स्तनपान कराने वाली महिलाओं को ध्‍यान रखनी चाहिए ये 6 बातें, उनके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए है जरूरी

ब्रेस्टफीडिंग यानि की स्तनपान करवाने वाली महिलाओं के शरीर को अधिक केयर की आवश्यकता होती है।

सम्‍पादकीय विभाग
महिला स्‍वास्थ्‍यWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Feb 27, 2020Updated at: Feb 27, 2020
स्तनपान कराने वाली महिलाओं को ध्‍यान रखनी चाहिए ये 6 बातें, उनके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए है जरूरी

मां बनना दुनिया का एक सबसे खूबसूरत एहसास माना जाता है। लेकिन मां बनने के बाद शिशु की देख-रेख करना भी नई मां के लिए उतना ही मुश्किल हो जाता है। खास कर समस्या आती है स्तनपान करवाते वक्त। स्तनपान करवाने के तरीका सही ना होने मां के साथ ही शिशु को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसी के साथ ही मां को अपना ख्याल रखना भी बेहद जरुरी होता है। आइए हम आपको बताते हैं कि ब्रेस्टफीडिंग के दौरान आपको अपना ख्याल कैसे रखना चाहिए...

1. खान-पान का रखे ख्याल

स्तनपान करवाने वाली मां के लिए खान-पान काफी महत्वपूर्ण होता है। खाना शरीर को एनर्जी देता है, अगर आप वेजिटेरियन हैं तो अपने खाने में कैल्शियम युक्त भोजन को शामिल करें। इसके अलावा हरी सब्जियां, दालें और प्रोटीन युक्त खाना खाएं जो आपके शरीर को पोषण देता है। खाने के साथ ही शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए पानी, नारियल पानी और जूस भी भरपूर पीएं। 

Healthy Eating In Breastfeeding

 

2. भावनात्मक स्वास्थ्य का रखें ख्याल

पहली बार मां बनने के बाद स्तनपान करवाना एक अलग एहसास होता है। हो सकता है कि इसके बाद आपको थकान, तनाव और चिड़चिनपन का एहसास होने लगे। रिसर्च बताते हैं कि बच्चे को पैदा करने से लेकर बच्चों को पालने तक में  महिलाओं के भावनात्मक स्वास्थ्य पर काफी असर पड़ता है। ऐसे में महिलाओं को ब्रेस्टफिडिंग के दौरान अपने भावनात्मक स्वास्थ्य का ख्याल रखना चाहिए।भावनात्मक स्वास्थ्य को बेहतर रखने के लिए हमेशा खुद को शांत और खुश रखने का प्रयास करें। 

इसे भी पढें: स्तनपान कराने वाली मां के दूध उत्पादन में वृद्धि के लिए 6 आसान आयुर्वेदिक उपाय

3. आराम करने की कोशिश करें

बहुत सारी महिलाओं को देखा जाता है कि वे कुछ भी करने के लिए बेबी के सोने का इंतजार करती हैं। ऐसे में वो पूरा आराम नहीं कर पाती जिससे तनाव और चिड़चिड़ाहट बढ़ जाती है इसलिए बेबी को ब्रेस्टफिडिंग करवाने वाली महिलाओं को इस बात का ख्याल रखना चाहिए की उन्हें अपने जीवन के हर एक क्षण को एंजॉय करें। अपने शरीर को पूरा आराम दें ताकि थकान के कारण आपको तनाव की समस्या ना हो। 

Keep Rest

4. स्तनों का रखें ख्याल

ब्रेस्टफीडिंग करवाते वक्त अपने स्तनों का ख्याल रखना बिल्कुल ना भूलें। अपने स्तनों को लगातार चेक करती रहे. अगर स्तनों में दर्द होता है या वो लाल हो जाते हैं तो डॉक्टर को दिखाएं। ये मैस्टाइटिस( एक प्रकार की स्तनों की सूजन) के लक्षण हो सकते हैं इसलिए इन संकेतों को अनदेखा ना करें और तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। 

5. सही पॉजिशन में बैठकर पिलाएं शिशु को दूध 

ब्रेस्टफीडिंग करवाते वक्त आपको सही पॉजिशन में बैठना चाहिए। गलत पॉजिशन के कारण आपकी कमर में दर्द की स्थिति पैदा हो सकती है साथ ही इससे बच्चे को भी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। बच्चे के स्तनापान करवाने के लिए अलग-अलग बैठने की पॉजिशन का इस्तेमाल कर सकती हैं ताकि आपकी कमर में दर्द ना हो और ना ही बेबी को असुविधा हो। 

Right Position in Breastfeeding

इसे भी पढें: क्या आप भी सोचती हैं शिशु को स्तनपान कराने से फिटनेस और बॉडी शेप होती है खराब? जानें ऐसे ही 5 मिथकों की सच्चाई

6. एक्सरसाइज करें

जी हां, शिशु के जन्म के बाद महिलाएं एक्सरसाइज करना शुरू कर सकती है. एक्सरसाइज करने से तनाव कम होता है और वजन भी। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान खुद को खुश रखने के लिए और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए एक्सरसाइज जरुर करें। 

लेखक: अंशिका 

Read More Article On Women's Health In Hindi

Disclaimer