Natural Antibiotics: रसोई में मौजूद 7 चीजें करती हैं नेचुरल एंटी-बायोटिक का काम, जानें किन रोग में आती हैं काम

Natural Antibiotics: क्या आप जानते हैं कि आपकी रसोई में मौजूद कुछ चीजें एंटी-बायोटिक का काम करती हैं। नहीं तो जान लीजिए। 

 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Mar 24, 2020
Natural Antibiotics: रसोई में मौजूद 7 चीजें करती हैं नेचुरल एंटी-बायोटिक का काम, जानें किन रोग में आती हैं काम

मौजूदा वक्त में जिस तरह का माहौल है और लोगों में अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने की चिंता है उसके लिए आपको अपने आस-पास मौजूद चीजों के बारे में पता होना चाहिए। किसी भी चीज को लेकर डर हमें तनाव और चिंता का शिकार बना सकता है। वर्तमान में अपने स्वास्थ्य की जांच करना अधिक महत्वपूर्ण हो गया है। साथ ही स्वच्छता बनाए रखने और सभी चिकित्सा संबंधी दिशा-निर्देशों का पालन कर अपनी इम्यूनिटी को मजबूत बनाया जा सकता है और हर प्रकार के खतरे से बचा जा सकता है। किसी भी प्रकार के इंफेक्शन को दूर करने के लिए एंटी-बायोटिक दवाओं के सेवन की सलाह दी जाती है लेकिन इन दवाओं का ज्यादा सेवन आपके लिए हानिकारक हो सकता है। अगर आप सोच रहे हैं कि इसके अलावा विकल्प ही क्या बचता है तो हम आपको प्राकृतिक विकल्पों के बारे में बता रहे हैं। जो प्राकृतिक होने के साथ-साथ किसी प्रकार का साइड-इफेक्ट भी नहीं देते हैं। इन प्राकृतिक एंटीबायोटिक (एंटी बैक्टीरियल) खाद्य पदार्थों का सेवन कर आप और आपका परिवार किसी भी प्रकार के इंफेक्शन से सुरक्षित रह सकता है। इस लेख में हम आपको आपकी रसोई में मौजूद ऐसे सात खाद्य पदार्थों के  बारे में बता रहे हैं जिन्हें आप अपने डेली रूटीन में शामिल कर स्वस्थ शरीर बनाए रख सकते हैं।

antibacterial

रसोई में मौजूद 7 एंटीबायोटिक रखेंगे स्वस्थ और इंफेक्शन से सेफ 

शहद

शहद सबसे अच्छे एंटी-बैक्टीरियल फूड में से एक माना जाता है। शहद में मुख्य घटक पेरोक्साइड होता है, जिसके एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। अगर इसे घाव पर लगाया जाााए तो घाव जल्दी भरते हैं और दर्द में भी आराम मिलता है।

अदरक

अदरक को सर्दी और फ्लू को ठीक करने में मदद करने के लिए जाना जाता है। यह मतली और उल्टी से भी लड़ने के लिए जाना जाता है। यह एक प्राकृतिक एंटीबायोटिक है। आप इसे अपनी चाय और स्मूदी में मिला सकते हैं या करी में डालने के लिए छोटे टुकड़ों में भी सेवन कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः Cheapest Protein Food: शाकाहारियों के लिए ये 8 सस्ते प्रोटीन फूड शरीर को देंगे प्रोटीन भरपूर, जानें मात्रा

लौंग

लौंग का उपयोग सदियों से दंत समस्याओं के इलाज के लिए किया जाता आ रहा है। यह ई. कोली और एस. ऑरियस जैसे बैक्टीरिया से लड़ने के लिए भी जाना जाता है। इसलिए इसे एक प्राकृतिक एंटी-बायोटिक माना जाता है। 

food

लहसुन

इसे सलाद की तरह कच्चा खाना सबसे अच्छा होता है। कुछ लोग तेज गंध के कारण इसे खाने से बचते हैं। लहसुन में  निवारक और उपचारात्मक गुण होते हैं जो बैक्टीरिया, वायरस और संक्रमण से लड़ते हैं।

इसे भी पढ़ेंः Protein Food: रोटी-चावल के साथ दिन में कभी भी खा सकते हैं ये 5 प्रोटीन पैक्ड फूड, चुस्त-दुरुस्त रहेगी बॉडी

दालचीनी

दालचीनी यीस्ट संक्रमण से लड़ने के लिए सबसे अच्छी मानी जाती है। दालचीनी के सेवन का सबसे अच्छा तरीका है कि आप दालचीनी की कुछ स्टिक अपने चाय में डालें और रोजाना इसका सेवन करें। ये आपको कई बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करेगी।

विटामिन सी

इम्यूनिटी बढ़ाने और उसे मजबूत बनाने के लिए विटामिन सी सबसे अच्छी मानी जाती है। विटामिन सी की अपनी जरूरत को पूरा करने के लिए आप सप्ताह में दो बार संतरे और अनानास जैसे फल का सेवन कर सकते हैं। इन फलों के रस भी आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है।

अजवाइन

अजवायन एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरी होती है। आप अपने सलाद और सूप पर अजवनाइन छिड़क सकते हैं और अपने दैनिक भोजन को अजवायन के तेल में पका सकते हैं। इसके सेवन से भी आप कई प्रकार के संक्रमण और वायरस से दूर रह सकते हैं। 

Read More Articles On Healthy Diet in Hindi

Disclaimer