डायबिटीज में क्‍या खाएं क्‍या ना खाएं, जानें ये 10 टिप्‍स

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 30, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • डायबिटीज रोगी सावधानी बरतनी चाहिए
  • कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट कम से कम लेना चाहिए
  • डायबिटीज रोगी को जरूर खाने चाहिए कुछ फूड

डायबिटिक डाइट प्‍लान शुगर पर नियंत्रण रखने में काफी हद तक सहायक सिद्ध हो सकता है। एक डायबिटीज रोगी को अपने भोजन को चुनने में बहुत सावधानी बरतनी चाहिए, जैसे कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट कम से कम लेना चाहिए। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे डाइट के बारे में बता रहें जिसे डायबिटीज रोगी को जरूर खाने चाहिए, जबकि कुछ फूड से दूरी बनाए रखना चाहिए।

क्‍या खाएं

  • डायबिटिक डाइट में ज्यादा फाइबर युक्त भोजन, जैसे छिलके सहित पूरी तरह से बनी हुई गेहूं की रोटी, जई इत्यादि जैसे जटिल कार्बोहाइड्रेट शामिल होनी चाहिए, क्योंकि वे खून के प्रवाह में धीरे-धीरे मिल जाते हैं। इस प्रकार इन्सुलिन उत्पादित ग्लूकोस का बेहतर ढंग से सामना कर सकती है।
  • गेहूं और जौ 2-2 किलो की मात्रा में लेकर एक किलो चने के साथ पिसवा लें। ऐसे चोकर सहित आटे की बनी चपातियां भोजन में खाएं। इसे अपने डाइट में अवश्य शामिल करें।
  • मधुमेह रोगियों के लिए आहार के अंतर्गत सब्जियों में करेला, मेथी, सहजन, पालक, तुरई, शलगम, बैंगन, परवल, लौकी, मूली, फूलगोभी, ब्रोकली, टमाटर, बंदगोभी, सोयाबीन की मंगौड़ी, जौ, बंगाली चना, पुदीना, हल्दी, काला चना, दालचीनी, फलीदार सब्जियां जैसे बीन्स, सैम फली, शिमला मिर्च, हरी पत्तेदार सब्ज़ियां शामिल करें तथा इन सब्जियों से बने पतले सूपों का जितना चाहें उतना सेवन करें।
  • तुलसी के बीज, जैतून का तेल, अलसी, बादाम का भी बेहिचक सेवन करें।
  • मधुमेह में जामुन, नींबू, आंवला, टमाटर, पपीता, सिंघाड़ा, खरबूजा , कच्चा अमरुद, संतरा, मौसमी, ककड़ी ,चुकन्दर , मीठा नीम, बेल का फल, जायफल तथा नाशपाती को शामिल करें। आम ,पका केला ,सेब, खजूर तथा अंगूर में शुगर होता है, लेकिन क्योंकि फलों में फाइबर ज्यादा होता है इसलिए ये अच्छे शुगर की केटेगरी में आते है। जिनको हाई लेवल मधुमेह नहीं है वो इनको कम मात्रा में ले सकते है। इनका जूस बिल्कुल ना पियें क्योंकि उससे फाइबर निकल जाते है। आम की पत्तियों का सेवन भी लाभकारी है, इसके लिए 15-16 पत्तियों को एक कप पानी में उबाल लें और छान कर पियें।

क्‍या ना खाएं

  • डायबिटिक डाइट प्लान में से घी और नारियल का तेल आदि चिकनाई युक्त चीजो को निकाल देना चाहिए। पूरी, कचौड़ी, समोसा, पकौड़े आदि खाने से भी बचना चाहिए।
  • गुड़, शक्कर, मिश्री, चीनी, शर्बत, मुरब्बा, शहद, पिज़्ज़ा, बर्गर, क्रीम रोल,आइसक्रीम तथा ठंडे पेय पदार्थ इस्तेमाल नहीं करने चाहिए।
  • डायबिटीज नियंत्रण करने वाली औषधियों के प्रयोग के दौरान डायबिटीज रोगी भोजन नहीं छोड़ना चाहिए।
  • चिकन को खाने से बचें। डायबिटीज के लिए आयुर्वेदिक नुस्खे।
  • चावल और आलू का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए। खासतौर पर नए सफेद चावल न खाएं।
  • मैदे से बनी सफ़ेद रोटी (नान, तंदूरी रोटी ), नूडल्स, नाश्ते में अनाज, मीठे बिस्कुट, केक, मैगी, पास्ता, ज्यादा प्याज, टमाटर का मीठा सॉस, मीठी दही, परांठे, मैदे से बनी सफेद डबलरोटी एवं पेस्ट्री, कुलचे, बंद, कचौरी, चाट भी न खाएं। शराब, बियर, कॉफ़ी आदि पदार्थो का सेवन न करे।

Read More Articles On Diabetes In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES4081 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर