जानें, दिल की सेहत के लिए कितना जरूरी है योग?

अगर आप भी इस बात को जानने की इच्‍छुक है कि दिल की सेहत के लिए कौन से योग करने चाहिए और यह कैसे असर करते हैं तो आइए जानें।

Pooja Sinha
योगाWritten by: Pooja SinhaPublished at: Jun 04, 2017
जानें, दिल की सेहत के लिए कितना जरूरी है योग?

मेरे पड़ोस में रहने वाले शर्मा अंकल की उम्र 45 है। उनकी हार्ट रेट सामान्‍य से तेज रहती है और सांस फूलने लगती है। जब उन्‍होंने कोलेस्‍ट्रॉल चैक करवाया तो पता चला कि उनका कोलेस्‍ट्रॉल बढ़ा हुआ है। डॉक्‍टर ने उन्‍हें योग करने की सलाह दी। दिल की सेहत को बेहतर बनाने के लिए कौन से योग सही रहते हैं और वह कैसे असर करते हैं। अगर आप भी इस बात को जानने की इच्‍छुक है कि दिल के लिए कौन से योग बेहतर है तो आइए जानें।

तेजी से फैल रही इस बीमारी में दिल की धड़कनों को दगा देने के मामले सामने आ रहे हैं। परेशानी की बात यह है कि इस पर ध्यान न देने से बीमारी गंभीर हो जाती है और कई बार लाइलाज स्तर पर पहुंच जाती है। इसलिए वक्‍त रहते इसको कंट्रोल में रखना बेहद जरूरी होता है।

heart health in hindi

इसे भी पढ़ें : दिल की बीमारियों के लिए योगासन

दिल के लिए योग

योग पूरे शरीर को स्‍वस्‍थ रखने का बहुत ही अच्‍छा तरीका है। यदि आप नियमित योग के आसन करते हैं, तो आपको कई खतरनाक बीमारियां नहीं होती हैं। योग से दिल को भी मजबूत रखा जा सकता है, और दिल की बीमारियों से बचाता है। योग के आसन के दौरान आप तेजी से सांसें लेते हैं जिससे दिल तेजी से घड़कता है और ब्‍लड सर्कुलेशन अच्‍छे से होता है। इसलिए यदि आप दिल को स्‍वस्‍थ रखना चाहते हैं तो योग कीजिए।

हमारे देश में दिल के दौरे की समस्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। हर साल इस समस्‍या के चलते लाखों लोग असामयिक मौत के मुंह में चले जाते हैं। हृदय रोग के बढ़ने की सबसे बड़ी वजह है, लोगों का अपनी सेहत को हल्के में लेना है। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग अपने काम को ज्यादा प्रथामिकता देते हैं। लेकिन जरा सोचिए अगर आप स्वस्थ नहीं रहेंगे तो काम कैसे कर पाएंगे। ऐसे में अगर आप थोड़ा सा समय योग के लिए निकालें तो आप अपने दिल को चुस्त-दुरुस्त रख पाएंगे। आइए जानें दिल के रोगों में कौन से कौन योग करना चाहिए।

कौन-कौन से योग है फायदेमंद

दिल की सेहत के लिए योग वाकई फायदेमंद है। कम उम्र से ही लगातार योग करना कई दिल से जुड़े रोगों की आशंका को कम कर सकता है।

  • शीतली भ्रामरी
  • नाड़ी शोधन प्राणायाम
  • ताड़ासन
  • त्रिकोणासन
  • अधोमुखश्वानासन
  • भुजंगासन
  • धनुरासन
  • सेतुबंधासन

लेकिन किसी भी तरह के व्यायाम या योगासन को करने से पहले विशेषज्ञ की सलाह और उनकी देखरेख में करना बेहद जरूरी होता है।

इसे भी पढ़ें : हृदय रोग से बचने के लिए लाइफस्टाइल बदलें

दिल के लिए योग करने के फायदे

  • नियमित योग से फेफड़े मजबूत होते हैं, श्वास प्रक्रिया बेहतर होती है, जो दिल के लिए भी फायदेमंद साबित होता है।
  • योग से हाई ब्‍लड प्रेशर की समस्या में राहत मिलती है।
  • जब हम योगासन करते हैं तो हमारी चेतना, श्वास और शरीर एक साथ एकाग्रता से कार्य करते हैं। इससे मेटाबॉलिक रेट घटता है और ब्लड प्रेशर कम होता है।
  • ध्यान, योग और प्राणायाम से तनाव कम करने में मदद मिलती है। हृदय गति नियमित होती है। कोलेस्ट्रॉल भी कम किया जा सकता है।
  • योग से शरीर में ब्‍लड सर्कुलेशन तेज होता है और ब्‍लड को शरीर के सभी हिस्सों तक पहुंचाने में ज्यादा ताकत नहीं लगानी पड़ती।
  • हृदयाघात से उबर रहे मरीज के लिए भी योगासन बेहद फायदेमंद है।
  • हल्की एरोबिक्स व नियमित योग से दिल की सेहत में सुधार होता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image Source : Shutterstock.com

Read More Articles on Yoga in Hindi

Disclaimer