पानी में भीगे खजूर और सूखे खजूर में जानें फर्क, कौन-सा है हेल्थ के लिए बेहतर विकल्प

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 09, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

- सूखे खजूर, भीगे खजूर की तुलना में ज्यादा पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं
- भीगे खजूर, सूखे खजूर के मुकाबले ज्यादा नर्म होते हैं
- सूखे खजूर में प्रोटीन और फैट कम होते हैं

इंसान पिछले 4000 सालों से खजूर खा रहा है और उसके स्वास्थ्य सम्बंधी लाभ उठा रहा है। बहरहाल खजूर कुछ बेहद मीठे फलों में शुमार होता है। यह कार्बोहाइड्रेट का बेहतरीन स्रोत है साथ ही यह एनर्जी का भी बहुत अच्छा सोर्स माना जाता है। लेकिन बहुत कम ही लोग यह बात जानते हैं कि फ्रेश और सूखे खजूर खाने के अलग-अलग फायदे हैं। जहां एक ओर सूखे खजूर में लो कंटेंट मोएस्चराइजर होते हैं, वहीं फ्रेश खजूर इसके उलट होते हैं। सूखे खजूर में फ्रेश खजूर या कहें भीगे खजूर की तुलना में ज्यादा पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं। सो, इनके सेवन से पहले यह जानना जरूरी है कि भीगे या सूखे खजूर खाकर आप किस तरह के स्वास्थ्य लाभ हासिल कर रहे हैं।

dates

इसे भी पढ़ेंः इन 8 जानलेवा बीमारियों के लिए श्राप है अजवाइन!

कब तक रहते हैं सुरक्षित

भीगे खजूर, सूखे खजूर के मुकाबले ज्यादा नर्म होते हैं। जबकि सूखे खजूर ऐसे नहीं होते हैं। इसमें कम मोएस्चराइजर होता है। लेकिन सूखे खजूर अगर एयरटाइट डिब्बे में रखे जाए तो इसे आठ माह तक प्रिसर्व किया जा सकता है और अगर फ्रीजर में रखा जाए तो यही सूखे खजूर एक साल तक भी सुरक्षित रह सकते हैं। सूखे खजूर को सूखा रखने के लिए डिहाइड्रेट किया जाता है।

कैलोरी

जब कैलोरी की बात है तो सूखे खजूर में फ्रेश या भीगे खजूर की तुलना में ज्यादा कैलोरी होती है। ड्राई खजूर में 284 कैलोरी पाई जाती है। जबकि इसी साइज की फ्रेश खजूर में मात्र 142 कैलेारी होती है। अगर आप अपना वजन घटाने की सोच रही हैं तो इस लिाहज से ड्राई खजूर आपके लिए ज्यादा उपयोगी है। जबकि फ्रेश खजूर में कैलोरी ज्यादा होने के कारण उससे वजन बढ़ने की संभावना रहती है।

मैक्रोन्यूट्रिएंट्स

ताजे खजूर और सूखे खजूर में अलग-अलग मैक्रोन्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं। मैक्रोन्यूट्रिएंट्स वास्तव में प्रोटीन, फैट और कार्बोहाइड्रेट का मिश्रण होता है। सूखे खजूर में प्रोटीन और फैट कम होते हैं लेकिन कार्बोहाइड्रेट काफी ज्यादा मात्रा में मौजूद होता है। सूखे खजूर फाइबर के भी बेहतर स्रोत माने जाते हैं। आहार विशेषज्ञ और हेल्थ कोच जिल कोरलिन की मानें तो फ्रेश डेट में 1.8 ग्राम प्रोटीन होता है, 1 ग्राम फैट, 37 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 3.5 ग्राम फाइबर होता है। जबकि इसी साइज के सूखे खजूर में इससे भिन्न मात्रा में सभी तत्व पाए जाते हैं। सूखे खजूर में 2.8 ग्राम प्रोटीन, 0.6 ग्राम फैट, 76 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 5 ग्राम फाइबर होता है।

इसे भी पढ़ेंः मार्केट में आया है नया सूपरफूड, जानें...

माइक्रोन्यूट्रिएंट्स

माइक्रोन्यूट्रिएंट्स वो तत्व होते हैं जो हमारे शरीर को कम मात्रा में चाहिए होते हैं जैसे कि मिनरल और विटामिन। सूखे खजूर, फ्रेश खजूर या कहें भीगे खजूर की तुलना में कैल्शियम, आयरन का बेहतर स्रोत होते हैं। लेकिन फ्रेश खजूर में विटामिन सी ज्यादा मात्रा में पाई जाती है। आहार विशेषज्ञ और हेल्थ कोच जिल कोरलिन के मुताबिक सूखे खजूर में 81 मिलीग्राम कैल्शियम, 8 मिलीग्राम आयरन और 0 मिलिग्राम विटामिन सी होता है। विटामिन सी, आयरन और कैल्शियम की तुलना में अस्थिर न्यूट्रिएंट होता है जो कि गर्म होने के कारण या फिर लम्बे समय तक स्टोर करने के कारण नष्ट हो सकता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Healthy Living Related Articles In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES4645 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर