4 गलतियां जिनसे होता है स्किन कैंसर

त्‍वचा कैंसर से जुड़ी गलतफहमी ने इसके विकास के जोखिम को और भी बढ़ा दिया है। लेकिन इस समस्‍या से जुड़ी गलतफहमियों को दूर कर आप अपनी त्‍वचा को स्किन कैंसर के खतरे से बचा सकते हैं।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaUpdated at: Feb 12, 2015 12:02 IST
4 गलतियां जिनसे होता है स्किन कैंसर

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

त्‍वचा कैंसर जिस तेजी से आम हो रहा है, वह वाकई चिंता का विषय है। एक रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका में करीब 35 लाख लोग इस बीमारी से ग्रसित हैं। और हर साल करीब 20 लाख लोग इस बीमारी का इलाज करवाते हैं।

आज भी ज्‍यादातर लोगों का मानना हैं कि त्‍वचा कैंसर के विकसित होने औसत दर बहुत कम हो रही है, लेकिन यह बात सही नहीं हैं। पिछले चार दशकों में मेलानोमा की दरों में 800 प्रतिशत की दर से वृद्धि हुई है। जिसके कारण 25 और 29 के आयु वर्ग की महिलाओं के बीच यह सबसे आम कैंसर बना गया है। इसका मतलब त्‍वचा कैंसर से जुड़ी गलतफहमी ने इसके विकास के जोखिम को और भी बढ़ा दिया है। यहां अक्‍सर की जाने वाली ऐसी ही कुछ त्‍वचा कैंसर की गलतियां की सूची दी गई हैं।

skin cancer in hindi

आनुवंशिक इतिहास नहीं तो जोखिम भी नहीं

कई लोगों का मानना हैं कि परिवार के इतिहास में किसी को समस्‍या न होने पर वह भी पूरी तरह से सुरक्षित होता हैं। हालांकि सच्‍चाई यह है कि आनुवंशिक इतिहास को जोखिम पर प्रभाव पड़ता है लेकिन आपका स्‍वयं का व्‍यक्तिगत इतिहास भी इसमें महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है।

सूर्य के संपर्क में कम आना

सूरज के संपर्क में मेलानोमा का खतरा दोगुना हो जाता है और दुर्भाग्य से, अधिकांश लोग इसके सही संपर्क की राशि से अनजान हैं। लेकिन तथ्य यह है कि 35 साल की उम्र से पहले सूर्य के संपर्क में ना आने से मेलानोमा की आशंका 75 प्रतिशत तक बढ़ जाती है। कैंसर के संबंध में किए गए अध्ययन से यह बात सामने आई है कि सूर्य की तेज किरणें न केवल त्वचा के कैंसर के जोखिम को कम सकती है वह स्तन और फेफड़े के कैंसर को भी नियंत्रित कर सकती हैं।

टैन का स्वस्थ लगना

हालांकि धूप सेंकना से आपको अत्‍यधिक लाभकारी विटामिन डी मिलता है। जो आपके लिए उपयोगी होता है। लेकिन बहुत ज्‍यादा धूप में रहना आपके लिए नुकसानदेह भी हो सकता है। इसलिए टैनिंग आपके लिए स्‍वस्‍थ नहीं है क्‍योंकि यह एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसमें त्‍वचा डीएनए की रक्षा के लिए पिग्‍मेंट पैदा करती है, जो एक क्षति है और इसे पूर्ववत नहीं किया जा सकता।

tanning

एक बार सनस्क्रीन लगाकर भूल जाना

हम में से अधिकांश लोग बाहर धूप में जाने से पहले या स्विमिंग पूल में जाते समय सनस्‍क्रीन लोशन का इस्‍तेमाल करते हैं और सोचते हैं कि हम पूरे दिन के लिए सुरक्षित हो गये। लेकिन ऐसा नहीं है धूप में निकलने से कम से कम 20 मिनट पहले सनस्क्रीन लगाने से ही फायदा मिलता है। ऐसा करने से सनस्क्रीन लोशन आपकी त्वचा में अच्छे तरीके से मिल जाता और सूर्य की किरणों के प्रभाव को बेअसर करने में मददगार होता है और यदि आप स्विमिंग करने जा रहे हैं तो वाटरप्रूफ सनस्क्रीन लोशन का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही अगर आप ज्‍यादा समय बाहर बिताने की योजना बना रहे हैं तो हर दो घंटे के बाद सनस्‍क्रीन लोशन लगाये।

त्वचा कैंसर के विकास के लिए जिम्‍मेदार प्रमुख जोखिम कारक आपके चारों ओर मौजूद हैं। इस समस्‍या से जुड़ी गलतफहमियों को दूर करके आप अपनी त्वचा की रक्षा के लिए बहुत कुछ कर सकते हैं।



Image Courtesy : Getty Images

Read More Articles on Cancer in Hindi

Disclaimer