचाव

शाकाहारी भोजन में विभिन्न प्रकार के रोगों से भी आपको बचाता है। शाकाहार का सेवन करने वाले व्‍यक्तियों में कई प्रकार के कैंसर रोगों जैसे फेफड़ों का कैंसर, आंत का कैंसर इत्यादि की संभावनाएं भी कम होती हैं। शोधों में भी ये बात साबित हो चुकी है कि शाकाहार का सेवन करने वाले व्यक्तियों में स्तन कैंसर का खतरा भी कम होता है। ऐसा शाकाहारियों में एस्ट्रोजन की कम मात्रा पाये जाने के कारण होता है। अनाज, फली, फल और सब्जियों में रेशे और एंटीऑक्सीडेंट ज्यादा होते हैं, जो कैंसर को दूर रखने में सहायक होते हैं।

किडनी रोगों से बचाव

किडनी की समस्या या इससे होने वाले रोगों में भी शाकाहारी भोजन लाभकारी है। शाकाहारी भोजन किडनी से संबंधित रोगों की रोकथाम में सहायक होता है। अध्ययनों के अनुसार, यूरीन के द्वारा प्रोटीन का निकल जाना, कोशिकाओं द्वारा रक्त छनने की गति, किडनी में रक्त संचार और किडनी से संबंधित विकार मांसाहारियों की तुलना में शाकाहारियों में कम पाए जाते हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Healthy Diet in Hindi

Disclaimer