21 जून को पूरी दुनिया में अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2019 (International Yoga Day 2019) मनाया जाएगा। इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी पहले से ही लोगों में जागरूकता फैला रहे हैं।  

"/>

International Yoga Day 2019 : वज्रासन से ब्‍लड सर्कुलेशन और पाचन क्रिया में होता है सुधार, पीएम मोदी ने किया ट्वीट

21 जून को पूरी दुनिया में अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2019 (International Yoga Day 2019) मनाया जाएगा। इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी प

सम्‍पादकीय विभाग
Written by: सम्‍पादकीय विभागUpdated at: Apr 08, 2022 17:33 IST
International Yoga Day 2019 : वज्रासन से ब्‍लड सर्कुलेशन और पाचन क्रिया में होता है सुधार, पीएम मोदी ने किया ट्वीट

अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2019 (International Yoga Day 2019) को सार्थक बनाने की पीएम नरेंद्र मोदी की मुहिम लगातार जारी है। वह सोशल मीडिया के माध्‍यम से रोजाना एक योगासन के वीडियो को जनता तक पहुंचा रहे हैं। उन्‍होंने इस बार वज्रासन योग करने का तरीका और उसके फायदे बताए हैं। वज्रासन को Thunderbolt Posture भी कहते हैं। वज्रासन को ध्‍यान मुद्रा में किया जाना चाहिए। ध्‍यान मुद्रा में इसका अभ्‍यास करते समय अपनी आंखों को बंद रखें। आइए इस लेख में वज्रासन योग के बारे में विस्‍तार से जानते हैं। 

 

वज्रासन करने की विधि  

  • इस आसन को करने के लिए सबसे पहले दण्‍डासन की मुद्रा में आना होगा, जिसके लिए अपने दोनों पैरों को सामने की ओर फैलाकर सीधे बैठें।  
  • अब अपने हाथों को अपने कूल्‍हों के पास रखें। ये ध्‍यान रखें कि आपके शरीर का वजन आपके हाथों पर न पड़े। 
  • अब अपने दांए पैर को मोड़ें और दाएं कूल्‍हे के नीचे रखें और फिर अपना बांया पैर मोड़कर बांए कुल्‍हे के नीचे रखें। 
  • सुनिश्चित करें कि आपकी जांघे सटी हुई हों और आपके अंगूठे आपस में जुड़े हुए हों। 
  • अब अपने हाथों को घुटनों पर रखें। सुनिश्चित करें कि आपकी ठोड़ी आपके समानान्‍तर हो। 
  • अपना मेरूदंड सीधा रखें और शरीर को ढीला छोड़ें। अब सामान्‍य रूप से सांस लें और छोड़ें। और कुछ देर तक आराम से रहें। 
  • कुछ देर वज्रासन में बने रहने के बाद अपने शरीर को दांयी ओर छुकाते हुए बांये पैर को सीधा करें। इसी प्रकार से शरीर को बांयी ओर झुकाते हुए अपने दांये पैर को सीधा करें। 
  • कुछ देर दण्‍डासन में बैठने के बाद आसन को विराम दें। 

सावधानी

यदि आपके घुटनों में दर्द हो या टखनों में चोट लगी हो तो इस आसन को न करें। इसके अलावा बवासीर के रोगियों को ये आसन नहीं करना चाहिए। 

वज्रासन करने के फायदे 

  • वज्रासन से आपकी जांघों और पिंडलियों की मांसपेशियां मजबूत बनती है। 
  • वज्रासन आपकी पाचन क्रिया को मजबूत बनाता है। 
  • वज्रासन आपके पैरों की नसों को मजबूत बनाता है। 
  • वज्रासन से पीठ के निचले हिस्‍से में हो रहे दर्द सायटिका में राहत दिलाता है। 
  • वज्रासन रीढ़ की हड्डी को दृढ़ता पूर्वक सीधा रखने में आपकी मदद करता है। 
Read More Articles On Yoga In Hindi  
Disclaimer