जिम के साथ योगासन करते हैं तो मिलेगी दोगुनी तेजी से फिटनेस

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 04, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • फिजिकल एक्सरसाइज की पहुंच शरीर के कई अंगों तक नहीं होती है।
  • योग से जिम की थकान और दर्द से राहत मिलता है।
  • योग से रिकवर होंगी बॉडी मसल्स।

फिटनेस के लिए जिम जाना अच्छी बात है लेकिन कई बार लोग सोचते हैं कि जिम जाकर सभी अंगों को फिट रखा जा सकता है। फिजिकल एक्सरसाइज की पहुंच शरीर के कई अंगों तक नहीं होती है इसलिए जिम के साथ योग करने से इसके लाभ दोगुने हो जाते हैं। जिम से जहां आपको फिजिकल फिटनेस मिलती है वहीं योग आपको फिजिकली और मेंटली दोनों तरह से फिट रखते हैं। जिम के साथ कुछ विशेष आसनों को करने से आप अपनी फिटनेस को पहले से बेहतर बना सकते हैं और इससे आपको जिम की थकान और दर्द से भी राहत मिलता है।

योग से रिकवर होंगी बॉडी मसल्स

जिम में शारीरिक मेहनत बहुत ज्यादा होती है इस वजह से मांसपेशियों में खिंचाव होता है और मांसपेशियां मजबूत बनती हैं। लेकिन इस खिंचाव से मांसपेशियों के बहुत से टिशूज टूटते भी हैं जिन्हें शरीर अपने आप ठीक करता रहता है। अगर आप जिम करने के साथ-साथ योग करते हैं तो मसल टिशूज को रिकवर करने की ये प्रक्रिया तेज हो जाती है। इससे अगले दिन जिम जाने पर, पहले टूटे सभी मसल टिशू ठीक रहते हैं।

इसे भी पढ़ें:- मजबूत मसल्स चाहते हैं तो आहार में शामिल करें ये चीजें

इंटरनल इंजरी का खतरा कम हो जाता है

कई बार जिम में छोटी-मोटी गलतियों से या शुरू-शुरू में जिम में ज्यादा मेहनत करने से इंटरनल इंजरी हो जाती है, जिसमें शरीर के अंग दर्द करने लगते हैं। ज्यादातर लोग इसे मेहनत करने से होने वाला दर्द मानकर नजरअंदाज कर देते हैं जबकि कई बार ये किसी तरह की अंदरूनी चोट या खिंचाव भी हो सकता है। योग करने से आपके अंदरूनी अंगों को भी मजबूती मिलती है और इससे इंटरनल इंजरी का खतरा बहुत हद तक कम हो जाता है।

इसे भी पढ़ें:- डोले बनाने के लिए रोजाना घर पर करें ये 9 एक्‍सरसाइज़

सांसों पर कंट्रोल रहता है

जिम में ट्रेड मिल पर दौड़ने से या बाहर कहीं दौड़ने से कई लोगों की सांस जल्द ही फूलने लगती है। इसकी वजह से जबरदस्ती दौड़ने पर उनकी सांस टूटने लगती है। ऐसे लोग ज्यादा देर तक नहीं दौड़ सकते और जल्द ही थक जाते हैं। योग इन स्थितियों से भी आपको बचाता है। प्रणायाम के नियमित अभ्यास से सांसों पर आपका कंट्रोल रहता है और इससे रेस्पिरेटरी सिस्टम भी ठीक रहता है। इसके अलावा ये शरीर के अन्य महत्वपूर्ण अंगों जैसे लंग्स, हार्ट, किडनी आदि के लिए भी फायदेमंद है।

शरीर में लचीलापन आता है

जिम जाने के शरीर के कुछ अंगों में कठोरता आती है जबकि शरीर के लिए लचीला होना कई मायनों में फायदेमंद है। योग के नियमित अभ्यास के आपके अंगों में लचीलापन आता है। इस वजह से मांसपेशियां और हड्डियां मजबूत रहते हैं और जिम करने के बाद उनमें दर्द नहीं होता है। अंगों में कठोरता आपको अच्छी और आकर्षक जरूर लग सकती है लेकिन इससे कोई दुर्घटना या किसी तरह की चोट लगने पर अंगों को नुकसान पहुंचने का खतरा बढ़ जाता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Sports And Fitness In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES983 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर