अमलतास की फली में होते हैं कई गुण, इन बीमारियों को रखती है शरीर से दूर

अमलतास का पेड़ कई बीमारियों से निजात दिलाने और शरीर को कई तरह के संक्रमण से दूर रखने में मददगार साबित होता है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Aug 04, 2022Updated at: Aug 04, 2022
अमलतास की फली में होते हैं कई गुण, इन बीमारियों को रखती है शरीर से दूर

प्रकृति ने हमें कई ऐसे पेड़, पौधे और वनस्पतियां दी हैं, जो स्वास्थ्य के लिए किसी वरदान से कम नहीं हैं। हालांकि आज भी कई ऐसे पेड़ और पौधे हैं, जिसके बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी ही नहीं है। इसलिए आज हम आपको एक ऐसे पेड़ से रूबरू करवाएंगे जिसके बारे में आपने शायद सुना ही न हों। इस पेड़ का नाम है अमलतास। अमलतास का पेड़ कई बीमारियों से निजात दिलाने और शरीर को कई तरह के संक्रमण से दूर रखने में मददगार साबित होता है। तो आइए जानते हैं अमलतास के पेड़ और इस पर उगने वाले फल के फायदों के बारे में...

जानिए अमलतास के बारे में

किसी भी सामान्य पेड़ की तरह अमलतास का पेड़ भी 5 से 10 मीटर तक ऊंचा हो सकता है। मार्च से लेकर जुलाई महीने के बीच इस पेड़ पर पीले रंग के फूल उगते हैं। अमलतास के फल लंबे और बेलनाकार होते हैं, जो देखने में लंबे बैंगन की तरह लगते हैं। हालांकि जब अमलतास का सेवन करने की बात आती है, तो इसकी फलियों को खाने की सलाह दी जाती है।

अमलतास की फलियां खाने के फायदे

Benefits of Amaltas

कब्ज से दिलाता है मुक्ति

जंक फूड, कोल्ड ड्रिंक और अनहेल्दी फूड खाने की वजह से अक्सर लोगों को पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। पेट या पाचन संबंधी समस्याएं होने पर अमलतास की फली के रस का सेवन करने की सलाह दी जाती है। इसके लिए अमलतास की फली लें और इसे रात भर पानी में भिगो दें। इसके बाद फल का गूदा निकालकर जूस बनाएं और सेवन करें। आप चाहें तो अमलतास की फली का पानी भी पी सकते हैं।

खुजली और जलन से दिलाता है राहत

अमलतास का इस्तेमाल दाद, खुजली, जलन और स्किन पर होने वाली कई समस्याओं से राहत दिलाने के लिए भी किया जाता है। स्किन से जुड़ी समस्याओं से राहत पाने के लिए अमलतास की फलियों को पहले अच्छी तरह पीस लें। इस लेप में थोड़ा सा गुलाब जल या नॉर्मल पानी मिलाकर दाद, खुजली और स्किन पर होने वाली एलर्जी के हिस्से पर लगाएं। इसका इस्तेमाल करने से आपको कुछ ही दिनों में दाद, खाज और खुजली से राहत मिल सकती है।

Benefits of Amaltas pods in Hindi

बुखार कम करने में सहायक

अमलतास के पेड़ की जड़ का इस्तेमाल बुखार को कम करने के लिए किया जाता है। अमलतास की जड़ में कुछ ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो नैचुरल पिन किलर्स का काम करते हैं। ये सिरदर्द, बुखार और बदन दर्द से राहत दिलाने में मददगार साबित होते हैं।

चेहरे की खूबसूरती को बढ़ाने में मददगार

अमलतास के पेड़ पर फूल कुछ ही महीने उगते हैं, लेकिन ये चेहरे के लिए बहुत उपयोगी माने जाते हैं। अमलतास के फूल का लेप चेहरे पर लगाने से पिंपल्स, एक्ने और डार्क स्पॉट की समस्या दूर होती है। सप्ताह में 2 से 3 बार अमलतास के फूलों का लेप लगाने से फेशियल जैसा निखार चेहरे को मिल सकता है। 

 

Disclaimer