जोड़ों में दर्द और गठिया की समस्या को बढ़ा सकते हैं ये 5 कारक, युवाओं को भी हो सकती है समस्या

अगर आपको जोड़ों या हड्डियों में दर्द होता है, तो इसका कारण आपकी ये 5 गलतियां हो सकती हैं। कहीं अंजाने में आप तो नहीं कर रहे ये गलतियां?

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Feb 07, 2020
जोड़ों में दर्द और गठिया की समस्या को बढ़ा सकते हैं ये 5 कारक, युवाओं को भी हो सकती है समस्या

बहुत सारे लोग जोड़ों के दर्द से परेशान रहते हैं। आमतौर पर इसका कारण अर्थराइटिस या गठिया होता है। कई बार गलत पोजीशन में देर तक बैठने या चोट लगने के कारण भी जोड़ों में दर्द की शिकायत हो जाती है। जोड़ों का दर्द अगर अर्थराइटिस के कारण हो, तो कई बार दर्द निवारक दवाएं भी इसमें काम नहीं करती हैं। रेगुलर एक्सरसाइज, डाइट में बदलाव और सही एक्सरसाइज के द्वारा अर्थराइटिस या गठिया से छुटकारा पाया जा सकता है। मगर अक्सर लोग अंजाने में कुछ गलतियां करते हैं, जिसके कारण उनका जोड़ों का दर्द बढ़ जाता है। आइए आपको बताते हैं ऐसे ही कुछ कारक जो आपके जोड़ों का दर्द बढ़ा देते हैं।

दिनभर एक जगह बैठना या लेटना

अक्सर युवाओं में जोड़ों में दर्द का एक बड़ा कारण सिडेंट्री लाइफस्टाइल (गतिहीन जीवनशैली) होती है। अगर कोई व्यक्ति दिन के ज्यादातर समय एक ही पोजीशन में बैठा रहता है या लेटा रहता है, तो संभव है कि उसे जल्द ही जोड़ों में दर्द की समस्या हो जाए। दरअसल जोड़ों और हड्डियों को स्वस्थ रखने के लिए रेगुलर एक्सरसाइज करते रहना या कम से कम शरीर को एक्टिव रखना बहुत जरूरी है।

इसे भी पढ़ें: सिरदर्द और जोड़ों के दर्द को 5 मिनट में ठीक करेगा तेजपत्ता, जानें कैसे

तनाव

हो सकता है आपको तनाव और जोड़ों के दर्द में सीधा रिश्ता न नजर आए, मगर शोध बताते हैं कि अगर आप ज्यादा तनाव लेते हैं, तो आपको जोड़ों में दर्द की समस्या हो सकती है। दरअसल तनाव के कारण आपकी तंत्रिकाओं और इम्यून फंक्शन पर असर पड़ता है। रिसर्च बताती हैं कि अगर किसी व्यक्ति को गठिया रोग है, तो तनाव उसके दर्द को और बुरा बना सकता है। इसलिए आपको तनाव से बचना चाहिए। तनाव कम करने के लिए आप ध्यान या एक्सरसाइज कर सकते हैं।

वजन

मोटापा भी आपकी हड्डियों और जोड़ों में दर्द का एक बड़ा कारण हो सकता है। अगर आपका वजन बहुत ज्यादा है, तो भारीपन के कारण आपके जोड़ों पर ज्यादा भार पड़ता है। खासकर पैरों के घुटनों और एड़ियों पर पूरे शरीर का वजन टिका होता है। इसलिए मोटे लोगों को अक्सर पैरों के जोड़ों में दर्द की शिकायत बनी रहती है। अगर आपका वजन भी बहुत ज्यादा है, तो अपना वजन घटाना शुरू कर दें, क्योंकि मोटापे के कारण सिर्फ दर्द नहीं, बल्कि कई जानलेवा रोग भी हो सकते हैं, जिसमें हार्ट अटैक, डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, कैंसर आदि प्रमुख हैं।

इसे भी पढ़ें: गठिया और जोड़ों से हैं परेशान, इस नैचुरल ड्रिंक से निकालें शरीर का यूरिक एसिड

ज्यादा एक्सरसाइज

वैसे तो एक्सरसाइज करना शरीर के लिए फायदेमंद है। मगर यदि आप हाई इंटेंसिटी की एक्सरसाइज अपनी क्षमता से ज्यादा कर लेते हैं, तो इससे आपकी मांसपेशियां डैमेज होती हैं और जोड़ों पर भी असर पड़ता है। इसलिए क्षमता से ज्यादा एक्सरसाइज करना भी जोड़ों में दर्द का एक कारण हो सकता है। अगर आप इस तरह के दर्द से बचना चाहते हैं, तो हमेशा वर्कआउट से पहले 10-15 मिनट स्ट्रेचिंग और हल्की एक्सरसाइज करें।

ओमेगा-3 फैटी एसिड की कमी

ओमेगा-3 फैटी एसिड एक ऐसा पोषक तत्व है, जो आपके दिल को स्वस्थ रखता है। इसके सेवन से शरीर में सूजन की समस्या (इंफ्लेमेशन) दूर होती है और गठिया रोग में भी इसे फायदेमंद पाया गया है। कई बार जब आपका खानपान सही नहीं होता है, तो आपके शरीर में ओमेगा-3 फैटी एसिड की कमी हो जाती है। इसके कारण भी आपके जोड़ों का दर्द बढ़ सकता है।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer