आपके घर में भी हैं कोई बुजुर्ग, तो इन सर्दियों में जरूर ध्यान रखें ये 10 बातें ताकि वो रहें सुरक्षित

सर्दी के मौसम में बुजुर्गों और उनकी देखभाल कर रहे लोगों को इन 10 बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए वर्ना बढ़ती ठंड ऐसे लोगों के लिए खतरनाक हो सकती है।

Monika Agarwal
विविधWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jan 01, 2021Updated at: Jan 01, 2021
आपके घर में भी हैं कोई बुजुर्ग, तो इन सर्दियों में जरूर ध्यान रखें ये 10 बातें ताकि वो रहें सुरक्षित

उम्र चाहे कोई भी हो, शरीर की देखभाल करना और बीमारी को रोकना सबसे महत्वपूर्ण है। हालांकि बुढ़ापे में कई बीमारियों का खतरा ज्यादा होता है। 55-60 साल की उम्र के बाद शरीर की कई क्षमताएं कम होने लगती हैं, जिससे कई तरह की बीमारियां शरीर को घेरने लगती हैं। इनमें लाइफस्टाइल से जुड़ी बीमारियां तो हैं ही, साथ ही कई तरह के इंफेक्शन आदि भी शामिल हैं, जैसे- निमोनिया, ब्रोंकाइटिस, फ्लू, कान में संक्रमण, साइनस, कोविड-19 आदि। इसके अलावा अगर बुजुर्ग अस्थमा, डायबटीज या हार्ट जैसी बीमारी से जूझ रहे हैं तो सर्दियां उनके लिए और भी मुश्किल खड़ी कर सकती है।
जैसे-जैसे हम बड़े होते जाते हैं, हमारा शरीर भी मौसम के अनुरूप प्रतिक्रिया करता है। अगर गर्मी होगी तो हमारे शरीर को गर्मी के अनुरूप ढालना होता है। वहीं जब ठंड का मौसम आता है तो शरीर की प्रतिक्रिया भी अलग हो जाती है और इससे बीमारियों की सम्भावना भी बढ़ जाती है (Risk of health problem)। अधिकतर बुजुर्गों का शरीर युवाओं के शरीर की अपेक्षा जल्दी गर्मी खोने लगता है। उम्र के साथ शरीर में भी बदलाव होते हैं।  

जानिये हाइपोथर्मिया क्या है (Is This hypothermia?)

यदि वयस्क ज्यादा ठंड महसूस कर रहे हैं तो डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है।  यह हाइपोथर्मिया हो सकता है। ऐसे में आपको ठंड के लिए तैयार रहना होगा। डॉक्टर भूपेंद्र सिंह के अनुसार  हाइपोथर्मिया तब होता है जब आपके शरीर का तापमान (Body Temperature) बहुत कम हो जाता है। एक बुजुर्ग व्यक्ति के लिए 95 डिग्री या उससे कम शरीर का तापमान कई स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। इससे उन्हें दिल का दौरा (Heart attack) ,लिवर और किडनी (liver and kidney problem) सम्बन्धी समस्या हो सकती है। शोध के मुताबिक ठंड में बाहर रहने से या बहुत ठंडे घर में रहने से भी हाइपोथर्मिया हो सकता है।

आज हम आपको कुछ ऐसी ही खास टिप्स बताएंगे, जिनको अपनाकर आप सर्दियों के इस मौसम में वयस्कों की केयर कर पाएंगे। इससे आपको उनकी प्रतिरक्षा प्रणाली (strong immunity) को मजबूत करने और बीमारी की संभावना को कम करने में मदद मिलेगी।

winter tips for old people

1. हाइपोथर्मिया से बचाव (Protect Them From Hypothermia)

कोशिश करें कि बुजुर्ग ठंडी जगहों से दूर रहें। ठंड और सीने की जकड़न से बचाने के लिए हफ्ते में दो बार उन्हें भाप दें। वैसे भी भाप लेना साइनस (sinus patient) के रोगियों को इन दिनों में काफी आराम देता है। एक्सपर्ट सलाह देते हैं कि आजकल बुजुर्गों के लिए बहुत सी वैक्सीन उपलब्ध है। 65 वर्ष से अधिक उम्र के वयस्कों को फ्लू और निमोनिया का टीका लगवाएं (Pneumonia Vaccine)। यह टीके हर साल नवंबर या दिसंबर में लगाये जाने बेहद जरूरी हैं।

2. तापमान का रखें ख्याल (Maintain Temperature)

बुजुर्गों के लिए ठंड काफी खतरनाक होती है। दिल की बीमारी वाले लोगों को इससे खाफी परेशानी झेलनी पड़ती है। ठंड के मौसम में हाइपोथर्मिया रोकने के लिए तापमान का विशेष ख्याल रखें। इसके लिए आप घर के सभी खिड़की और दरवाजो को बंद रखें। कमरे को गर्म रखने के लिए रूम हीटर या आग का भी प्रयोग कर सकते हैं, लेकिन इसके प्रयोग के समय जरूरी सावधानियां जरूर बरतें।

इसे भी पढ़ें: कोरोना काल में घर के बुजुर्गों का रखें खास ख्‍याल, एक्‍सपर्ट से जानिए उन्‍हें हेल्‍दी और फिट रखने के उपाय

3. पोषण का भी रखें ख्याल (Take Care of Their Nutrition)

सर्दियों के मौसम में बुजुर्गों के पोषण पर भी नजर रखने की जरूरत है। अक्सर सर्दियों में कम सक्रियता होने के कारण सर्दी-जुकाम होने और विटामिन डी की कमी के हड्डियां कमजोर होने या संक्रामक रोग होने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए पोषक तत्वों की कमी पूरी करने के लिए संतुलित आहार (Balance Diet) लेना जरूरी होता है। उनके खाने का ख्याल रखते हुए ये सुनिश्चित करें कि आप उन्हें विटामिन युक्त फल और सब्जियां भरपूर मात्रा में दें। इसके आलावा आप उन्हें सूप, दूध और ताजे फलों-सब्जियों का रस दें। इससे शरीर को अंदर से गर्माहट मिले और पोषक तत्व भी मिलें।

4. पहनावे में ना हो लापरवाही (Dress According to winter)

सर्दियों के मौसम में बुजुर्गों को अपने पहनावे में बिलकुल भी लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। उन्हें बेहद गर्म ढीले कपड़ों के साथ दस्ताने, टोपी (Gloves and Caps) पहननी चाहिए। ध्यान रखें सर को गर्म रखने के लिए टोपी जरुर लगाएं। क्योंकि शरीर में ठंड सबसे पहले सिर में ही लगती है।

5. न हो पानी की कमी (Intake of Water For Hydration)

सर्दियों के इस मौसम में प्यास कम ही लगती है। सर्दी के मौसम में हवा शुष्क होती है, ऐसे में शरीर में भी सूखापन होने लगता है। आपको जरूरत है कि आप भरपूर मात्रा में पानी पिएं। उम्रदराज लोगों के लिए बेहतर है कि सामान्य के बजाय आप उन्हें गुनगुना पानी (Luke Warm) पीने के लिए दें। दिन में 1-2 बार इस पानी में नीबूं डालकर भी दे सकते हैं।

6. रहें सक्रिय (Light Exercise)

सर्दियों के मौसम में आलस होना जायज है। सारा दिन आपका बिस्तर में रहने का मन करता है। लेकिन वयस्क को इस आलस को छोड़कर थोड़ा सक्रिय (Active) रहने की भी जरूरत है। जानकार भी इस बात की सलाह देंगे कि उम्रदराज लोगों को सक्रिय रहने के लिए रोज व्यायाम करना चाहिए। आप कोई भी व्यायाम करें उससे दिल की गति, ब्लड सर्कुलेशन (Blood Circulation), अवसाद, सुस्ती और दर्द जैसी बीमारियों को दूर रखने में मदद मिले। व्यायाम के लिए ठंड में घर से बाहर न जाएं, बल्कि घर में ही थोड़ा चलें, सीढ़ियां चढ़ें, योगासन करें और बच्चों के साथ खेलें।

winter tips for older people

7. स्किन की करें देखभाल (skin care)

ठंड के मौसम में हमारी स्किन रुखी हो जाती है। शुष्क हवा के चलते स्किन नैचुरल ऑयल (Natural Oil) खोने लगती है। इसके लिए आप उन्हें अच्छा स्किनकेयर प्रोडक्ट दें। जिसे वो अपनी रोज की दिनचर्या में शामिल कर सकें। जिससे उनकी त्वचा स्वस्थ्य और नर्म बनी रहे। आप इस बात का ख्याल भी रखें कि उनके पैरों की एड़ी (Ankles) की भी अच्छी देखभाल हो सके। उसके लिए आप एंटी-क्रैक हील (Anticrack Heeks), स्लीपर्स का इस्तेमाल कर सकें।

8. ज्यादा गर्म पानी न बने मुसीबत (Shower with Warm Water)

सर्द भरे मौसम में गर्म पानी से नहाना अच्छा लगता है। लेकिन गर्म पानी से नहाना आपकी त्वचा के लिए भी नुकसान हो सकता है। गर्म पानी से नहाने के बाद स्किन जल्दी ड्राई होने लगती है और इससे स्किन में क्रैक या एक्जीमा हो सकता है। इससे बचने के लिए आप नहाने के बाद मॉइस्चराइजर या बॉडी लोशन का प्रयोग जरुर करें। इस आदत को अपनी दिनचर्या (Daily Routine) में शामिल करें।

9. बॉडी वार्मिंग पैच (Use of Patch)

सर्दियों में शरीर को गर्म रखने के लिए वयस्क या बुजुर्ग बॉडी वार्मर पहनते हैं। जिसमें लगी रबर से पेट, कमर, कंधे में दर्द होने लगता है। इस तरह के दर्द से छुटकारा पाने के लिए, आप बॉडी वार्मिंग पैच का इस्तेमाल कर सकते हैं। पतली, मुलायम पैच का उपयोग करना आसान है। बस उस हिस्से पर पैच लगाएं जहां आप गर्मी चाहते हैं। पैच से उत्पन्न गर्मी दर्द को ठीक करने में मदद करती है और सर्दियों के मौसम में आपको गर्म रखती है (Patch Keeps You Warm During Winter)।

इसे भी पढ़ें: बुजुर्गों के लिए खाना बनाते वक्त इन 5 चीजों का रखें ख्याल, जानें क्या हैं ये और क्यों है जरूरी?

10. गिरने से बचायें (Protect them from Falling)

एक और जो परेशानी का अक्सर सर्दियों में बुजुर्ग लोग सामना करते हैं वह है गिरने की समस्या। अक्सर बुजुर्ग मोजे पहनकर या स्टॉकिंग्स मानकर चलते हैं। जिससे उनके फिसलने की संभावना बढ़ जाती है। कोशिश करें कि उन्हें ऐसा चप्पल या जूता दिया जाए जिसमें वो आराम से चल-फिर पाएं।

सर्दियों में युवा अपना ख्याल तो अच्छे से रख सकते हैं, लेकिन बात जब बुजुर्गों की या वयस्कों की आती है तो उनका ख्याल रखना सबसे ज्यादा जरूरी होता है। अगर आपके घर में भी बुजुर्ग हैं तो उनकी स्वास्थ्य स्थिति के प्रति सक्रिय रहें। जरूरत पड़े तो आप अच्छे डॉक्टर की सलाह भी ले सकते हैं। साथ ही हमारी बताई हुई टिप्स को जरुर आजमाएं।

डॉक्टर भूपेंद्र सिंह, कार्डियोलॉजी, कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल ,गाजियाबाद से बातचीत पर आधारित।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer