डार्क सर्कल को रातों-रात दूर करेगा ये जादुई नुस्खा, जानने के बाद कहेंगे 'शुक्रिया'

आंखों के नीचे काले घेरे यानि कि डार्क सर्कल की समस्या किसी को भी हो सकती है। ये सच है कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं को ये समस्या जल्दी भी होती हैं और वह इन्हें लेकर जल्दी परेशान भी हो जाती हैं।

Rashmi Upadhyay
फैशन और सौंदर्यWritten by: Rashmi UpadhyayPublished at: May 29, 2018
डार्क सर्कल को रातों-रात दूर करेगा ये जादुई नुस्खा, जानने के बाद कहेंगे 'शुक्रिया'

आंखों के नीचे काले घेरे यानि कि डार्क सर्कल की समस्या किसी को भी हो सकती है। ये सच है कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं को ये समस्या जल्दी भी होती हैं और वह इन्हें लेकर जल्दी परेशान भी हो जाती हैं। डार्क सर्कल होने के कई कारण हो सकते हैं। वैसे अक्सर यह खराब खानपान, लाइफस्टाल में योग और एक्सरसाइज की कमी और टेंशन की वजह से होते हैं। लोग इनसे छुटकारा पाने के लिए मार्किट में तरह तरह के ब्यूटी प्रॉडक्ट्स और दवाएं ढूंढते हैं। लेकिन ये सब चीजें कुछ समय तक तो फायदा करती है लेकिन उसके बाद स्थिति पहले से भी बेकार हो जाती है। आज हम आपको डार्क सर्कल से छुटाकरा पाने के लिए कुछ ऐसा नुस्खा बता रहे हैं जिन्हें अपनाने के बाद आपको वाकई फायदा होगा।

नींबू और कपूर का पेस्ट

जी हां, सही सुन रहे हैं आप। ये दोनों चीजें ऐसी हैं जो अगर आपस में मिल जाएं तो डार्क सर्कल का जड़ से सफाया कर देती हैं। इसे लगाने से पहले आपको एक मिश्रण तैयार करना है। इसके लिए करीब आधे नींबू के रस में एक छोटे कपूर का चूर्ण डालें। अब इसे अच्छी तरह मिलाएं और रात को डार्क सर्कल पर लगाकर सो जाएं। आपको खुद एक रात में ही फर्क दिखेगा।

इसे भी पढ़ें : आंखों के नीचे काले घेरों को 5 दिन में ठीक करेगा पपीता, जानें कैसे करें प्रयोग

ये भी है अच्छा तरीका

विटामिन सी मस्तिष्क में एक रसायन सेराटोनिन के बनने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और सेराटोनिन नामक रसायन हमारी नींद के लिए ज़रूरी है। इसमें मोजूद कोलाजेन, आखों लिगामेंट्स आदि को मजबूत बनाती है। विटामिन सी पलकें घनी होती हैं और ब्लड कंजेशन के कारण आंखों के नीचे की त्वचा के बदरंग होने को कम करता है। सिट्रस फल, बेरीज़, तरबूज़ – खरबूज़ा और दूसरी रंगीन सब्ज़ियों में विटामिन सी पाया जाता है।

जादू है त्रिफला

आयुर्वेद के अनुसार, त्रिफला में कई स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक गुणों के कारण यह पाचन क्रिया के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। साथ ही इसका सेवन आंखों के लिए लाभकारी माना जाता है। अगर आप आंखें धोने के लिए त्रिफला का इस्‍तेमाल करते हैं, तो इससे भी आपकी आंखों को बहुत फायदा होगा। त्रिफला तीन हर्बल उत्‍पादों आंवला, हरतकी और बिहितकी से मिलकर बनता है। यह नेचुरल ब्‍लड प्‍यूरीफायर और आई टॉनिक है। यह आंखों के आसपास की मांसपेशियों को अच्‍छी तरह काम करने में मदद करता है।

इसे भी पढ़ें : गर्मियों में पाएं बेदाग और खूबसूरत चेहरा, अपनाएं ये 5 आसान घरेलू नुस्खे

 

क्यों होते हैं डार्क सर्कल

  • जिन महिलाओं में हीमोग्‍लोबिन का स्‍तर 10 से कम होता है उनमें आंखों के नीचे काले घेरे होने की संभावना अधिक होती है। यदि हीमोग्लोबिन का स्तर दवा व आहार से नियंत्रित कर लिया जाए, तो काले घेरे की समस्या स्वयं चली जाती है।
  • पिगमेंटेशन की समस्या के कारण त्वचा टोन असमान बनाती हैं। और यह असमान रंगत आंखों के नीचे काले घेरों का कारण बनती हैं।
  • एलर्जी के कारण भी समस्या हो सकती है। यह किसी सामग्री या खान-पान की चीज के प्रति रिएक्शन है जो आंख में खारिश पैदा करता है। और आंखों के आस-पास की त्वचा को रगड़ने या खरोंचने से भी डिस्कलरेशन हो जाता है।
  • कई बार यह समस्या सन एक्सपोजर के कारण हो जाती है। सन एक्सपोजर से मैलेनिन के बनने में बढ़ोत्तरी हो जाती है  जिससे आंखों के नीचे काले घेरे बन सकते हैं।
  • कुछ दवाएं रक्त वाहिनियों को चौड़ा करती हैं जो डार्क सर्किल्स का कारण बनती हैं। ब्लड प्रेशर और नसल डिकंजेशन ड्रग्स इसके उदाहरण माने जा सकते हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें : ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles on Beauty in Hindi

Disclaimer