स्वादिष्ट के साथ सेहतमंद भी है इडली, मिलते हैं ये 5 फायदे

इडली में ढेर सारे प्रोटीन्स, विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं इसलिए इसे खाने से आपके शरीर को पोषण मिलता है। इडली को उड़द की दाल और चावल से बनाया जाता है। उड़द की दाल में उच्‍च मात्रा में फाइबर होता है। इसके अलावा इसमें 26% प्रोटीन, विटामिन बी1, व

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Feb 15, 2018
स्वादिष्ट के साथ सेहतमंद भी है इडली, मिलते हैं ये 5 फायदे

साउथ इंडियन खानों यानि इडली, डोसा, सांभर, उत्पम आदि के दीवाने आपको देश के लगभग हर हिस्से में मिल जाएंगे। ये सभी खाने जितने स्वादिष्ट होते हैं उतने ही सेहतमंद होते हैं। इसका कारण इनके बनाने का तरीका और इन्हें बनाने में प्रयोग होने वाली सामग्री है। इडली एक ऐसा ही साउड इंडियन फूड है जो उड़द की दाल और चावल से बनती है। साथ ही इसे बनाने में भाप का प्रयोग होता है इसलिए ये स्वादिष्ट और सुपाच्य होती है। इडली में पाई जाने वाली पौष्टिकता के कारण इसे खाने से हमारी सेहत को कई लाभ मिलते हैं।

विटामिन्स और प्रोटीन

इडली में ढेर सारे प्रोटीन्स, विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं इसलिए इसे खाने से आपके शरीर को पोषण मिलता है। इडली को उड़द की दाल और चावल से बनाया जाता है। उड़द की दाल में उच्‍च मात्रा में फाइबर होता है। इसके अलावा इसमें 26% प्रोटीन, विटामिन बी1, विटामिन बी2, विटामिन बी6 और ढेर सारे मिनरल्‍स होते हैं। एक मीडियम साइज इडली में लगभग 2 ग्राम प्रोटीन होता है जबकि सामान्य व्यक्ति को लगभग 50 ग्राम प्रोटीन की जरूरत होती है।

इसे भी पढ़ें:- आहार में शामिल कीजिए जौ का आटा, बीपी, शुगर और दिल की बीमारियां रहेंगी दूर

लो कैलोरी होती है इडली

इडली को बनाने में भाप का प्रयोग होता है इसलिए इसमें कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है। एक मीडियम साइज की इडली में लगभग 39 कैलोरीज होती हैं। इसके अलावा इडली में न तो कोलेस्ट्रॉल होता है और न ही सैचुरेटेड फैट इसलिए इसे खाना सेहतमंद होता है। रोजाना 16 ग्राम से कम सैचुरेटेड फैट और 300 मिलीग्राम से कम कोलेस्ट्रॉल के सेवन से दिल की बीमारियों और स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है।

ब्लड प्रेशर रहता है कंट्रोल

शरीर के ब्लड प्रेशर के लिहाज से भी इडली खाना आपके लिए बहुत फायदेमंद है क्योंकि इसमें सोडियम की मात्रा भी बहुत कम होती है। एक मीडियम साइज इडली में लगभग 65 मिलीग्राम सोडियम होता है जबकि 2300 मिलीग्राम सोडियम प्रतिदिन से कम का सेवन सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। इसके अलावा इसमें कोलेस्ट्रॉल कम होने से भी इससे ब्लड प्रेशर की समस्या नहीं आती है।

इसे भी पढ़ें:- हेल्‍दी ओट्स इडली की रेसिपी

फाइबर और कार्बोहाइड्रेट्स

इडली को बनाने में उड़द की दाल का प्रयोग होता है और इसमें ढेर सारा फाइबर और कार्बोहाइड्रेट होता है। सुबह के नाश्ते में इडली खाना स्वास्थ के लिहाज से बहुत फायदेमंद होता है। एक मीडियम साइज इडली में 2 ग्राम डाइट्री फाइबर और 8 ग्राम कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं। इसके अलावा इडली में मौजूद प्रोटीन्स से मसल्स रिपेयर होती हैं और कार्बोहाइड्रेट से एनर्जी मिलती है। फाइबर से हमारा पाचन ठीक रहता है।

बनाने की विधि से बढ़ जाता है पोषण

इडली को भाप से पकाकर बनाते हैं इसलिए इसके गुण कई गुना बढ़ जाते हैं। चावल को जब पानी के बजाय भाप से पकाया जाता है तो पके चावल की अपेक्षा इसमें बहुत कम फैट होता है, जो कि शरीर के लिए जरूरी भी है। इसके अलावा उड़द की दाल तो होती ही सेहतमंद है। इडली के साथ अगर आप दालों और सब्जियों से बना सांभर और नारियल की चटनी भी खाते हैं तो इससे स्वस्थ लाभ और भी बढ़ जाते हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Healthy Eating in Hindi

Disclaimer