पपीता खाने के कई फायदे और नुकसान भी हैं, जानिए पपीते का सेवन करने के दौरान क्‍या करें और क्‍या न करें

पपीता प्रकृति का मनुष्य के लिए एक अद्भुत उपहार है। इसका इस्तेमाल सही से नहीं किया जाए तो इसके कई नुकसान भी हैं। जानिए कैसे करें पपीते का इस्तेमाल।

Atul Modi
Written by: Atul ModiUpdated at: Aug 11, 2020 13:39 IST
पपीता खाने के कई फायदे और नुकसान भी हैं, जानिए पपीते का सेवन करने के दौरान क्‍या करें और क्‍या न करें

पपीते को स्वास्थ्य के लिए रामबाण माना गया है। यह एक ऐसा फल है जिसमें प्रोटीन, विटामिन, फाइबर, कैल्शियम और कई पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में मिलते हैं। यह सेहत को ठीक रखने और बीमारियों को दूर करने के लिए बहुत फायदेमंद होता है। हम इसका सेवन कई तरह से कर सकते हैं। इसका इस्तेमाल सेहत को ठीक बनाए रखने के साथ-साथ स्किन से संबंधित परेशानियों को दूर करने व इसमें निखार लाने के लिए भी किया जाता है। हेल्थ से संबंधित पपीता के हजारों फायदे होते है पर इसके कुछ नुकसान भी हैं जिन्हें जानना भी बेहद जरूरी है। क्‍योंकि पपीते का सही तरीके से सेवन न करने के पर कई नुकसान हो सकते हैं। आइए जानते हैं कि पपीते का सेवन करने के दौरान क्‍या करें और क्‍या न करें?

पपीते का सेवन करने के दौरान क्‍या करें और क्‍या न करें

papaya

पपीता के फायदे- Benefits Of Papaya

इम्यून सिस्टम को बनाता है बेहतर: पपीता खाने से शरीर में इम्यून सिस्ट्म बेहतर होता है, जो शरीर के अंदर बीमारियों को पनपने से रोकता है। पपीता में एंटीऑक्सीडेंट और इम्यूनोस्टिम्युलेंट पाए जाते हैं जिससे इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने में आसानी होती है।

आंखो की रौशनी के लिए है फायदेमंद: पपीता विटामिन ए से भरपूर होता है जो आपकी आंखों की रौशनी कम होने से रोकता है। विटामिन ए आंखो कि रोशनी के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है।

पाचन की समस्या का करता है समाधान: आजकल के दौर हम खुद को जंक फूड या रेस्टॉरेंट का खाना खाने से रोक नही पाते है जिसका सीधा असर हमारे पाचन तंत्र पर पड़ता है। क्योंकि इसमें बहुत मात्रा तेल का प्रयोग होता है। पपीता में पपैन नामक एक पाचक एंजाइम होता है जो आपके पाचन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करता है।

कैंसर होने के जोखिमों को करता है कम: पपीता एंटीऑक्सिडेंट, फाइटोन्यूट्रिएंट्स और फ्लेवोनॉयड्स का एक समृद्ध स्रोत है जो हमारी कोशिकाओं को मुक्त कणों से होने वाले नुकसान से बचाता है। कुछ अध्ययनों ने कोलन और प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए पपीते को काफी अच्छा माना है।

इसे भी पढ़ें: वजन घटाने के साथ त्‍वचा को जवां बनाएगा पपीता, जानें इसके 11 सबसे जबरदस्त फायदे

पपीते के नुकसान- Side effects of Papaya

पीलिया होने का खतरा: पपीते में पाए जाने वाले पपैन और बीटा कैरोटीन नामक पदार्थ की वजह से शरीर में पीलिया और अस्‍थमा जैसी खतरनाक बीमारियों को बढ़ने का खतरा हो जाता है। पपीते में यह दोनों पदार्थों की प्रचुर मात्रा पाए जाते है।

गर्भपात का खतरा: कच्चे पपीते से गर्भपात का खतरा सबसे अधिक होता है, क्योंकि कच्चे पपीते में लैटेक्‍स नाम के तत्व की वजह से गर्भाशय के सिकुड़ने की संभावना बनी रहती है, जिसके कारण गर्भपात या फिर समय से पहले प्रसव की संभावना बढ़ जाती है। 

प्रजनन क्षमता को करता है प्रभावित: पपीते के बीज में मौजूद अर्क पुरुषों में प्रजनन क्षमता कम कर सकता है। यह शुक्राणु की संख्या को भी कम कर सकता है और शुक्राणु में होने वाली गतिशीलता को प्रभावित करता है।

इसे भी पढ़ें: हफ्ते में 2 से 3 बार कुछ ऐसे खाएंगे पपीता तो चंद दिनों में घट जाएगी शरीर की चर्बी

नवजात शिशुओं को स्तनपान से हो सकता है खतरा: मां बनने के शुरुआती दिनों में आपको पपीते के सेवन नही करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि पपीते में पपैन नामक का एक पदार्थ पाया जाता है जो कि नवजात शिशुओं के लिए घातक सिद्ध हो सकता है।

अगर आप पपीते का सेवन करते हैं तो उसके फायदे और नुकसान के बारे आपको जरूर जानना चाहिए। क्‍योंकि यह आपके लिए जितना फायदेमंद होता है, उतना ही हानिकारक भी हो सकता है।  

Read More Articles On Healthy Diet In Hindi

Disclaimer