कैंसर के लिए सबसे असरदार है कीमोथेरेपी, जानें कैसे होती है कीमो और इसके प्रकार

कीमोथेरेपी ड्रग्स वो दवाएं हैं जिनका प्रयोग कैंसर के सेल्स को खत्म करने के लिये किया जाता है। कीमोथेरपी क्या है और यह किस तरह कैंसर के इलाज में कारगर

सम्‍पादकीय विभाग
Written by: सम्‍पादकीय विभागUpdated at: Mar 16, 2020 18:57 IST
कैंसर के लिए सबसे असरदार है कीमोथेरेपी, जानें कैसे होती है कीमो और इसके प्रकार

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है जिसका इलाज कीमोथेरेपी के जरिए किया जाता है। कीमोथेरेपी अब तक की सबसे ज्यादा फायदेमंद थेरेपी में से एक है। ये कैंसर के सेल्स को खत्म करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। जिसके बाद शरीर में कैंसर के सेल्स फैलते नहीं हैं। कीमोथेरेपी का इस्तेमाल कैंसर के आखिरी स्टेज पर भी किया जाता है जिससे की कैंसर को किसी भी तरह से रोका जाए। कीमोथेरेपी के दौरान कैंसर को खत्म करने वाली दवाओं का इस्तेमाल किया जाता है। इन दवाओं से ही ट्यूमर सिकुड़ जाते हैं और कैंसर फैलने से रुक जाते हैं। 

CHEMO

कैंसर और कीमोथेरेपी

शरीर में कैंसर के सेल्स बहुत ही अलग-अलग तरीके से फैलते हैं। इसलिए कीमोथेरेपी के अलग–अलग कैंसर के सेल्स को बढ़ने से रोकने में प्रभावी होते हैं। हर किसी पीड़ित का कैंसर दूसरे से काफी अलग होता है। भले ही किसी का स्टेज लगभग एक ही हो लेकिन उनके शरीर में कैंसर के कितने सेल्स कहां-कहां फैले हैं इस पर निर्भर करते हैं। एंटी कैंसर ड्रग्स को इंजेक्शन या दवाइयों के रूप में भी लिया जा सकता है। 

इसे भी पढ़ें: क्या हैं कान के कैंसर के लक्षण

कीमोथेरेपी कैसे होती है?

कैंसर के रोगियों को जरूरी नहीं कि एक ही तरह से कीमोथेरेपी दी जाए, इसके लिए रोगी पर निर्भर करता है कि उसकी स्थिति क्या है। जिसके बाद ही कीमोथेरेपी दी जाती है। इसमें कई तरीके होते हैं। 

निओएडजुवेंट कीमोथेरेपी: रेडिएशन थेरेपी या फिर सर्जरी के जरिए ट्यूमर को सिकुड़ने वाली एक थेरेपी है।  जिसे निओएडजुवेंट कीमोथेरेपी कहा जाता है। 

एडजुवेंट कीमोथेरेपी: एडजुवेंट कीमोथेरेपी वो थेरेपी होती है जो बची हुई कैंसर सेल्स को मारने के लिए दी जाती है। 

CHEMO

कीमोथेरेपी के फायदे क्या है? 

कई शोध के बाद कीमोथेरेपी को कैंसर के इलाज के लिए सबसे बेहतर माना गया है। कीमोथेरेपी कैंसर के सेल्स को मारने का काम करती है। इसके साथ ही अगर कोई शख्स कीमो करवाता है तो ऐसे में उसको फिर से कैंसर का खतरा होना बहुत कम हो जाता है। कीमो के दौरान लगातार जांच होती है जिससे कि मरीज के शरीर में क्या स्थिति है इसका सही पता चलता है। 

इसे भी पढ़ें: पुरुषों में कैंसर की शुरुआत का संकेत हैं ये 10 लक्षण, रहें सावधान

कीमोथेरेपी के नुकसान 

  • कीमोथेरेपी का इलाज कैंसर से लड़ने के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद है हालांकि इसके बाद आपके बालों को नुकसान जरूर पहुंचता है। कैंसर को खत्म करने के लिए कीमोथेरेपी करवाने के बाद बाल काफी ज्यादा पतले हो जाते हैं जिसकी वजह से काफी ज्यादा बाल झड़ते हैं। इसके बाद बाल दोबारा भी आ जाते हैं। 
  • कीमोथेरेपी के बाद आप पहले अपेक्षा ज्यादा जल्दी थकावट महसूस करेंगे। आपको कीमो के बाद काफी ज्यादा आराम करने का मन करेगा। 
  • कैंसर के इलाज के बाद यानी कीमो के बाद कई बार जी अचानक मचलाने लगता है या फिर उल्टी आने का मन होता है। 
  • कीमोथेरेपी के इलाज के कारण मुंह के अंदर के सेल्स खत्म हो जाते हैं। जिसकी वजह से आपका मुंह लाल हो सकता है और मुंह में घाव पैदा हो सकता है। हो सकते हैं। 
  • कीमोथेरेपी के बाद आपके शरीर में खून की कमी हो सकती है। जिसकी वजह से आप एनीमिया का शिकार हो सकते हैं। 

Read More Articles On Cancer In Hindi 
Disclaimer