उबले चावल का पानी है आपकी सेहत, स्किन और बालों के लिए बहुत फायदेमंद, जानें इसके प्रयोग और जरूरी सावधानियां

चावल को उबालने के बाद बचे हुए पानी को आप कई तरीकों से यूज कर सकते हैं। इससे इम्यूनिटी बूस्टर ड्रिंक बना सकते हैं या स्किन बालों के लिए बेहतरीन पैक।

Monika Agarwal
स्वस्थ आहारWritten by: Monika AgarwalPublished at: Sep 14, 2020
उबले चावल का पानी है आपकी सेहत, स्किन और बालों के लिए बहुत फायदेमंद, जानें इसके प्रयोग और जरूरी सावधानियां

ज्यादातर लोग चावल उबालने के बाद इसका पानी फेंक देते हैं। इस चावल के पानी में चावल से निकले कई पोषक तत्व सुरक्षित होते हैं, जिसके कारण इस पानी का सेवन करने से भी कई फायदे होते हैं और सही तरीके से इस्तेमाल करने पर आपके बालों और त्वचा को भी कई फायदे मिलते हैं। अगर आप रेगलर चावल उबालकर बनाती हैं, तो इसका पानी फेंकने के बजाय बचाकर रख लें। ये आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होगा। इस चावल के पानी को फर्मेंट करके आप इम्यूनिटी बूस्ट करने वाला और पाचन सही रखने वाला कांजी ड्रिंक बना सकते हैं। आइए आपको बताते हैं इस चावल के पानी के सभी फायदे (Rice Water Benefits) और इसके सेवन से जुड़ी जरूरी सावधानियां।

rice

बहुत फायदेमंद होता है चावल का पानी

  • शरीर के तापमान को सामान्य करता है
  • कब्ज ठीक करने में सहायक।
  • फर्मेंटेड चावल का पानी आपके पाचन को ठीक करता है।
  • चावल के पानी से मुंह धोने पर स्किन सॉफ्ट बनती है और ग्लो बढ़ता है। यहां तक कि आप चावल के पानी को अपने किसी भी फेस पैक में इस्तेमाल करते हैं।
  • चावल के बचे हुए पानी से बाल धोने से आप के बाल भी लंबे, घने व मुलायम बनते हैं।
  • आप के फेस के बंद पोर्स को खोलने के लिए भी चावल का पानी बहुत सहायक होता है। इसके अन्य फायदों के बारे में जानते हैं विस्तार से।

इसे भी पढ़ेंः ब्लड शुगर चेक करते समय इन 6 गलतियों के कारण रीडिंग आ सकती है गलत, डायबिटीज रोगी बरतें सावधानी

ज्यादा एनर्जी कम कैलोरीज (Gives More Energy in Less Calories)

चावल का पानी पीने से काफी मात्रा में ऊर्जा मिलती है। चाहे आप जिम में पसीना बहाना चाह रहे हैं या सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन करते हुए, घर में वर्कआउट कर रहें हों, इसका सेवन आपके शरीर की एनर्जी लेवल को कम नहीं होने देता। आप  इस पानी का सेवन खाने के एक घंटा पहले व बाद में कर सकते हैं। चावल का पानी आप के शरीर के लिए फायदेमंद होता है। आप की एक मील में लगभग 600-1000 कैलोरीज़ होती है और चावल के पानी के एक कप में 140 कैलोरीज़ होती हैं। कम कैलोरीज़ मात्रा से ही आप का वजन कम होगा।

rice water benefits in hindi

शरीर को शांत करता है (Relax Our Mind)

चावल के पानी से मिलने वाले अन्य लाभों में से एक लाभ है कि यह शरीर व दिमाग को रिलैक्स करता है। ऐसा करने के लिए आप अपने नहाने के पानी में थोड़ा सा चावल का पानी मिला सकते हैं और इस पानी से नहाने से आप को बहुत आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़ेंः डायबिटीज रोगियों के लिए फायदेमंद है 'सदाबहार की पत्तियां', जानें इसके सेवन करने का तरीका

पाचन मे सहायक (Improves Digestion)

वजन कम करने के लिए अच्छा पाचन होना बहुत जरूरी है। आप चाहे कितना ही हेल्दी खाना खा रहे हों, साथ में कसरत कर रहे हों, लेकिन अगर आप का पाचन बिगड़ा हुआ है तो आपका वेट लॉस प्लान खराब हो सकता है। चावल के पानी को रातभर के लिए बंद करके रख दें। सुबह के नाश्ते में इस पानी का सेवन करने से आपका पाचन ठीक रहेगा क्योंकि इस चावल के पानी में फाइबर होता है। यही नहीं ये पानी दस्त को कम करने के लिए भी बेहतरीन औषधि है।

हाइड्रेशन में मदद करता है (Helps In Hydration)

चावल का पानी आप को हाइड्रेटेड रहने में मदद करता है और आप जितना अधिक हाइड्रेटेड रहेंगे, उतना ही आप का शरीर अच्छे ढंग से वर्क आउट कर पाने में सक्षम होगा।और तेजी से वजन कम होगा।

डायबिटीज के मरीजों को नहीं करना चाहिए सेवन

हालांकि हर कोई जिसे डायबिटीज होती है वह ओवर वेट नहीं होता। परन्तु ज्यादातर ऐसा ही होता है। यदि आप अपने शरीर का  8% फैट भी कम कर लेते हैं तो आप बहुत अधिक ग्लूकोज लेवल कम कर सकते हैं। हम वजन कम करने के लिए जिस तरीके का प्रयोग करते हैं वह है एक्सरसाइज करना। चावल के पानी में स्टार्च होता है इसका मतलब है कि शुगर व कार्ब एक साथ आप के शरीर में जाता है। इसलिए डायबिटिक लोगों को चावल का पानी बिलकुल नहीं पीना चाहिए चाहे आप ने चावलों को पानी के साथ बनाया हो या दूध के साथ। आप को इस पानी का प्रयोग बिल्कुल नहीं करना चाहिए। अगर आप वाकई वजन कम करने के लिए सीरियस है तो अगली बार चावल पकाते समय पानी की मात्रा थोड़ी अधिक लें। वजन घटाने और एनर्जेटिक रहने के लिए, इससे अच्छा और आसान तरीका कोई नहीं हो सकता। बस शुगर के पेशेंट इसके सेवन से पहले डॉक्टर से सलाह लें।

Read more articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer