जानें कैसे स्वास्थ्य को प्रभावित करता है साइबर सिकनेस

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 20, 2015
Quick Bites

  • साइबर सिकनेस को “डिजिटल मोशन सिकनेस” भी कहा जाता है।
  • इसमें कंप्यूटर की स्क्रीन के सामने बैठने के दौरान आते हैं चक्कर।
  • बिना मूवमेंट के दिमाग को शरीर में मूवमेंट का होता है अहसास।
  • कम नींद और अस्वस्थ खान-पान इस बीमारी की सबसे बड़ी वजह।

अभी तक स्मार्टफोन की लत और मोबाइल की रिंगटोन के डर के बारे में बात हो रही थी। लेकिन अब साइबर सिकनेस नाम की बीमारी ने भी हमला कर दिया है। इस हमले ने चिकित्सकों और मनोवैज्ञानिकों को भी हैरान कर दिया है जिससे जाहिर हो जाता है कि ये काफी चिंतनीय स्थिति है। हालत इसलिए भी गंभीर हो रही है क्‍योंकि कंप्‍यूटर पर काम करने वालों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है। बच्‍चे से लेकर बूढ़े तक घंटों कंप्‍यूटर के सामने बिताते हैं। आइए इस लेख में साइबर सिकनेस के बारे में विस्‍तार से चर्चा करते हैं।
साइबर सिकनेस

कंप्यूटर स्क्रीन से लगता है डर

कई बार सुनने में आता है कि फलाना इंसान को कार की स्पीड से डर लगता है। किसी को पहाड़ की ऊंचाई से तो किसी को समुद्र की गहराई को देखकर डर लगता है। लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि किसी इंसान को कंप्यूटर के सामने बैठ कर डर लगता है?

  • हां, ऐसा हो रहा है। कुछ लोगों में हाल ही में ये समस्या देखने को मिल रही है कि उन्हें कम्प्यूटर की स्क्रीन के सामने बैठते ही चक्कर आने लगते हैं।
  • विशेषज्ञ इसकी वजह नींद पूरी ना होने औऱ कम नींद को मान रहे हैं। साथ ही आज की बदलती जीवनशैली में अव्यवस्थित खान-पान भी इसकी वजह है।
  • डिजिटल मोशन सिकनेस - वहीं दूसरी तरफ कोवेंट्ररी यूनिवर्सिटी के साइकलोजिस्ट व मस्तिष्क शोधकर्ता “सिरिल डाइल्स” कहते हैं कि अगर आपको कम्प्यूटर स्क्रीन पर घण्टों काम करने के बाद चक्कर आना व सिर भारी होना जैसी शिकायते होती हैं तो आप “डिजिटल मोशन सिकनेस” के शिकार हैं।
  • ये समस्या बिल्कुल उसी तरह है जब आपको कार, बोट या हवाई जहाज से यात्रा करते हुए सिर घूमने व चक्कर आने जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। बिल्कुल इसी तरह जब आप कम्प्यूटर स्क्रीन के सामने बैठते हैं और स्क्रीन पर स्क्रोल अप और स्क्रोल डाउन जैसी एक्टीविटी करते हैं तब आपको चक्कर आने जैसा एहसास हो तो आप डिजिटल मोशन सिकनेस या साइबर सिकनेस के शिकार हैं।

 

चिंताजनक स्थिति

शरीर के बिना मूवमेंट के दौरान जब हमारा दिमाग यह मानने लगे कि वो रफ्तार में चल रहा है तो स्थिति चिंताजनक है। ऐसी स्थिति में दिमाग और शरीर के बीच में कशमकश बनी रहती है जो आपके शरीर के स्थिर रहते हुए भी आपको मूवमेंट होने का एहसास दिलाती है।

साइबर सिकनेस के लक्षण

  • सिर में दर्द होना
  • चक्कर आना
  • नींद ना आना
  • आखों में जलन होना
  • ज्यादा मात्रा में शरीर से पसीना आना
  • चीजों पर फोकस नहीं कर पाना

 

साइबर सिकनेस से बचाव के उपाय

  • कम्प्यूटर स्क्रीन पर काम करते वक्त बीच बीच में कुछ समय का ब्रेक लें।
  • बहुत ज्यादा लम्बे समय तक मूवी ना देखें और वीडियो गेम ना खेलें।
  • स्क्रीन पर लम्बे समय तक फोकस करने से बचें।
  • चक्कर आने से बचने के लिए कुछ मीठी चीज़ खाते रहें।
  • आंखों को बीच बीच में ठंडे पानी से धोते रहें।
Loading...
Is it Helpful Article?YES2 Votes 2406 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK