सांस की जांच से कैंसर समेत 16 बीमारियों का चल सकेगा पता!

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 02, 2017

प्राचीन यूनानी चिकित्सकों का कहना था कि हमारी सांस हमारी सेहत का बहुत बड़ा आईना होती है। लेकिन इजराइल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ने इस बात को साबित कर दिखाया है।

उन्होंने एक ऐसी डिवाइस विकसित की है जोकि सांस से नैनोपार्टिकल्स का प्रयोग करके कैंसर और पार्किंसन समेत 17 विभिन्न बीमारियों की पहचान कर सकती है। हालांकि ये मशीन अभी क्लीनकल जांच के लिए एकदम सटीक नहीं है लेकिन इससे इन बीमारियों के शुरुआती चरण में पहचान की उम्मीद दिखी है।


breath test  

चिकित्सक किफायती और नॉन इनवेसिव उपकरण की मदद से जल्द ही मरीजों में पार्किंसन और विभिन्न तरह के कैंसर समेत 17 भिन्न और असंबद्ध बीमारियों के खतरे का पता लगाने में सक्षम होंगे। इजरायल के अनुसंधानकर्ताओं द्वारा विकसित उपकरण की मदद से सांस के नमूनों से ही इन बीमरियों के खतरों का पता लगाया जा सकेगा।

सांस के नमूनों पर आधारित क्लीनकल तकनीक का अतीत में कई बार प्रदर्शन किया जा चुका है लेकिन अब तक इस परिकल्पना से जुड़ा कोई वैज्ञानिक साक्ष्य नहीं मिल सका था कि भिन्न और असंबद्ध बीमारियों का निर्धारण सांस के आधार पर हो सके। इस तरह के क्लीनकल जांच के लिए अब तक विकसित की गयी तकनीक से बहुत कम छोटे स्तर पर ही ऐसा हो पा रहा था। इस अध्ययन का प्रकाशन एसीएस नैनो ने किया है।




Image Source: Daily Mail&TreeHugger
NewS source: engadget

Loading...
Is it Helpful Article?YES1701 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK