तनाव और फैट को हमेशा के लिए कहें अलविदा

भागदौड़ भरी जिंदगी, काम की अधिकता और व्‍यायाम न करने के कारण तनाव हमारे जीवन का हिस्‍सा बनता जा रहा है, नियमित योग के अभ्‍यास के जरिये इसे आसानी से बचा जा सकता है।

Nachiketa Sharma
वज़न प्रबंधनWritten by: Nachiketa SharmaPublished at: Jul 19, 2014
तनाव और फैट को हमेशा के लिए कहें अलविदा

जिंदगी की भागदौड़ और अस्‍वस्‍थ खानपान की आदतों के कारण शरीर का वजन सामान्‍य से अधिक तो होता ही है साथ ही यह तनाव का भी कारण बनता है। व्‍यस्‍त दिनचर्या और देर रात तक काम और पार्टी के कारण सुबह हम थोड़ा सा वक्‍त व्‍यायाम के लिए नहीं निकाल पाते जिसके कारण हमारा शरीर बीमारियों का घर बन जाता है।

इसलिए शरीर को स्‍वस्‍थ रखने और शरीर की आंतरिक ऊर्जा को जगाने के लिए थोड़ा सा वक्‍त व्‍यायाम और योग के लिए जरूर निकालिये। योग के कई आसन हैं जिनका अभ्‍यास आप आसानी से अपने घर पर कर सकते हैं और इससे आंतरिक ऊर्जा जगाकर शरीर को तनाव मुक्‍त तो बना ही सकते हैं साथ ही शरीर की अतिरिक्‍त चर्बी को भी हमेशा के लिए समाप्‍त कर सकते हैं।
Release Stress in Hindi

ताड़ासन

इसे माउंटेन पोज भी कहते हैं, इस आसन को खड़ा होकर किया जाता है। इसका अभ्‍यास करने से तनाव दूर होता है और शरीर फिट रहता है। इसे करने के लिए दोनों पैरों को आपस में मिलाकर सीधे खड़े हो जायें और दोनों हथेलियों को अपने बगल में रखें। दोनों हथेलियों की अंगुलियों को मिलाकर सिर के ऊपर ले जाइये, हाथों को सीधा रखते हुए सांस भरते हुए हाथों को ऊपर की ओर खींचिए, जिससे आपके कंधों और छाती में खिंचाव आएगा। इसके साथ ही पैरों की एड़ी को ऊपर उठाएं और पैरों की अंगुलियों पर शरीर का संतुलन बनाए रखिए, इस स्थिति में कुछ देर रहें। फिर सांस छोड़ते हुए हाथों को वापस सिर के ऊपर ले आएं। इस आसन को रोज 10-12 बार दोहरायें।

उत्‍तानासन

यह आसन पीठ दर्द और तनाव को दूर कर दिमाग को शांत रखता है। इसे करने के लए दोनों पैर मिलाकर खड़े हो जाएं, दोनों हाथों को सामने की ओर कलाई से क्रास कर लीजिये, अब सांस भरते हुए दोनों हाथों को एक साथ सिर के ऊपर लाएं। गर्दन को पीछे की तरफ मोड़कर हथेलियों की ओर देखें। फिर सांस छोड़ते हुए दोनों बाजुओं को कंधों की सीध में लाएं, सांस भरते हुए हाथों को फिर से सिर के ऊपर लेकर आएं। यह अभ्‍यास रोज 10-12 बार करें।

अधोमुख शवासन

यह आसन रक्त संचार की प्रक्रिया को सुचारू करता है, इससे साइनस, मानसिक थकावट, अवसाद और अनिद्रा की शिकायत से छुटकारा मिलता है। इस आसन को करने के लिए पेट के बल लेट जाएं। अपने सिर को जमीन से लगाकर रखें और दोनों पैरों के बीच करीब एक फुट का अंतर रखिये। पैरों की उंगलियां ऊपर की ओर होनी चाहिएं। अपनी हथेलियों को छाती के बगल में रखें। अब सांस छोड़िए और अपने कूल्‍हों को ऊपर की ओर उठाइए। अपने सिर को अपनी बाहों के बीच झूलता न छोड़ें, उसे बांहों से दबाकर रखें। इस आसन को 5 से 6 मिनट के लिए रोजाना कीजिए।
Discard Fat Forever in Hindi

शवासन

यह आसन दिमाग को शांत करता है और शरीर को फिट रखने में मददगा है। इस आसन को करना बहुत ही आसान है। इसके लिए आप चटाई बिछाकर उपर पीठ के बल लेट जाएं और हाथ-पांव को थोड़ा बाहर की तरफ सीधा रखें। अपने शरीर के हर अंगों को आराम करने दें। इस आसन को आप किसी भी समय कर सकते हैं। नियमित इसे 5-6 मिनट कीजिए।

अगर आप अपनी व्‍यस्‍त दिनचर्या से थोड़ा सा वक्‍त योग और व्‍यायाम के लिए देंगे तो इसके कारण आपका शरीर स्‍वस्‍थ रहेगा और आप बीमार भी नहीं पड़ेंगे।

 

Read More Articles on Weight Management in Hindi

Disclaimer